बुधवार, 7 मार्च 2007

राइट-क : हिन्दी लिखने का एक नया औजार

विनीत ने हिन्दी लिखने के लिए एक नया, नोट पैड जैसा औजार विकसित किया है. इस औजार की सबसे बड़ी खूबी यह है कि इस पर लिख कर सीधे ही ब्लॉगर ब्लॉगस्पॉट पर ब्लॉग पोस्ट प्रकाशित किया जा सकता है. साथ ही इसमें दिए गए कुंजी-पट में अपनी आवश्यकतानुसार परिवर्तन कर अपना खुद का कुंजीपट बनाया जा सकता है. कुंजीपट में परिवर्तन करना भी आसान है. एक साधारण सी पाठ (text) फ़ाइल है, उसमें कुंजियों की परिभाषाओं को बदलना होता है बस.

इसको काम में लेना बहुत आसान है. इस कड़ी में दी गई जिप फ़ाइल को डाउनलोड करें, व किसी डिरेक्ट्री/फ़ोल्डर में अनजिप करें. फिर उस डिरेक्ट्री में जाकर scripto.exe फ़ाइल को चलाएँ. आपके सामने नोटपैड जैसा विंडो खुलेगा जिसमें हिन्दी में सीधे लिखना प्रारंभ कर सकते हैं. यदि आपको ब्लॉगर में पोस्ट करना है तो ऊपर इनपुट विंडो में पोस्ट शीर्षक लिखें तथा ब्लॉगर की जानकारी मसलन ब्लॉग नाम, उपयोक्ता नाम इत्यादि tools>options में जाकर भरें. फिर tools>publish to blog को क्लिक कर अपनी लिखी सामग्री ब्लॉग पर पोस्ट करें.

इसमें यदि पाठ को फ़ॉर्मेट करने के विकल्प होते तो यह और भी काम का हो सकता है. अभी विंडोज लाइव राइटर में से सीधे ब्लॉगस्पॉट पर प्रकाशन की सुविधा है. परंतु उस लाइव राइटर में फ़ालतू का एचटीएमएल कोड भी घुस जाता है. इस औजार में ऐसी समस्या नहीं आती, और कोड साफ़ सुथरा रहता है.

विनीत का कहना है कि भविष्य में पाठ फ़ॉर्मेटिंग तथा सीधे वर्डप्रेस में प्रकाशन की सुविधा के साथ-साथ अन्य सुविधाएँ भी जोड़ेंगे.

एक अच्छा प्रयास, एक अच्छा औजार (अभी कुछ बगी है, कहीं कहीं पर आ की मात्रा स्वचालित जोड़ देता है) जिसमें बेहतर होने की सारी संभावनाएं हैं.

और, सबसे अच्छी बात है - अपना कुंजीपट संपादित करना. मेरे खयाल में विनीत को इस औजार में इनस्क्रिप्ट, रेमिंगटन, फ़ोनेटिक, आईट्रांस, शुषा ये सारे हिन्दी कुंजीपट भी इसमें सम्मिलित करना चाहिए ताकि उपयोक्ता को अपने मनमाफ़िक चुनने की सहूलियत हो, तब तो यह निसंदेह शीघ्र ही लोकप्रिय हो सकेगा.

एक नजर से यह तख्ती का उन्नत रूप लगता है जिसमें लिखे हुए पाठ को utf-8 फ़ॉर्मेट में सहेजने की भी सुविधा है.

**-**

Tag ,,,

Add to your del.icio.usdel.icio.us Digg this storyDigg this

7 blogger-facebook:

  1. अच्छी खबर है। डाउनलोड करते है इसको,आज ही।

    अनुनाद भाई और रमण कौल भाई, आप लोग सुन रहे है, अपने अपने पन्ने पर जोड़िए इसे भई।

    उत्तर देंहटाएं
  2. इसको जब पहले देखा था तब शायद अपनी आवश्यकता के अनुरूप कुंजीपटल बना लेने की सुविधा इसमें नही थी।

    इस सुविधा के आने से कम्यूटर पर हिन्दी लेखन और भी असान हो जायेगा; साथ ही अन्य प्रोराम भी इसकी नकल करके अपने आप को और उन्नत बना सकेंगे। यह सुविधा निश्चित ही बहुत उपयोगी होगी।

    अन्य बातों के अलावा इसका उपयोग वे भी कर सकते है जो किसी रोमन में लिखी हिन्दी को देवनागरी में बदलना चाहते हैं, क्योंकि इसे अपने अनुरूप बनाया जा सकता है।

    मैने इसे पुस्तचिन्हित कर लिया है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. संजय बेंगाणी5:43 pm

    जाँचने के लिए अभी डाउनलोड करते है. लग तो अच्छा रहा है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. क्‍या इसमें रैमिंगटन टाइप करने की सुविधा है...

    उत्तर देंहटाएं
  5. अविनाश,
    अभी इसमें रेमिंगटन कुंजी पट नहीं है. परंतु यदि आपको चाहिए है तो इसे एकाध दिन में बनाकर दिया जा सकता है.

    उत्तर देंहटाएं
  6. एक और बढिया साधन है, मदन पुरस्कार पुस्तकालय का Nepali Unicode Romanized (Beta 1)।

    मैने जीतू भाई के पेज से हिन्दी लिखना शुरु किया था, तब से अब तक वो ही उपयोग करता रहा, फिर काटो-चिपकाओ से परेशान हो कर छहरी का IME टाइप जुगाड तलाश किया तो ये मिला।

    उत्तर देंहटाएं
  7. बेनामी3:28 pm

    आपका बहुत-2 धन्यवाद, हाल ही हिन्दी चिट्ठों के बारे में सुना था और फिर ढूंढते हुए आपके चिट्ठे पर आकर रुका तो काफी प्रेरणा मिली मातृ-भाषा में लिखने हेतु।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------