ये तो, असहिष्णुता की हद है सरकार!

--- विज्ञापन ---

----------- *** -----------

image

भले ही अब भारत में कहीं कोई बिहारिया किस्म के चुनाव न हो रहे हों जिसमें प्रायोजित राजनैतिक किस्म की असहिष्णुता की बातें हों, मगर ये कोई टाइम और कोई तरीका है अच्छे खासे ऐन कैन प्रकारेण नावां कमाते जनता के प्रति सचमुच में असहिष्णु होने का!

इस सरकारी असहिष्णुता से बहुत से भले लोग दुबई या स्विटजरलैंड का रूख करेंगे. भारतभूमि तो अब वाकई बहुत असहिष्णु हो गई है. बू हू हू… Sad smile

 

व्यंज़ल

न पूछें कौन हैं लेन-देन में

बाप बेटे भी हैं लेन-देन में

 

कब क्यूं कहाँ कौन किससे

सभी तो लगे हैं लेन-देन में

 

यार ऊंच नीच तो होगी ही

वो प्यार के हैं लेन-देन में

 

जिनकी जमीनें सरकी हैं

वो वक्त के हैं लेन-देन में

 

कोई परग्रही नहीं है रवि

यहाँ हम भी हैं लेन-देन में

--

--- विज्ञापन ---

----------- *** -----------

_____________________________________

0 टिप्पणी "ये तो, असहिष्णुता की हद है सरकार!"

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.