प्रायोजक

---प्रायोजक---

---***---

हिंदी कंप्यूटिंग समस्या समाधान हेतु खोजें

हिन्दी में कृत्रिम बुद्धिमत्ता की असल कहानी

साझा करें:

पूरी कहानी यहाँ है, जिसका सार यह है कि कृत्रिम बुद्धिमत्ता के क्षेत्र में तमाम आयामों में काम हो रहे हैं, तो टैक्स्ट जनरेटर यानी कृत्रिम रच...

पूरी कहानी यहाँ है, जिसका सार यह है कि कृत्रिम बुद्धिमत्ता के क्षेत्र में तमाम आयामों में काम हो रहे हैं, तो टैक्स्ट जनरेटर यानी कृत्रिम रचनाकार का सृजन क्यों नहीं?

बहुत पहले कंप्यूटर के शुरूआती दिनों में किसी प्यारे बंदे ने विजुअल बेसिक प्रोग्रामिंग लैंगुएज का प्रयोग कर कविता लेखक प्रोग्राम बनाया था जो कि अपने स्वयं के डेटाबेस से या फिर इंटरनेट में से टैक्स्ट स्ट्रिंग कबाड़ कर रेंडम वाक्य रचना कर कविताएँ लिखता था. अब कविताओं में तो बात ये होती है कि, रहने दीजिए, ये आपकी समझ में नहीं आएगा, आपके लिए लिखा भी नहीं है, तो वो प्रोग्राम थोड़ा तो चल निकला था, और बहुतों ने मजे लिए थे.

बहरहाल, एक ऐसा (बहुत हैं,) टैक्स्ट जनरेटर आम लोगों के अनुभव के लिए बनाया गया है और ऑनलाइन उपलब्ध करवाया गया है. जाहिर है ये अंग्रेज़ी भाषा में बढ़िया काम करता है. आप कोई वाक्यांश अंग्रेज़ी में डालें, और फिर ये उससे मिला कर आगे की पूरी कहानी बुनता है, और ऐसे बुनता है जैसे असली लगे, जबकि वो नकली कहानी होती है.

मैंने हिंदी भाषा में इनपुट डाल कर कुछ कोशिश की तो यह तो बड़ा ही चालाक निकला. उसने मुझे मूर्ख बनाने की कोशिश की.

नीचे का स्क्रीनशॉट देखिए -

image

मैंने लिखा "कहानी में ट्विस्ट".

उसने आगे जो पूरा किया वो हिंदी देवनागरी के शब्दों अक्षरों का घालमेल कहीं से उठा लाया जिसका कोई सिरपैर नहीं है. चलिए, यह उस शिशु समान है जो अभी भाषा सीख रहा है, और एक वर्षीय बच्चे की तरह है जो मुंह से अजीब अजीब आवाजें निकालता है. हाँ, पर एक बात देखिए, उसने वाक्य के अंत में पूर्णविराम बिलकुल सही लगाया है.


फिर मैंने अंग्रेज़ी में लिखा - twist in the story.


इसने बड़ी ही असली सी लगने वाली कहानी बना दी. तुरंत.

नीचे का स्क्रीनशॉट देखें -


image

जब ये हिंदी में बढ़िया काम करने लगेगा तब तो हम हिंदी वालों के लिए मजे हैं. दो शब्द इनपुट में डाला और 2500 शब्दों की कहानी तैयार. न कॉपी -पेस्ट का झंझट न चोरी चकारी का. हाथ में असली, नया, अप्रकाशित माल.

है न धांसू आइडिया.

टिप्पणियाँ

ब्लॉगर

---प्रायोजक---

---***---

---प्रायोजक---

---***---

---प्रायोजक---

---***---

विविध

---प्रायोजक---

---***---

|हिन्दी_$type=blogging$count=8$page=1$va=1$au=0$src=random

|हास्य-व्यंग्य_$type=complex$count=8$page=1$va=0$au=0$src=random

रचनाकार : हिंदी साहित्य का आनंद लें

---प्रायोजक---

---***---

|तकनीक_$type=blogging$au=0$count=7$page=1$src=random-posts

नाम

तकनीकी ,1,अनूप शुक्ल,1,आलेख,6,आसपास की कहानियाँ,127,एलो,1,ऐलो,1,कहानी,1,गूगल,1,गूगल एल्लो,1,चोरी,4,छींटे और बौछारें,143,छींटें और बौछारें,337,जियो सिम,1,जुगलबंदी,49,तकनीक,46,तकनीकी,689,फ़िशिंग,1,मंजीत ठाकुर,1,मोबाइल,1,रिलायंस जियो,2,रेंसमवेयर,1,विंडोज रेस्क्यू,1,विविध,374,व्यंग्य,512,संस्मरण,1,साइबर अपराध,1,साइबर क्राइम,1,स्पैम,10,स्प्लॉग,2,हास्य,2,हिन्दी,502,hindi,1,
ltr
item
छींटे और बौछारें: हिन्दी में कृत्रिम बुद्धिमत्ता की असल कहानी
हिन्दी में कृत्रिम बुद्धिमत्ता की असल कहानी
https://drive.google.com/uc?id=1QfbmJMjdHFR_gv-ObBoEzIk0XTwJgCQC
छींटे और बौछारें
https://raviratlami.blogspot.com/2019/08/blog-post_22.html
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/2019/08/blog-post_22.html
true
7370482
UTF-8
सभी पोस्ट लोड किया गया कोई पोस्ट नहीं मिला सभी देखें आगे पढ़ें जवाब दें जवाब रद्द करें मिटाएँ द्वारा मुखपृष्ठ पृष्ठ पोस्ट सभी देखें आपके लिए और रचनाएँ विषय ग्रंथालय SEARCH सभी पोस्ट आपके निवेदन से संबंधित कोई पोस्ट नहीं मिला मुख पृष्ठ पर वापस रविवार सोमवार मंगलवार बुधवार गुरूवार शुक्रवार शनिवार रवि सो मं बु गु शु शनि जनवरी फरवरी मार्च अप्रैल मई जून जुलाई अगस्त सितंबर अक्तूबर नवंबर दिसंबर जन फर मार्च अप्रैल मई जून जुला अग सितं अक्तू नवं दिसं अभी अभी 1 मिनट पहले $$1$$ minutes ago 1 घंटा पहले $$1$$ hours ago कल $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago 5 सप्ताह से भी पहले फॉलोअर फॉलो करें यह प्रीमियम सामग्री तालाबंद है STEP 1: Share to a social network STEP 2: Click the link on your social network सभी कोड कॉपी करें सभी कोड चुनें सभी कोड आपके क्लिपबोर्ड में कॉपी हैं कोड / टैक्स्ट कॉपी नहीं किया जा सका. कॉपी करने के लिए [CTRL]+[C] (या Mac पर CMD+C ) कुंजियाँ दबाएँ