टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

गूगल ने खुद अपने गूगल समूह को प्रतिबंधित किया!

clip_image002

खबर वैसे है तो अविश्वसनीय-सी, मगर बेहद मज़ेदार है और सत्य है. गूगल वैसे भी किसी भी खाते को संदेहास्पद मानकर, उपयोगकर्ता को बिना किसी पूर्व सूचना टिकाए, कभी भी बन्द कर सकता है. हाल ही में अमित अग्रवाल (डिजिटल इंस्परेशन) के गूगल खाते को बिना किसी पूर्व सूचना के, संदेहास्पद मानकर बन्द कर दिया था.

हाल ही में गूगल टाक लैब एडीशन डिस्कशन समूह को कुछ समय के लिए ही सही, गूगल की सेवा शर्तों के उल्लंघन के मद्देनजर प्रतिबंधित कर दिया गया. जबकि यह समूह गूगल टाक के विकासकर्ताओं तथा उसके उपयोगकर्ताओं के बीच संवाद का एक बढ़िया माध्यम रहा है. गूगल समूहों की लोकप्रियता के कारण स्पैमरों की भी नजर इन समूहों पर रहती है और वे समूहों को स्पैम से पाटते रहते हैं. संभवतः इन्हीं कारणों से सुरक्षा के लिहाज से उक्त समूह को स्वचालित रूप से प्रतिबंधित किया गया हो.

एक आम इंटरनेट प्रयोक्ता की गूगल पर निर्भरता बढ़ती जा रही है. ऐसे में किसी दिन आपका गूगल खाता प्रतिबंधित हो गया या भूलवश मिट-मिटा गया तो क्या होगा?

एक ही सलाह है – अपने अंडे एक ही टोकरी में न रखें!

कुछ सुझाव -

  • ठीक है, जीमेल का जवाब नहीं, मगर साथ ही एक वैकल्पिक ईमेल खाता यदा कदा प्रयोग करते रहें.
  • जीमेल के एड्रेस बुक का समय समय पर बैकअप लेते रहें.
  • जीमेल को थंडरबर्ड/आउटलुक के साथ पॉप एक्सेसे के साथ प्रयोग करें जिससे ईमेल की एक प्रति आपके कंप्यूटर पर भी संग्रहित रहेगी. समय समय पर डाटा बैकअप लें. खासकर जरूरी संलग्नकों व ईमेल संदेशों का.
  • जीमेल को अपने मोबाइल फोन नंबर के साथ सक्रिय करें.

आपके कोई अनुभव / सुझाव हैं? आग्रह है कि हम सब से साझा करें.

(चित्र साभार – गूगल ऑपरेटिंग सिस्टम )

विषय:

एक टिप्पणी भेजें

हे भगवान! ऐसा भी हो सकता है!!

धन्यवाद इस महत्वपूर्ण जानकारी के लिये!

थैंक्स

रवि जी...

बहुत मुश्किल से ब्लॉगस्पोट का ब्लॉग खुला है.. ये समस्या काफी दिनों से है... आपकी पुरानी पोस्ट के अनुसार मैंने DNS भी बदला.. पर कोई विशेष फर्क नहीं... आज मैंने गूगल DNS डाला है... पर नतीजा नहीं... मजे की बात ये की ये कब खुलेगा कब नहीं कुछ पता नहीं... कोई हल हो तो बताए....

रवि जी, आपको नेट एड्रेस नामक इमेल प्रोवाइडर के बारे में जानकारी होगी| मैंने दो खाते इसमे बनाए है| ये बाकायदा सालाना शुल्क लेते है और बदले में उम्दा सेवाए देते हैं| रेडिफ की भी पेड़ इमेल सर्विस है| मैंने ले रखी है| इसमे विज्ञापन नहीं आते हैं| जीमेल की पेड़ सर्विस के लिए प्रयास रत हूँ| मेरा कोटा फुल हो गया है| एक्स्ट्रा स्पेस के नाम पर नाममात्र का शुल्क देकर आप जीमेल को सदा एक्टिव रख सकते हैं ऐसा मेरा मानना है|

यह जानकारी हम सब के साथ बांट कर आपने बहुत अच्छा किया। रवि जी, अभी कुछ दिन पहले दिल्ली की ब्लॉगर मीट में भी अजय झा जी हम सब से यही बात कह रहे थे कि एक जीमेल का एक बैकल्पिक खाता खोल के रखें --मुझे कभी भी यह समझ नहीं आया कि इस से क्या होगा? आप से अनुरोध है कि इस के बारे में यह विस्तार से लिखें।
और अपने ब्लॉग का बैक-अप लेने की क्या विधि है इस का भी विस्तार से खुलासा करें। बहुत धन्यवाद होगा।

जीमेल की सेटिंग में रिकवरी ईमेल को किसी और प्रदाता का प्रयोग करें

@डॉ. प्रवीण - अपना ब्लॉग बैकअप लेने के लिए सबसे बढ़िया औजार एचटीट्रैक है - विवरण व डाउनलोड यहाँ है -
http://www.httrack.com/

वैकल्पिक खाता जीमेल का भी हो सकता है और किसी अन्य - जैसे कि याहू इत्यादि का. उदाहरण के लिए, रचनाकार के सारे ईमेल मैं अपने स्वयं के खाते पर अग्रेषित करता हूं, तथा एक ईमेल खाता एओएल पर भी है जहाँ रचनकार तथा स्वयं के ब्लॉग पोस्टों को सब्सक्राइब कर वहाँ सहेजता हूँ.

बहुत अच्छी प्रस्तुति।
इसे 06.06.10 की चर्चा मंच (सुबह 06 बजे) में शामिल किया गया है।
http://charchamanch.blogspot.com/

बहुत बहुत धन्यवाद, रवि जी। आप के बहुमूल्य सुझावों के लिये। वैकल्पिक ई-मेल वाली बात भी अब मेरी समझ में आई। शुक्रिया।

इस बारे मे नही सोचा था.. ध्यान दिलाने के लिये शुक्रिया!!

अरे बाबा रे ..जानकारी देने का बहुत शुक्रिया.

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget