टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

क्या आपका ब्राउज़र अभी भी अंग्रेज़ी में ही है?

gandhi hindi mujhe angreji nahi aati firefox hindi poster

फ़ायरफ़ॉक्स समेत अब दुनिया के तमाम बड़े, नामचीन ब्राउज़र जैसे कि क्रोम, ओपेरा, सफारी, एज (पूर्व नाम इंटरनेट एक्सप्लोरर) हिंदी में आ चुके हैं. 

अब तो सुधर जाओ, हिंदी दिवस, हिंदी पखवाड़े के लिए ही सही, अपने ब्राउज़र को हिंदी में रंग दो.

सेटिंग में जाओ, भाषा चुनो और हिंदी चुन लो. बस.

मोबाइल हो या कंप्यूटर - सभी में.

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget