गुरुवार, 12 अगस्त 2010

तो, अंतत: ब्लॉगर को स्पैम कमेंटों की सुध आ ही गई!

अब तक या तो ब्लॉगर मानता ही नहीं था कि स्पैम कमेंट आते भी हैं, या फिर उसे अपने आप पर बड़ा विश्वास था, बड़ा गुरूर था कि स्पैम कमेंट की वो शत प्रतिशत हैंडलिंग कर सकता है – और इसीलिए उसके कमेंट मॉडरेशन में स्पैम कमेंट की सुविधा ही नहीं थी. अलबत्ता ये बात जुदा है कि अनगिनत मॉडरेशन-रहित ब्लॉगों में चीनी भाषा में व पॉर्न साइटों की लिंक वाले विज्ञापन सैकड़ों की संख्या में मिल जाएंगे.

शुक्र है कि अब ब्लॉगर को सुध आ गई है, या उसने अपनी असफलता स्वीकार कर ली है या … जो भी हो, स्पैम के रूप में चिह्नित करने का विकल्प तो मिलने लगा है.

 

यह रहा आज का रचनाकार का कमेंट मॉडरेशन ईमेल जो ब्लॉगर द्वारा भेजा गया:

image

और यह रहा आज का छींटें और बौछारें का कमेंट मॉडरेशन जो ब्लॉगर द्वारा भेजा गया:

 

image

जाहिर है नई सुविधा धीरे धीरे ब्लॉगों में जोड़ी जा रही है. यदि आपके ब्लॉग में यह सुविधा अभी नहीं आई है तो थोड़ा इंतजार करें.

अब आप बेनामी भाई को एकाध मर्तबा स्पैम के रूप में चिह्नित भर कर दें बस. ब्लॉगर का आईक्यू इंजन उसे, उम्मीद करें कि सदा सर्वदा के लिए स्पैमर मान लेगा और उसे नामी बनकर भी जेनुइन टिप्पणी करने नहीं देगा!

8 blogger-facebook:

  1. शुक्रिया जानकारी देने के लिए !

    उत्तर देंहटाएं
  2. हा हा हा, अब मजा आयेगा.

    जानकारी के लिए धन्‍यवाद भईया.

    उत्तर देंहटाएं
  3. तकनीक की जानकारी बिलकुल नहीं है। सो बात पूरी तो समझ नहीं आई किन्‍तु लग रहा है कि इस सुविधा से 'अवांछितों' से मुक्ति पाई जा सकेगी।

    फोन पर सम्‍पर्क कर इसे समझने की कोशिश करूँगा।

    उत्तर देंहटाएं
  4. kal yae post padhi aaj apnae blog par daekha
    jin blogs par moderation haen wahaan hi yae suvidha dikhtee haen spam vali anythaa nahin

    उत्तर देंहटाएं
  5. यह तो बहुत काम की और खुशी वाली खबर है |

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------