हिंदी कंप्यूटिंग समस्या समाधान हेतु खोजें

व्यंग्य जुगलबंदी 26 : जम्बूद्वीप में सन् 3050 के चुनाव के बाद

साझा करें:

आज मैं आपको एक ऐसा व्यंग्य सुनाने जा रहा हूँ जिसे आप एक सांस में पढ़कर वाह! वाह!! कह उठेंगे. आज नहीं तो कल, पर ये तय है कि रवि रतलामी के व...

image

आज मैं आपको एक ऐसा व्यंग्य सुनाने जा रहा हूँ जिसे आप एक सांस में पढ़कर वाह! वाह!! कह उठेंगे. आज नहीं तो कल, पर ये तय है कि रवि रतलामी के व्यंग्य सभी पढ़ने लगेंगे. एक दिन ऐसा जरूर आएगा, जब जिंदगी का पाठ इन व्यंग्यों के माध्यम से पढ़ाया जाने लगेगा.

ऐसा इसलिए होगा, क्योंकि आज जब हर ओर तकनीक, बिजनेस, धन, कामयाबी की ही बातें चल रही हैं तो रवि रतलामी के व्यंग्य जीवन के सत्य की बातें करती हैं. खैर, रवि रतलामी आज आपको चुनाव के बाद का हाल सुनाएगा. वो चुनाव, जो आगे, आपके जीवन के विकास क्रम में कभी-न-कभी तो आएगा!

[ads-post]

जम्बू द्वीप में सृष्टि के प्रारंभ से ही चुनावी व्यवस्था लागू थी. वैसे, एक धड़े के वैज्ञानिकों का कहना है कि, बिगबैंग की थ्योरी तो बकवास है,  चुनाव से ही, और चुनाव के लिए ही सृष्टि का प्रारंभ हुआ. वैसे भी, कुछ लोग चुनाव में ही जीते मरते हैं – उनके लिए संपूर्ण सृष्टि, सपूर्ण ब्रह्मांड चुनाव और केवल चुनाव होता है – उनकी सृष्टि का आरंभ और अंत चुनाव से ही होता है. वे खाते-पीते-उठते-बैठते चुनावी चक्र में उलझे रहते हैं और अपना सारा कार्य चुनाव को ध्यान में रखते हुए ही करते हैं.

बहुत आगे की बात है, यथा समय जम्बू द्वीप में आम-चुनाव हुए. चुनाव में सत्तासीन पार्टी की हार हुई और विपक्ष की जमीन-खिसकती (अरे, वही, लैंडस्लाइड विक्ट्री) जीत हुई.

जैसा कि होता आया है, चुनाव के बाद हार-जीत का विश्लेषण किया गया.

हार-जीत के कुछ मुख्य कारक ये रहे –

1 – बायोमैट्रिक तरीके से, 1048 बिट एनक्रिप्टेड सेक्योर्ड साइट के जरिए जो मतदान करवाए गए उसमें हैकिंग की गई, और तमाम वोट परसेंटेज जीतने वाली पार्टी को चले गए. (इसीलिए, वापस, पुराने, ईवीएम तरीके से, बूथ आधारित मतदान कराने की पुरजोर मांग हारने वाली पार्टी की ओर से की गई)

2- चुनावी पंडितों ने बताया कि इस बार अगड़ों ने पिछड़ों को जमकर वोट दिया, पिछड़ों ने अगड़ों को, नारियों ने पुरुषों को, अल्प-संख्यकों ने बहु-संख्यकों को, और इसके उलट, भरपूर वोट दिया और इस तरह से बहुत ही तीव्र अ-ध्रुवीकरण हुआ जिसके फलस्वरूप यह जमीन-खिसकती हार/जीत हासिल हुई.

3 – चुनाव के दौरान वोटरों को जमकर लुभाया गया. चुनावी घोषणा-पत्र में पर्सनल ड्रोन से लेकर पर्सनल रोबॉटिक असिस्टेंट तक देने के वायदे किए गए और बांटे गए, जिससे लालच में अंधी होकर जनता ने वोट दिए.

4 – चुनावी विश्लेषकों के मुताबिक दरअसल, अधिकांशतः जीते वही हैं जो टिकट नहीं मिलने या अन्य वजहों से ऐन चुनाव से ठीक पहले पाला बदल लिए थे. इस लिहाज से, जिस पार्टी की जीत है, सत्यता में वह जीत नहीं है, और जिस पार्टी की हार है, वस्तुतः वह हार नहीं है. ठीक ठीक कहें, तो यह तो यथा-स्थिति-वाद है!

और, यह यथास्थिति-वाद अगले पाँच साल बदस्तूर जारी रही और फिर एक और चुनाव जनता के सामने आ गया और उस चुनाव में भी ऊपर वाली कहानी एक बार फिर से दोहराई गई. और, उस चुनाव के बाद भी, अमूमन विश्लेषण वही का वही रहा. लगे हाथ आपको बता दें कि पांच साल पहले की कहानी भी कुछ इसी तरह की ही थी.

यह कहानी है ही ऐसी.  चुनाव के बाद की कहानी. एक सी.

Ravi Ratlami

#जुगलबंदी

--

 

(अस्वीकरण – अरे, भाई, डिस्क्लेमर! – यह काल्पनिक पोस्ट है और इस पोस्ट की स्टाईल का किसी अन्य जीवित-मृत व्यक्ति के स्टाइल से कोई संबंध नहीं है और यदि ऐसा लगता है तो इसे केवल संयोग मात्र समझा जाए)

टिप्पणियाँ

ब्लॉगर: 2
Loading...
.... विज्ञापन ....

-----****-----

-- विज्ञापन --

---

|हिन्दी_$type=blogging$count=8$page=1$va=1$au=0$src=random

|हास्य-व्यंग्य_$type=complex$count=8$page=1$va=0$au=0$src=random

|तकनीक_$type=blogging$au=0$count=7$page=1$src=random-posts

नाम

तकनीकी ,1,अनूप शुक्ल,1,आलेख,6,आसपास की कहानियाँ,127,एलो,1,ऐलो,1,गूगल,1,गूगल एल्लो,1,चोरी,4,छींटे और बौछारें,142,छींटें और बौछारें,336,जियो सिम,1,जुगलबंदी,49,तकनीक,39,तकनीकी,682,फ़िशिंग,1,मंजीत ठाकुर,1,मोबाइल,1,रिलायंस जियो,2,रेंसमवेयर,1,विंडोज रेस्क्यू,1,विविध,370,व्यंग्य,508,संस्मरण,1,साइबर अपराध,1,साइबर क्राइम,1,स्पैम,10,स्प्लॉग,2,हास्य,2,हिन्दी,495,hindi,1,
ltr
item
छींटे और बौछारें: व्यंग्य जुगलबंदी 26 : जम्बूद्वीप में सन् 3050 के चुनाव के बाद
व्यंग्य जुगलबंदी 26 : जम्बूद्वीप में सन् 3050 के चुनाव के बाद
https://lh3.googleusercontent.com/-x1VeLGxtTdg/WNEFQH6KtzI/AAAAAAAA3ho/vCxrEl96Ai4/image_thumb%25255B1%25255D.png?imgmax=800
https://lh3.googleusercontent.com/-x1VeLGxtTdg/WNEFQH6KtzI/AAAAAAAA3ho/vCxrEl96Ai4/s72-c/image_thumb%25255B1%25255D.png?imgmax=800
छींटे और बौछारें
https://raviratlami.blogspot.com/2017/03/26-3050.html
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/2017/03/26-3050.html
true
7370482
UTF-8
सभी पोस्ट लोड किया गया कोई पोस्ट नहीं मिला सभी देखें आगे पढ़ें जवाब दें जवाब रद्द करें मिटाएँ द्वारा मुखपृष्ठ पृष्ठ पोस्ट सभी देखें आपके लिए और रचनाएँ विषय ग्रंथालय खोजें सभी पोस्ट आपके निवेदन से संबंधित कोई पोस्ट नहीं मिला मुख पृष्ठ पर वापस रविवार सोमवार मंगलवार बुधवार गुरूवार शुक्रवार शनिवार रवि सो मं बु गु शु शनि जनवरी फरवरी मार्च अप्रैल मई जून जुलाई अगस्त सितंबर अक्तूबर नवंबर दिसंबर जन फर मार्च अप्रैल मई जून जुला अग सितं अक्तू नवं दिसं अभी अभी 1 मिनट पहले $$1$$ minutes ago 1 घंटा पहले $$1$$ hours ago कल $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago 5 सप्ताह से भी पहले फॉलोअर फॉलो करें यह प्रीमियम सामग्री तालाबंद है चरण 1: साझा करें. चरण 2: ताला खोलने के लिए साझा किए लिंक पर क्लिक करें सभी कोड कॉपी करें सभी कोड चुनें सभी कोड आपके क्लिपबोर्ड में कॉपी हैं कोड / टैक्स्ट कॉपी नहीं किया जा सका. कॉपी करने के लिए [CTRL]+[C] (या Mac पर CMD+C ) कुंजियाँ दबाएँ