वे सुंदर हैं – सचमुच!



वैसे तो इंटरनेट के जरिए आभासी शुभकामना संदेश कार्ड (वर्चुअल ग्रीटिंग कार्ड) लेने देने का काम बरसों से चल रहा है और क्या ख़ूब चल रहा है. एक से एक कल्पनातीत रंगों व डिजाइनों में आप कार्डों का आदान प्रदान कर सकते हैं और कुछेक को छोड़कर आमतौर पर सभी में अब यूनिकोड हिन्दी का पूरा समर्थन भी उपलब्ध है.

हाल ही में एक ऐसा ही, नया, नायाब किस्म का आभासी गुलदस्ता (वर्चुअल बुके) लेने-देने की सेवा देआरब्यूटीफ़ुल के नाम से प्रारंभ किया गया है. इसमें नया और नायाब क्या है?

इस सेवा के जरिए आप किसी को भी ईमेल के जरिए मुफ़्त में आभासी गुलदस्ता प्रेषित कर सकते हैं. जिसे आपने गुलदस्ता भेजा है, वह आपके द्वारा भेजे गए गुलदस्ते को अपने ई-मेल में प्राप्त कड़ी पर जाकर देख सकता है. गुलदस्ते के साथ आप अपना संदेश भी चिपका सकते हैं. मैंने हिन्दी में चिपकाने की कोशिश की तो वे ??? प्रश्नवाचक चिह्न बन गए.

परंतु रुकिए. यह गुलदस्ता यूँ तो आभासी है, परंतु व्यवहार में यह पूरा असली प्रतीत होता है. यदि आपने उसमें समय-समय पर पानी नहीं डाला तो वह मुरझाने लगेगा. और अंततः सूख जाएगा. और यही इस आभासी गुलदस्ता सेवा - देआरब्यूटीफ़ुल की ख़ासियत है.

देआरब्यूटीफ़ुल में एक से एक गुलदस्ते हैं. अभी बीटा अवस्था में गुलदस्तों की संख्या थोड़ी सी कम है. उम्मीद है कुछ ही समय में हमें दर्जनों और गुलदस्ते चुनाव के लिए मिलेंगे. इंटरनेट पर वर्चुअल पेट (आभासी पालतू जानवर) भी कुछ अरसे से लोग पाल रहे थे. अब अपना कोई जान से प्यारा प्रिय हमें देआरब्यूटीफ़ुल का उतना ही प्यारा सा गुलदस्ता हमें भेजेगा तो उसे सूखने और सड़ने से बचाने के लिए उपाय तो हमें करते रहने होंगे. वो भी नियमित.

इंटरनेट पर घोर व्यस्त रहने के लिए एक और काम? हे ! भगवान.

टिप्पणियाँ

  1. रविभाई;
    इस जानकारी ने मन को जवान बना दिया.
    गुलदस्तों में भावनाओं की महक डालने की ज़रूरत है बस.

    उत्तर देंहटाएं
  2. यानी किसी का समय बरबाद करवाना हो तो गुलदस्ता भेजो. अगला रोज रोज साइट पर जा कर पानी देगा, साइट की हीट बनी रहेगी और आपका समय....
    आपको अभी एक गुलदस्ता भेजता हूँ, देखना सुखे नहीं..

    उत्तर देंहटाएं
  3. रवि भाई आभासी गुलदस्ते की जानकारी अच्छी लगी,आपसे भोपाल मे आईएसएक्ट के समारोह मे भेट हुईई थी आपने तो इतिहास ही रच डाला.
    शुभकामनाएँ
    अरविंद

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें