हिंदी कंप्यूटिंग समस्या समाधान हेतु खोजें

बेहतर लिखना तो ठीक है साहब, बेहतर पढ़ने वालों में असली बुद्धिमत्ता कहाँ से लाएँगे?

साझा करें:

... पत्थर का एक टुकड़ा भी! कृत्रिम बुद्धिमत्ता से अब उच्चकोटि का साहित्य लिखा जाएगा. कविताई-शविताई, ग़ज़ल-शज़ल, व्यंग्य-श्यंग्य  सब. एक बात ...

image

... पत्थर का एक टुकड़ा भी!


कृत्रिम बुद्धिमत्ता से अब उच्चकोटि का साहित्य लिखा जाएगा. कविताई-शविताई, ग़ज़ल-शज़ल, व्यंग्य-श्यंग्य  सब. एक बात तो इससे बढ़िया हो जाएगी. एक कवि दूसरे से नहीं जलेगा. एक व्यंग्यकार दूसरे व्यंग्यकार के व्यंग्य में सरोकार या मार्मिकता या पंचादि ढूंढने की कोशिश नहीं करेगा, बल्कि एआई ऐप्प को थ्रीस्टार, फाइवस्टार रेटिंग देगा - ये वाला ऐप्प बढ़िया व्यंग्य लिखता है. इस ऐप्प ने तो इस बार व्यंग्य में व्यंग्य नहीं, फूहड़ हास्य भर दिया. इसलिए, जीरो रेटिंग.

पर एक यक्ष प्रश्न उठेगा. कृत्रिम बुद्धिमत्ता से बढ़िया साहित्य रच लिया जाएगा. पढ़ेगा कौन? उच्च कोटि के साहित्य को पढ़ने व समझने के लिए असली बुद्धिमत्ता भी कृत्रिम बुद्धिमत्ता से गढ़नी होगी. और आदमी अपने बुद्धूपन की ओर एक कदम और बढ़ा लेगा Smile

जै हो तकनीक की!

टिप्पणियाँ

ब्लॉगर: 1
Loading...
.... विज्ञापन ....

-----****-----

-- विज्ञापन --

---

|हिन्दी_$type=blogging$count=8$page=1$va=1$au=0$src=random

-- विज्ञापन --

---

|हास्य-व्यंग्य_$type=complex$count=8$page=1$va=0$au=0$src=random

-- विज्ञापन --

---

|तकनीक_$type=blogging$au=0$count=7$page=1$src=random-posts

नाम

तकनीकी ,1,अनूप शुक्ल,1,आलेख,6,आसपास की कहानियाँ,127,एलो,1,ऐलो,1,गूगल,1,गूगल एल्लो,1,चोरी,4,छींटे और बौछारें,142,छींटें और बौछारें,336,जियो सिम,1,जुगलबंदी,49,तकनीक,40,तकनीकी,683,फ़िशिंग,1,मंजीत ठाकुर,1,मोबाइल,1,रिलायंस जियो,2,रेंसमवेयर,1,विंडोज रेस्क्यू,1,विविध,371,व्यंग्य,508,संस्मरण,1,साइबर अपराध,1,साइबर क्राइम,1,स्पैम,10,स्प्लॉग,2,हास्य,2,हिन्दी,496,hindi,1,
ltr
item
छींटे और बौछारें: बेहतर लिखना तो ठीक है साहब, बेहतर पढ़ने वालों में असली बुद्धिमत्ता कहाँ से लाएँगे?
बेहतर लिखना तो ठीक है साहब, बेहतर पढ़ने वालों में असली बुद्धिमत्ता कहाँ से लाएँगे?
https://lh3.googleusercontent.com/-7gbpEhmSOdQ/Wrews4y13pI/AAAAAAABAWc/nFqtlozMlh8E6fpF3GkeLhuZKxpjEbW9gCHMYCw/image_thumb?imgmax=800
https://lh3.googleusercontent.com/-7gbpEhmSOdQ/Wrews4y13pI/AAAAAAABAWc/nFqtlozMlh8E6fpF3GkeLhuZKxpjEbW9gCHMYCw/s72-c/image_thumb?imgmax=800
छींटे और बौछारें
https://raviratlami.blogspot.com/2018/03/blog-post_44.html
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/2018/03/blog-post_44.html
true
7370482
UTF-8
सभी पोस्ट लोड किया गया कोई पोस्ट नहीं मिला सभी देखें आगे पढ़ें जवाब दें जवाब रद्द करें मिटाएँ द्वारा मुखपृष्ठ पृष्ठ पोस्ट सभी देखें आपके लिए और रचनाएँ विषय ग्रंथालय खोजें सभी पोस्ट आपके निवेदन से संबंधित कोई पोस्ट नहीं मिला मुख पृष्ठ पर वापस रविवार सोमवार मंगलवार बुधवार गुरूवार शुक्रवार शनिवार रवि सो मं बु गु शु शनि जनवरी फरवरी मार्च अप्रैल मई जून जुलाई अगस्त सितंबर अक्तूबर नवंबर दिसंबर जन फर मार्च अप्रैल मई जून जुला अग सितं अक्तू नवं दिसं अभी अभी 1 मिनट पहले $$1$$ minutes ago 1 घंटा पहले $$1$$ hours ago कल $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago 5 सप्ताह से भी पहले फॉलोअर फॉलो करें यह प्रीमियम सामग्री तालाबंद है चरण 1: साझा करें. चरण 2: ताला खोलने के लिए साझा किए लिंक पर क्लिक करें सभी कोड कॉपी करें सभी कोड चुनें सभी कोड आपके क्लिपबोर्ड में कॉपी हैं कोड / टैक्स्ट कॉपी नहीं किया जा सका. कॉपी करने के लिए [CTRL]+[C] (या Mac पर CMD+C ) कुंजियाँ दबाएँ