टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

हिंदी वालों के लिए खास फ़ाइल संपीडन औजार यानी ज़िप टूल - हिंदीज़िप

image

बाजार में यूँ तो दर्जनों ज़िप टूल हैं. फिर मैं क्यों हिंदीज़िप का इस्तेमाल करूं?

तो, सबसे पहली बात तो यह कि इसे खास हिंदी वालों के लिए बनाया गया है और इसका इंटरफ़ेस हिंदी में ही है. साथ ही यह तेज-तर्रार, नो-नॉनसेंस किस्म का ज़िप टूल है. और यह पूरी तरह निःशुल्क है.

इसे खासतौर पर हिंदी भाषा-भाषी उपयोगकर्ताओं की समस्याओं को ध्यान में रखकर हिंदी भाषा के जाने माने कंप्यूटिंग विशेषज्ञ बालेंदु दाधीच ने तैयार किया है.

हिंदीज़िप की कुछ और विशेषताएँ -

हिंदीज़िप एक सरल, सुगम किंतु शक्तिशाली फ़ाइल कम्प्रेशन सॉफ्टवेयर है। इसकी खास विशेषताएँ हैं-
- यह एक फ़्रीवेयर (निःशुल्क सॉफ्टवेयर है)


- यह आपकी सामग्री को पासवर्ड-सुरक्षित करने की सुविधा देता है।


- सिर्फ एक बार पासवर्ड बताने की ज़रूरत है, हर बार नहीं। पासवर्ड बदलना भी आसान है।


- यह ड्रैग एंड ड्रॉप आधारित है। ज़िप या अनज़िप करने के लिए फ़ाइल/फ़ोल्डर को बस ड्रैग एंड ड्रॉप करें।


- ज़िप-अनज़िप सुविधा मेनू के माध्यम से भी उपलब्ध है।


- इसका फॉरमैट विंडोज़ फाइल कम्प्रेशन, विनज़िप आदि अन्य फ़ाइल कम्प्रेशन सॉफ्टवेयरों के अनुकूल (Compatible) है। यानी उनकी फ़ाइलों को हिंदीज़िप में तथा हिंदीज़िप की फ़ाइलों को उन सॉफ्टवेयरों में खोलना संभव है।

 

इसके नाम में 'हिंदी' क्यों है?

- हिंदीज़िप यूनिकोड एनकोडिंग का पूर्ण समर्थन करता है इसलिए हिंदी यूनिकोड में बनी फ़ाइलों को त्रुटि के बिना ज़िप या अनज़िप करने में सक्षम है। वह पुराने हिंदी फ़ॉन्ट्स में बनी फ़ाइलों को भी आराम से ज़िप करता है। हालांकि यूनिकोड एनकोडिंग आधारित होने के कारण वह अन्य भाषाओं की फ़ाइलों के भी अनुकूल है।


- हिंदीज़िप का इंटरफ़ेस (चेहरा-मोहरा, मेनू और संदेश आदि) हिंदी में हैं।


- यह हिंदी के उपयोक्ताओं को विशेष रूप से लक्ष्य बनाकर विकसित किया गया है। हालाँकि ऐसे अन्य भाषा-भाषी भी इसका प्रयोग कर सकते हैं जिन्हें हिंदी इंटरफ़ेस के प्रयोग में कोई दिक्कत नहीं है

इसका बीटा संस्करण यहाँ - http://www.balendu.com/labs/hindizip/  से डाउनलोड करें.

टीप - जाँच परख के दौरान इस सॉफ़्टवेयर से जिप किए गए हिंदी नामधारी फ़ाइल और फ़ोल्डर तो इस सॉफ़्टवेयर से आसानी से और सही तरीके से अनजिप हो गए परंतु अन्य तृतीय पक्ष के ज़िप टूल जैसे कि विनरार में खोलने पर त्रुटि दर्शाया गया.

आप भी इसे डाउनलोड करें और आजमाएँ और सॉफ़्टवेयर में किसी तरह की समस्या की रिपोर्ट करने या सुविधा निवेदन हेतु सहायता मेनू में दिए गए सम्पर्क लिंक का प्रयोग करें. याद रखें, उपयोगकर्ताओं के फ़ीडबैक से ही सॉफ़्टवेयर समृद्ध बनते हैं.

एक टिप्पणी भेजें

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन क्या आईपीएल, क्या बॉस का पारा, खेल है फ़िक्स्ड सारा - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

प्रयोग करते हैं..मैक में तो नहीं हो पायेगा।

कमाल का जिप टूल। आभार :)

नये लेख : 365 साल का हुआ दिल्ली का लाल किला।

बेनामी

kya hindi ke alawa aur bhi bhasho ka aisa s/w hai?

प्रोत्साहन के लिए सबका आभार। हिंदीज़िप की जिस अहम उपयोगिता पर ध्यान नहीं गया है, वह है- आपकी फ़ाइलों को बेहद आसानी से पासवर्ड प्रोटेक्ट करने की सुविधा। एक बार सॉफ्टवेयर में पासवर्ड डाले जाने के बाद हमेशा आपकी हर ज़िप फ़ाइल पासवर्ड-प्रोटेक्ट होकर ही तैयार होती है, यानी खोने या चोरी हो जाने पर भी आपका डेटा सुरक्षित रहता है। मुझे लगता है कि हिंदी में हर किस्म के दर्जनों सॉफ्टवेयर होने चाहिए। हिंदी सिर्फ वर्ड प्रोसेसिंग तक ही सीमित क्यों रहे?

सुन्दर। बधाई बालेन्दु जी को। धन्यवाद रविरतलामी जी को।

यह निश्चित तौर पर उल्लेखनीय कदम है। हिन्दी सिर्फ वर्ड प्रोसेसिंग तक ही सीमित न रहे, इस कथन में बालेन्दु जी का आत्मविश्वास भी शामिल है।
इस सॉफ़्टवेयर के लिए बहुत आभार।

वाह-वाह । एकदम सटीक बात कही है आपने। मैं अपनी कल्पना में ऐसा कम्प्यूटर वातावरण देख पा रहा हूँ, जहां सभी कुछ पूर्णत: हिन्दी में है।

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget