---प्रायोजक---

---***---

हिंदी कंप्यूटिंग समस्या समाधान हेतु खोजें

टिप्पणियाँ चाहिए? मेरे पास आइए!

साझा करें:

और, टिप्पणियाँ मुझसे खरीदिए. 100 टिप्पणियों के लिए 1000 रुपए, 500 टिप्पणियों के लिए 5000 रुपए, 1000 टिप्पणियों के लिए दस हजार रुपए. ये टिप्प...



और, टिप्पणियाँ मुझसे खरीदिए. 100 टिप्पणियों के लिए 1000 रुपए, 500 टिप्पणियों के लिए 5000 रुपए, 1000 टिप्पणियों के लिए दस हजार रुपए. ये टिप्पणियाँ स्वचालित बॉट के जरिए नहीं होंगी, परंतु बढ़िया, शुद्ध हिन्दी के जानकार कम्प्यूटर उपयोक्ताओं द्वारा की जाएंगी जो आपके ब्लॉग पोस्टों को पढ़ेंगे और फिर उस पर बढ़िया सी, पोस्ट के विषय वस्तु से मिलती जुलती, कम से कम तीन लाइनों की और अधिकतम दस लाइनों की शानदार टिप्पणियाँ करेंगे. सिर्फ हेहेहे और स्माइली टाइप नहीं. और वे कोई दर्जन-दो-दर्जन ब्लॉगर – वर्डप्रेस के असली खाते से नाम और प्रोफ़ाइल युक्त टिप्पणियाँ करेंगे. बेनामी नहीं, गाली गलौज की नहीं, असभ्य नहीं. सभ्य, सुंदर, समीचीन टिप्पणियों की गारंटी.

क्या आपको पता है कि आपके चिट्ठे की टिप्पणियाँ आपके चिट्ठे के रैंक को बढ़ाती हैं उनका दर्जा संवारती हैं? आपके चिट्ठे में जितने ज्यादा कमेंट्स होंगे, जितनी ज्यादा टिप्पणियाँ होंगी, जितने ज्यादा चिट्ठों के बैकलिंक्स होंगे, आपके चिट्ठे का दर्जा हर कहीं ज्यादा होगा. आपके चिट्ठे का पीआर (गूगल पेज रेंक, ईडियट,) ज्यादा होगा. और फिर आपके चिट्ठे को सर्च इंजिनों द्वारा ज्यादा तरजीह दी जाएगी. यह सारा सिलसिला साइक्लिक होता है और जाहिर है, हमारी टिप्पणियों की सेवा के कारण देखते ही देखते आपका चिट्ठा जमीन से आसमान पर पहुँच जाएगा. आपके चिट्ठे को धड़ाधड़ विज्ञापन मिलने लगेंगे और एडसेंस जैसे प्रकल्पों के जरिए आप शीघ्र ही मिलिनेयर बन जाएंगे.

वर्तमान में हमारे पास कोई आधा दर्जन बेहतरीन, हिन्दी-भाषाविद् टिप्पणीकार हैं जो आपके हिन्दी चिट्ठों को बढ़िया, शानदार, शुद्ध हिन्दी की टिप्पणियों से पाट सकते हैं. यह सेवा प्रथम आएँ प्रथम पाएँ के आधार पर उपलब्ध है और सीमित समय के लिए, सीमित चिटठों के लिए उपलब्ध है. कहीं ऐसा न हो कि मामला हाथ से निकल जाए और आप बैठे ही रह जाएँ. तो जल्दी करें, आज ही हमसे संपर्क करें.

पुनश्च: 1 – अच्छी-सभ्य-हिन्दी भाषा के जानकार, सभ्य भाषा में लिखने वाले, जिनका पारा हमेशा ठंडा रहता हो, जो भूलकर भी असभ्य भाषा में नहीं लिख सकते ऐसे टिप्पणीकारों की भर्ती चालू है. शीघ्र आवेदन करें. सक्षम उम्मीदवार के लिए इंडस्ट्री का सबसे बेहतरीन पे-पैकेज व सुविधाएं उपलब्ध व कोई सीमा नहीं.

पुनः पुनश्च: - दूसरों के चिट्ठों पर डलवाने हेतु असभ्य, गाली-गलौज वाली टिप्पणियों हेतु प्रीमियम सेवा भी उपलब्ध है. इसके लिए ऊपर दिए रेट में ढाई सौ प्रतिशत प्रीमियम लिया जावेगा. बेनामी, कुनामी की पूरी गारंटी. डबल प्रीमियम रेट पर किसी अन्य के आई पी पते व नाम से असभ्य टिप्पणियों की सेवा भी उपलब्ध. शीघ्र संपर्क करें.

लेख आइडिया : यह जाल स्थल

**************************************

चिट्ठाजगत् चिप्पियाँ: buyblogcomments , buyblogcomments.com , टिप्पणी , टिप्पणी खरीदें

टिप्पणियाँ

ब्लॉगर: 16
  1. वाह रवि जी;
    पर हिन्दी की अन्तर्जाल दुनियां के पास पैसा भी है?

    उत्तर देंहटाएं
  2. मैथिली जी,
    पर, कहावत है, और सच भी है - पैसा पैसे को खींचता है.

    पैसा लगाओ, पैसा पाओ!

    उत्तर देंहटाएं
  3. रविजी आपने पुन: पुन: पुनश्‍च में यह नहीं जोड़ा कि गाली देने वाले टिप्‍पणीकारों की भर्ती भी खुली है। ये प्रीमियम सेवा क्‍या आप खुद ही देंगे :)
    हा्..........आप तो ऐसे न थे :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. जगदीश भाटिया1:02 pm

    रवि जी, कभी कभी चिट्ठाजगत के झगड़ों को देख कर लगता है कि यह किस झमेलों की दुनिया में आ कर फंस गये।
    तो क्या अब इन झमेलों में फंसे रहने के पैसे भी दें?
    वैसे भाइचारे के साथ टिप्पणी आदान प्रदान वाला जो कार्यक्रम यहां पहले से चलता था वो कुछ ज्यादा किफायती नहीं है?
    वैसे कोई टिप्पणी दे या न दे जब भी आये गुगल एड पर चटका लगा जाये बस :D

    उत्तर देंहटाएं
  5. मसिजीवी जी,
    अब आप मुँह न खुलवाएँ. आपको भी पता है - ऐसे दर्जनों लोग कौड़ियों के भाव में मिलते रहे हैं...

    जगदीश जी,
    मजा लीजिए चिट्ठाजगत् के झगड़ों का. इसी में सार है. बस कूदियो ना मंझधार में!

    उत्तर देंहटाएं
  6. excellent no words to say any more about your post ravi

    उत्तर देंहटाएं
  7. क्या "बिजनेस आइडिया" लड़ाया है? हमारी हिन्दी भी "अप-टू डेट" है, नौकरी का आवेदन भेज रहें है. पावती भेज देना जी.

    उत्तर देंहटाएं
  8. यह सर्विस ट्रैफिक बेचने वाली साइटों की तर्ज पर बनी लगती है। जिस तरह वे आपके ब्लॉग/वेबसाइट के लिए ट्रैफिक बेचते हैं उसी तरह यह कमेंट बेचती दिखे है!

    मजा लीजिए चिट्ठाजगत् के झगड़ों का. इसी में सार है. बस कूदियो ना मंझधार में!

    बिलकुल स्टीक मशवरा दिया है रविजी। :)

    उत्तर देंहटाएं
  9. ह्म्म, आईडिया तो मस्त है पर मै सोचता हूं कि टिप्पणी खरीदने की बजाय क्रमांक एक वाले में नौकरी के लिए आवेदन कर दूं, ज्यादा कमा लूंगा!!

    उत्तर देंहटाएं
  10. रवि जी,आप ने टिप्पणी लिखने वालों के प्रति जो उदारता दिखाई है उस के लिए धन्यवाद। लगता है हमे भी आवेदन कर देना चाहिए। कुछ तो कमाई होगी।

    उत्तर देंहटाएं
  11. हमारी तो एन जी ओ है-बिना पैसे ही दिये जा रहे धड़ाधड़ टिप्पणियां. एक बार बस मार्केट पकड़ लें फिर कामर्शियल करेंगे. :)

    उत्तर देंहटाएं
  12. रवी जी आप तो हमारा नौकरी का प्रार्थना पत्र ही हजम कर गये जी.म आधे पैसे मे भी तैयार है.ठेके पर सारा काम लेने कॊ

    उत्तर देंहटाएं
  13. रवि भाई ऐसे ख़तरनाक आईडियाज़ को ई-मेल्स के ज़रिये व्यक्तिश: डिसकर कर लिया कीजिये...ब्लाँग पर सार्वजनिक करने की क्या ज़रूरत है..किसी मुकेश अंबानी ने पढ़ लिया तो रिलायंस फ़्रेश में दो किलो भिंडी दो टिप्पणी फ़्री करना शुरू कर दिया करेंगे..मामला ऐसा कमर्शियल भी है ये सोचा न था ...आज से तोल मोल के भाव से टिप्पणी प्रेषित किया करूंगा ...और हाँ अब ब्लाग के बजाय टिप्पणी में यदि माल मिलता है तो लिखने पढ़ने की अपनी बेवकूफ़ी को बंद कर सेलिब्रेटेड और प्रीमियम टिप्पणीकार बनना चाहूंगा ...आप थोड़ा ध्यान रखना जी छोटे भाई का.. बाक़ी आपस में समझ लेंगे.

    उत्तर देंहटाएं
  14. भाईजी ये सवा लाख मैं भेज रहा हूँ यहां टिप्पणी
    अब बस जरा पता बतलायें, कहां हमें बिल भिजवाना है
    एक बार पेमेंट मिले तो साख आपकी जम जायेगी
    फिर बस इतना ही लिख भेजें कहां कहां पर टिपियाना है

    उत्तर देंहटाएं
  15. आइडिया तो सही है, जरा ये बताएँ कि टिप्पणीकर्ताओं का वेतनक्रम क्या है? :)

    उत्तर देंहटाएं
  16. آداب عرض
    بہت عمدہ لکھا ہے

    vaah Ravi ji. lijiye Urdu meN tippanii yaani ki 'tabsira' haazir hai.

    Bhopal se Ratlam duur nahiiN...kabhi idhar bhi aaiye...

    उत्तर देंहटाएं
आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---प्रायोजक---

---***---

---प्रायोजक---

---***---

---प्रायोजक---

---***---

---प्रायोजक---

---***---

|हिन्दी_$type=list$count=8$page=1$va=1$au=0$src=random

|हास्य-व्यंग्य_$type=list$count=8$page=1$va=0$au=0$src=random

---प्रायोजक---

---***---

|तकनीक_$type=list$au=0$count=7$page=1$src=random-posts

नाम

तकनीकी ,1,अनूप शुक्ल,1,आलेख,6,आसपास की कहानियाँ,127,एलो,1,ऐलो,1,कहानी,1,गूगल,1,गूगल एल्लो,1,चोरी,4,छींटे और बौछारें,143,छींटें और बौछारें,337,जियो सिम,1,जुगलबंदी,49,तकनीक,44,तकनीकी,687,फ़िशिंग,1,मंजीत ठाकुर,1,मोबाइल,1,रिलायंस जियो,2,रेंसमवेयर,1,विंडोज रेस्क्यू,1,विविध,374,व्यंग्य,511,संस्मरण,1,साइबर अपराध,1,साइबर क्राइम,1,स्पैम,10,स्प्लॉग,2,हास्य,2,हिन्दी,500,hindi,1,
ltr
item
छींटे और बौछारें: टिप्पणियाँ चाहिए? मेरे पास आइए!
टिप्पणियाँ चाहिए? मेरे पास आइए!
http://1.bp.blogspot.com/_t-eJZb6SGWU/RpMpH4K4EKI/AAAAAAAABFQ/FqQNhlKYKaU/s400/buy+blog+comments.JPG
http://1.bp.blogspot.com/_t-eJZb6SGWU/RpMpH4K4EKI/AAAAAAAABFQ/FqQNhlKYKaU/s72-c/buy+blog+comments.JPG
छींटे और बौछारें
https://raviratlami.blogspot.com/2007/07/want-blog-comments-come-to-me.html
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/
https://raviratlami.blogspot.com/2007/07/want-blog-comments-come-to-me.html
true
7370482
UTF-8
सभी पोस्ट लोड किया गया कोई पोस्ट नहीं मिला सभी देखें आगे पढ़ें जवाब दें जवाब रद्द करें मिटाएँ द्वारा मुखपृष्ठ पृष्ठ पोस्ट सभी देखें आपके लिए और रचनाएँ विषय ग्रंथालय SEARCH सभी पोस्ट आपके निवेदन से संबंधित कोई पोस्ट नहीं मिला मुख पृष्ठ पर वापस रविवार सोमवार मंगलवार बुधवार गुरूवार शुक्रवार शनिवार रवि सो मं बु गु शु शनि जनवरी फरवरी मार्च अप्रैल मई जून जुलाई अगस्त सितंबर अक्तूबर नवंबर दिसंबर जन फर मार्च अप्रैल मई जून जुला अग सितं अक्तू नवं दिसं अभी अभी 1 मिनट पहले $$1$$ minutes ago 1 घंटा पहले $$1$$ hours ago कल $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago 5 सप्ताह से भी पहले फॉलोअर फॉलो करें यह प्रीमियम सामग्री तालाबंद है STEP 1: Share to a social network STEP 2: Click the link on your social network सभी कोड कॉपी करें सभी कोड चुनें सभी कोड आपके क्लिपबोर्ड में कॉपी हैं कोड / टैक्स्ट कॉपी नहीं किया जा सका. कॉपी करने के लिए [CTRL]+[C] (या Mac पर CMD+C ) कुंजियाँ दबाएँ