हिन्दी ब्लॉगिंग की दशा और दिशा पर अमित गुप्ता के बिंदास खयाल

हिन्दी ब्लॉगिंग की दशा और दिशा पर अमित गुप्ता के बिंदास खयाल

पिछले दिनों अमित गुप्ता - दुनिया मेरी नजर से - से आश्चर्यजनक, अप्रत्याशित, सुखद मुलाकात हुई. अमित अपने बेबाक-बिंदास खयालों के लिए जाने जाते रहे हैं. अमित का मानना है कि मैंगलोर में राम-सेना के तांडव-नृत्य जैसे विषयों पर ब्लॉगरों ने कुंजियाँ कम खटखटाईँ, जबकि चेतन कुंटे – बरखा दत्त जैसे नॉन ईशू पर माउस ज्यादा चलाए गए. हिन्दी ब्लॉगिंग से संबंधित तमाम विषयों पर अमित के बेबाक बयान देखें नीचे दिए गए वीडियो पर.

हिन्दी ब्लॉगिंग पर अमित गुप्ता का बेबाक बयान (भाग 1)

हिन्दी ब्लॉगिंग पर अमित गुप्ता का बेबाक बयान (भाग 2)

टिप्पणियाँ

  1. बहुत बढ़िया रवि जी...
    अभी पहली कड़ी सुन पाया हूं...दूसरी रात को सुनूंगा...

    उत्तर देंहटाएं
  2. अच्छा इण्टरव्यू। और मुझे भी लगता है कि हिन्दी ब्लॉगिंग में कण्टेण्ट बढ़ा है, तूतू मेंमें कम हुई है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. एक के बाद एक सेलेब्रिटी...क्या बात है! अच्छा साक्षात्कार रहा...


    मुझे लगता है तुं तुं मैं मैं करने वाले अब परिपक्व हो गए हैं :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. ज्ञान जी से सहमत कि कंटेंट बढ़ा है और तू तू मैं मैं ...कम हुई है , पर इससे बड़ी उपलब्धि लगातार आगे बढ़ने की हैं /शायद किसी चीज के प्रक्रियागत रूप से आगे बढ़ने में यह उतना ही स्वाभाविक रहा हो ???

    उत्तर देंहटाएं
  5. हूँ ! सुन रहा हूँ !

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुनलिये दोनो भाग! बड़ी समझदारी की बात करते हैं भाई अमित! काम बढ़ाने वाला सुझाव यह है कि इसे पोस्ट के रूप में भी पेश किया जाये ताकि लोग इसे पढ़ भी सकें!!

    उत्तर देंहटाएं
  7. मेरा कंप्यूटर भी सुनने में साथ नहीं देता. पोस्ट में भी प्रस्तुत कर सकें तो हम भी सहभागी हो सकेंगे.

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें