टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

एच पी की तकनीकी अश्रेष्ठता


कल अमितजी ने मेरे जले पर नमक छिड़क दिया था और फिर बाद में आलोकजी ने तो उस जले पर मिर्च ही बुरक दिया. उन्होंने एच पी यानी हैवलेट्ट पैकर्ड की तकनीकी श्रेष्ठता सिद्ध करने की खुद की डींग मारने वाली बात बताई तो न सिर्फ मेरा हालिया घाव हरा हो गया, बल्कि दर्द भी केंसर नुमा असहनीय हो गया.

चलिए, विस्तार से बताता हूँ कि आखिर हुआ क्या था.

मुझे एक लॅपटॉप की आवश्यकता फिर से महसूस हुई तो (मेरा पुराना कॉम्पेक लॅपटॉप – 33 मे.हर्त्ज, पेंटियम 386, 250 मेबा हार्ड डिस्क, 8 मेबा रैम, विंडोज 95, उस वक्त का सबसे उन्नत सिस्टम – आठ साल की अनवरत, बढ़िया सेवा देने के पश्चात् कोई दो साल पहले मर खप चुका था, और मेरी मोबिलिटी लगभग नहीं के बराबर ही थी इसीलिए आवश्यकता महसूस नहीं हो रही थी, परंतु अनूपजी से बातचीत के दौरान यह पता चला कि मोबिलिटी तो घर के भीतर भी हो सकती है - बेडरूम ड्राइंग रूम, छत आंगन - कहीं भी...) मैंने तमाम जगहों पर जानकारियों, स्पेसिफिकेशन व कीमतों को छान मारा. कई कई मर्तबा शूट आउट देखे, घंटों कंपेरिजन चार्ट देखे, दर्जनों बेस्ट बाई ऑफर देखे, बिल्ड योर लॅपटॉप साइट पर जाकर कोई दो दर्जन मर्तबा अपना खुद का नया लॅपटॉप बनाया और फिर कोई महीने भर के प्रयासों के बाद अंततः कॉम्पेक प्रेसारियो वी3225एयू को खरीदने का मन बनाया. यह काफी कुछ उन्नत किस्म का तो था ही, मेरी जेब पर भी भारी नहीं पड़ रहा था. डिजिट पत्रिका में 'संपादकीय बेस्ट बाय' का खिताब भी इसे इसकी श्रेणी में मिला हुआ था.

अब जरा कॉम्पेक प्रेसारियो वी3225एयू के मुख्य तकनीकी स्पेसिफ़िकेशन पर नजर डालें –

प्रोसेसर – एएमडी ट्यूरियॉन 64 एम के-36, 2.0 GHz

ओ.एस – विंडोज विस्ता होम बेसिक

चिपसेट, मेमोरी, ---- पता नहीं क्या क्या, पर, बढ़िया.

यहां मुख्य दो स्पेसिफिकेशन बताने का उद्देश्य यह है कि एचपी ने मुझे कहाँ घायल किया, कहां मारा.

जैसा कि आपने ऊपर पढ़ा, इस लॅपटॉप में प्रोसेसर एएमडी का, 64 बिट तकनॉलाजी का उन्नत, मोबाइल प्रोसेसर लगा हुआ है. इसकी खूबी का पूरा इस्तेमाल 64 बिट ओएस व अनुप्रयोगों के जरिए ही हो सकता है. तो जब मैंने यह लॅपटॉप खरीद लिया तो पहला जोरदार बारूदी झटका यही लगा. लॅपटॉप का हार्डवेयर तो 64 बिट तकनॉलाजी का है, मगर ऑपरेटिंग सिस्टम 32 बिट तकनॉलाजी का भर दिया गया है. इसमें विंडोज विस्ता होम बेसिक 32 बिट का पूर्व संस्थापित आया हुआ है. और, एचपी के इस तकनीकी बैकवर्डनेस की तो मैंने कल्पना ही नहीं की थी!

यानी बाहरी आवरण दिखावे के लिए तो महल नुमा है, परंतु अंदर माल झोपड़ पट्टी का भर रखा है है.

आगे अभी और भी झटके खाने थे मुझे. इस लॅपटॉप के साथ वैसे तो जेनुइन विंडोज विस्ता होम बेसिक आया हुआ है, परंतु कोई इंस्टालेशन मीडिया नहीं है. इंस्ट्रक्शन मैनुअल में लिखा है कि सबसे पहले रिकवरी मैनेजर प्रोग्राम के जरिए इंस्टालेशन मीडिया - रीस्टोर बैकअप डीवीडी बना लें. बैकअप डीवीडी बनाने के अब तक के मेरे तीन प्रयास असफल रहे हैं.

इसके बाद कॉम्पेक ऑनलाइन पंजीकरण संवाद बक्से ने जीना हराम कर दिया. हर दस मिनट में यह नामालूम कहाँ से प्रकट हो जाता था. पाँच बार पंजीकृत होने के बाद भी यह फिर से प्रकट हो जाता, डेस्कटॉप पर जमा रहता और टास्क मैनेजर के जरिए ही भागता. इससे मुक्ति पाने के लिए इसके एक्जीक्यूटेबल फ़ाइल को ढूंढ कर ठिकाने लगाने में बड़ा वक्त जाया हो गया.

तो आपको नहीं लगता कि एचपी ने अपनी तकनीकी अश्रेष्ठता दिखाने के लिए एक बम मुझ पर फोड़ा है? आई एम फ़ीलिंग चीटेड. रीयली चीटेड. व्हाट डू यू से?

-----------------.

एक टिप्पणी भेजें

ये लैप्टॉप आपने कितने का लिया है? मैंने भी हाल ही में एक कॉम्पॅक का लॅप्टॉप लिया है, जिसमें सेलेरोन प्रोसेसर है और विण्डोज़ विस्ता होम बेसिक है। लेकिन मशीन और तन्त्रांश 64/32 के हैं या नहीं ध्यान नहीं।

एक चीज़ और - एचपी ने कॉम्पैक खरीदा है लेकिन ठप्पा बचा के रखा है। बढ़िया माल एचपी के नाम से बिकेगा और सस्ता माल कॉम्पॅक के नाम से।

@आलोक
यह मुझे 33 हजार रुपए में पड़ा.

रवि जी, मुझे भी लैपटॉप खरीदना है और मैंने भी यही लैपटॉप लेने का मानस बनाया था जो आपने लिया है लेकिन अब मैंने आपका दर्द जानने के बाद मन को रोक लिया है। आप यह बताएं कि फिर कौनसा लैपटाप खरीदा जाए क्‍योंकि मेरा तो तकनीकी ज्ञान कमजोर है। आपके अनुभव ने मुझे बचा लिया।

@कमल शर्मा
कमल जी, जैसा कि आलोक ने ऊपर कहा, बढ़िया माल एचपी के नाम से बिकता है. तो आप कॉम्पेक न लें. एच पी या डेल का इंटेल ड्यूएल कोर मॉडल ले सकते हैं और इसी कॉन्फ़िगरेशन में करीब अड़तीस चालीस हजार के आसपास वर्तमान भाव पड़ सकता है.

रवि जी, आपके साथ सहानुभूति है, आलोक जी ने जो कहा उससे भी इत्तेफ़ाक रखता हूँ, यह पहली बार नहीं कि मैं किसी की दुख भरी कॉम्पेक गाथा सुन/पढ़ रहा हूँ। लेपटॉप में आजकल सस्ते वाले में Lenovo अधिक बेहतर माना जा रहा है और महंगे वालों में Sony Vaio!! Dell की सर्विस भारत में उतना कामयाब नहीं है इसलिए इससे दूर ही रहने की सलाह देते हैं हार्डवेयर इंडस्ट्री में बैठे मेरे मित्र। अमेरिका वगैरह होता तो निश्चय ही Dell पहला विकल्प होता। :)

साथ ही आपको सलाह दूँगा रवि जी कि चाहे "डिजिट" पत्रिका हो या "चिप" या कोई अन्य, किसी ने यदि किसी उपकरण को "best buy" कह दिया तो आवश्यक नहीं कि वह सत्य हो। इसमें कई factor होते हैं जिनमें जाँच किए गए ब्रांड और जाँचकर्ता का निजि bias तो होते ही हैं साथ ही बहुतया रोकड़ा भी होता है(जिसने ज़्यादा दिया उसका माल..... समझ गए ना)। इसलिए मैं इनको पढ़ तो लेता हूँ लेकिन सिर्फ़ जानकारी के लिए, क्योंकि अपने अनुभव से देख चुका हूँ कि 10-20% से अधिक सत्य नहीं होते ऐसे जाँच परिणाम। :)

रही बात आपके जले पर नमक छिड़कने की, तो विश्वास कीजिए ऐसा कोई इरादा नहीं था, मैं तो स्वयं एचपी या कॉम्पेक का कोई उपकरण प्रयोग नहीं करता, वो तो उनका वीडियो देखा तो सोचा कि पोस्ट करने लायक कुछ रूचिकर मिला इसलिए छाप दिया। :)

@अमित,
अरे अमित जी, मैं तो आपकी पोस्ट के बहाने से कॉम्पेक को कोस रहा था. खरीदने से पहले मुझे आपकी राय ले लेनी थी. आगे से याद रखूंगा.

अरे अमित जी, मैं तो आपकी पोस्ट के बहाने से कॉम्पेक को कोस रहा था.

हा हा हा!! :D

तहाँ क्या सही है इतना तो कह नही सकता, लेकिन यहाँ डेल सस्ता और बेहतर विकल्प लगा था मुझे जब पिछले साल मैने लिया था। डेल का सबसे बढ़िया ये लगा कि आप अपनी पसंद से इसको कस्टमाईज कर सकते हैं।

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget