परजीवियों के लिए तो, कैश ही धर्म है!

फिर, कैशलेस तो अधर्म ही होगा। घोर अधर्म!

कोई टिप्पणी नहीं