टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

रिलायंस जियो - भारत में इंटरनेट के अनुभव को बदल कर रख देने की क्षमता

image

रिलायंस जियो की इन घोषणाओं पर यदि यकीन करें, और यदि ये वास्तव में डिलीवर हों, तो यकीनन भारत में इंटरनेटीय अनुभव में क्रांतिकारी परिवर्तन का आगाज़ हो चुका है.

मेरा अपना अनुभव भी कुछ ऐसा ही है.

मैं पिछले बीसेक साल से इंटरनेट का उपयोग करता आ रहा हूँ. तब से जब हम रतलाम से एसटीडी डायल कर इंदौर से इंटरनेट का उपयोग करते थे, 56 केबीपीएस मॉडम के द्वारा. तब इंटरनेट घंटे के हिसाब से मिलता था. 25 घंटे का पैक 100 रुपये और 100 घंटे का पैक 500 रुपए में. अब आप देखें कि 56 केबीपीएस में कितने घंटे में कितनी बड़ी फ़ाइल डाउनलोड होगी. परंतु, खैर, तब न डिजिटल कैमरे थे और न डाउनलोड करने के लिए डिजिटल फ़ोटो और मूवीज़. तब इंटरनेट रुक-रुक कर ही चलता रहता था, और यह अनुभव कमोबेश अब तक बना हुआ था. चाहे किसी भी इंटरनेट सेवा प्रदाता का प्लान ले लो, स्ट्रीमिंग से लेकर डेटा डाउनलोड में हमेशा अनुभव बाधित ही रहा. वैसे मैंने अपने बीस वर्षीय अनुभव में एयरटेल, रिलायंस इन्फ़ोकॉम, आइडिया, वोडाफ़ोन और बीएसएनएल को जांचा परखा है, और लगभग सभी टेक्नोलॉजी का उपयोग किया है - जीएसएम, सीडीएमए, आईपीटीवी, 2 जी, 3 जी व 4 जी.

अधिकतर समय, सेवा खराब होने के बावजूद, बीएसएनएल का ही उपयोग किया है, क्योंकि यहाँ कुछ एकाउंटिबिलिटी होती है, और सबसे बड़ी बात, बिलिंग में एक पैसे का भी घालमेल नहीं होता.

पर, लगता है कि अब यह स्थिति बदलेगी.

मैंने रिलायंस इन्फ़ोकॉम (जियो नहीं, )द्वारा मेरे लूटे जाने की भयानक कहानी आपको सुनाई थी. तब से मैं एक अदद बैकअप इंटरनेट प्लान के लिए खोजबीन कर रहा था. तो यह रिलायंस जियो नजर आया. मैंने इसका माई-फ़ाई इंटरनेट 4 जी पोर्टेबल हॉट  स्पॉट उपकरण हाल ही में लिया है. इसके साथ असीमित 90 दिन का डेटा व वाइस काल भी मुफ़्त मिला है. आज रिलायंस जियो एजीएम में इसे बढ़ाकर दिसंबर 16 तक करने की घोषणा की गयी है यानी एक महीने का उपयोग और मुफ़्त. इससे हॉट-स्पॉट उपकरण खरीदने में लगा पैसा तो पहले ही पूरा वसूल हो गया है.

यही नहीं, इसमें और भी चीजें हैं जो आपके अनुभव को और परिपूर्ण बनाती हैं और आपके इंटरनेटी अनुभव को बदल सकती हैं -

image

(जियो-मैग्स - हर प्रमुख भाषा के प्रमुख व प्रसिद्ध पत्रिकाओं को आप यहाँ पढ़ सकते हैं)

 

जियो केवल इंटरनेट ही प्रदान नहीं करेगा, बल्कि यह आपको संपूर्ण मनोरंजन भी प्रदान करेगा.  इसमें जियो प्ले, जियो बीट, जियो ऑनडिमांड तो हैं हीं जिनसे आप गीत संगीत व फ़िल्मों का आनंद ले सकते हैं, इसमें जियो मैग्स भी है जिसमें आप भारतीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर की तमाम प्रमुख व प्रसिद्ध पत्र-पत्रिकाओं के ताज़ा व पुराने अंकों को भी पढ़ सकते हैं.

भारत में जियो का आगमन हम इंटरनेट के उपयोगकर्ताओं के लिए इसलिए भी अच्छा है कि अब तमाम बाकी कंपनियाँ भी क्वालिटी सेवा, सस्ती सेवा देने में ध्यान देंगी नहीं तो वो बाजार से बाहर हो जाएंगी. बीएसएनएल और एयरटेल की हालिया घोषणा व प्लान को ही देख लें - अब महज एक हजार रुपल्ली में ट्रू अनलिमिटेड, ट्रू, फुल बैण्डविड्थ वाली ब्रॉडबैण्ड की बातें की जा रही हैं - नहीं तो कैप लगा कर अनलिमिटेड प्लान का तो सत्यानाश कर ही रही थीं! कंपनियाँ डेटा कीमतें 80 प्रतिशत तक कम कर रही हैं. इस लिए भी जियो को धन्यवाद कहना होगा.

परंतु आगे यह भी देखना होगा कि जब यूजर-बेस बढ़ेगा तो रिलायंस जियो इस बढ़े बैंडविड्थ उपयोग को कैसे हैंडल कर पाएगा. साथ ही, जब बिलिंग चालू होगी तो भले ही वाइस कॉल फ्री है, अनलिमिटेड है, और केवल डेटा के लिए ही पैसा लिया जाएगा ऐसा कहा जा रहा है, तो आपकी वॉइस कॉल एचडी क्वालिटी की होगी तो डेटा भी ज्यादा खाएगा और फिर यह मार किसे पड़ेगी? कहीं ऐसा न हो कि लौट के बुद्धू घर को आए!

जो भी हो, अभी तो चार महीने अंतहीन इंटरनेट डेटा और इंटरनेटीय मनोरंजन को लूटने के हैं. आप भी लूटें. हमने तो शुरूआत कर दी है!

और मेरा जियो अनुभव? पूरी तरह बदल गया. अब तक अबाधित. गीत-संगीत, मूवी, इंटरनेट पेजेस - सभी अबाधित. बिना किसी बफरिंग के!  आपका अनुभव क्या कहता है?

विषय:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (03-09-2016) को "बचपन की गलियाँ" (चर्चा अंक-2454) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, "नाम में क्या रखा है!? “ , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

पहले ४जी सपोर्ट करने वाला मोबाइल खरीदना पड़ेगा

4 जी फोन आवश्यक नहीं है। मेरे पास 3जी वाला ही फोन है। तो मैंने माईफाई 4जी हाटस्पाट ले लिया है। इससे मजे में 4जी चलता है और 4जी काल भी हो जाता है।

रिलायंस जिओ वास्तव में भारत के लिए के वरदान है, खासकर वर्तमान सरकार के "Digital India" के सपने को साकार करने वाला। मैं स्वयं बीएसएनएल को वरीयता देता हूँ, और जब से उनका ब्रॉडबैंड(२००५) आया है मैं मुख्या रूप से उसका ही उपयोग किया हैं, कई बार महीनो महीनो तक सेवा का स्तर खराब रहता था, पर उस समय कोई विकल्प नहीं था।

आज इन्टरनेट एक आवश्यक सेवा है, इसके बगैर कई काम रुक सकते है, ऐसे में एक अच्छी और सस्ती सेवा की आवस्यकता महसूस हो रही थी, जो अब साकार होती दिख रही है।

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget