आसपास की कहानियाँ ||  छींटें और बौछारें ||  तकनीकी ||  विविध ||  व्यंग्य ||  हिन्दी || 2000+ तकनीकी और हास्य-व्यंग्य रचनाएँ -

जूस्ट : टीवी जैसा कि आप हमेशा से देखना चाहते थे!


टेलिविजन का जादू - इंटरनेट की अंतर्निर्मित शक्ति के साथ. जूस्ट आपको अपने टेलिविजन चैनलों का आनंद देने के लिए संपूर्ण नियंत्रण प्रदान करता है जिससे टेलिविजन की आपकी दुनिया बदल कर रह जाती है.

ये कुछ पंक्तियाँ आप पाएंगे जूस्ट के मुख पृष्ठ पर. यू-ट्यूब, ब्लिंक्स इत्यादि वीडियो आधारित वेब साइटों में जहाँ आप अपने पसंद के हर संभव वीडियो और टेलिविजन चैनलों के एपीसोड्ड ढूंढ ढांढ कर आराम से और आसानी से मुफ़्त में देख सकते हैं, जूस्ट में ऐसा नया क्या है?

जूस्ट की कल्पना आपको इंटरनेट के जरिए एक सामान्य टेलिविजन चैनल की सुविधा प्रदान करने की है. और, आरंभिक जांच परख में यह अपने काम में सफल प्रतीत होता है - बशर्ते आपके पास भरोसेमंद ब्रॉडबैण्ड सेवा हो - कम से कम 1 एमबीपीएस डाउनलोड सुविधा सहित.

कोई दो-तीन महीने पूर्व मैंने जूस्ट बीटा टेस्टिंग के लिए पंजीकरण किया था. कल उनका आमंत्रण प्राप्त हुआ तो कुछ जांच परख किया गया. मैंने रेंडमली एक चैनल पर एक एपीसोड चुना - वर्ल्ड ऑफ़ स्टुपिड. मेरे बीएसएनएल के ब्रॉडबैण्ड में जो कहने को तो 2 एमबीपीएस सेवा है, यह भयंकर रूप से अटक अटक कर चला. एक वर्कअराउण्ड है - आप इस एपिसोड को चलाकर जूस्ट को पॉज़ कर दें. फिर आराम से आधे घंटे बाद प्ले करें. तब तक यह आपके हार्ड डिस्क में अपेक्षित बफर मेमोरी बनाकर रखता है और फिर आप एपिसोड का आनंद ले सकते हैं.

जूस्ट की पिक्चर क्वालिटी यू-ट्यूब इत्यादि के बनिस्वत बहुत अच्छी है. जूस्ट का कहना है कि वे सीडी क्वालिटी की पिक्चर व साउंड देंगे. मेरे कम्प्यूटर में ब्रॉडबैण्ड के सही नहीं होने से इसकी सही जांच नहीं हो सकी फिर भी पिक्चर क्वालिटी अन्य ऑनलाइन वीडियो सेवाओं से तो कई गुना बेहतर रही.

जूस्ट का इस्तेमाल आसान है. इसका करीब 10 एमबी की संस्थापना फ़ाइल को कम्प्यूटर पर संस्थापित करना होता है बस. और फिर आप चालू हो जाएं दुनिया के तमाम टेलिविजन चैनलों का दर्शन करने. न किसी केबल की आवश्यकता, न केबल वाले की, न सेटटॉप बॉक्स की और न डिश एंटीना की. और ऊपर से यह किसी भी मासिक सब्सक्रिप्शन शुल्क से बिलकुल आजाद है यानी कि बिलकुल मुफ़्त. हाँ, आपको एक बार प्रारंभ में जूस्ट में पंजीकृत होना होता है ताकि आपकी पसंदगी इत्यादि जूस्ट पर सहेजी रखी जा सके.

जूस्ट विज्ञापन आधारित सेवा होगी - यानी कि टेलिविजन के चैनलों में आपको विज्ञापन इत्यादि देखने को मिलेंगे - और हो सकता है कि संदर्भित विज्ञापन भी. यानी कि किसी एपिसोड को दर्शक अमरीका में देख रहा है तो वहाँ उसे अमरीकी होटल का विज्ञापन दिखे और भारतीय दर्शक को भारतीय ढाबे का. और, चूंकि यह विज्ञापन आधारित सेवा है, इसीलिए यह बिलकुल मुफ़्त है. जूस्ट हालाकि मुफ़्त है, मगर यह प्रतिघंटा 350 एमबी डाउनलोड तथा 100 एमबी अपलोड बैंडविड्थ खाता है. अतः अगर आपके पास अनलिमिटेड खाता नहीं है, तो करीब दस घंटे जूस्ट देखने पर 1 जीबी की सीमा आसानी से पार हो सकती है.

जूस्ट की एक और बड़ी सुविधा है - आप अपने पसंदीदा चैनलों व एपिसोडों को कभी भी किसी भी समय देख सकते हैं - अपने पसंदीदा समय के अनुसार रीशेड्यूल कर सकते हैं और अपना मनचाहा चैनल बना सकते हैं जिसमें दर्जन-दो-दर्जन अलग अलग चैनलों के अलग अलग एपिसोडों का सम्मिश्रण भी हो सकता है - यानी संभावनाएँ अनंत हैं.

जूस्ट में अभी तो दर्जनों चैनल हैं, भविष्य में सैकड़ों होंगे. और, मेरे रतलाम में जहाँ कि ले देकर सड़े गले पचासेक चैनल हैं, और प्रियरंजन दास मुंशी के बाबुओं की नजर कभी एएक्सएन और कभी फैशन टीवी पर लगती रहती है, ऐसे में हॉट एण्ड वेट जैसा अमरीकी चैनल तो मेरे टेलिविजन देखने में आनंद भर ही देगा. लगता है, मात्र इस एक कारण से ही जूस्ट चल निकलेगा. मगर फिर, इस टीवी चैनल पर सरकारी बंदिशों की बात न होने लगे! जूस्ट ब्लॉग के मुताबिक अमरीकी सीबीएस टेलिविजन नेटवर्क से बातचीत जारी है - सीबीएस नेटवर्क के सारे चैनल जूस्ट पर उपलब्ध करवाने हेतु.

तो, जब तक कोई बंदिश लगे, आप भी जूस्टिया लें.

Tag ,,,

टिप्पणियाँ

  1. अरे रवि जी एक निमंत्रण तो भेजिए।

    उत्तर देंहटाएं
  2. संजय बेंगाणी11:32 am

    अनंत सम्भावनाएं है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. बडे भाई इसमे वो बैन वाले चैनल भी है क्या काम की बात दबा गये

    उत्तर देंहटाएं
  4. अच्छी जानकारी दी है आपने..

    उत्तर देंहटाएं
  5. टीवी जैसा कि आप हमेशा से देखना चाहते थे - www.lordoftv.com

    उत्तर देंहटाएं
  6. रवि बडी सही जानकारी लाये हैं शुक्रिया। निमंत्रण भेजिये तो सही

    उत्तर देंहटाएं
  7. मुझे भी निमंत्रण भेजिए सरकार. :)

    उत्तर देंहटाएं
  8. अनुराग जी, तरूण जी, पंकज जी,

    जूस्ट वाले चालाक हैं - उन्होंने अभी मेरे खाते में एक भी निमंत्रण सक्षम नहीं किया है. मैंने ज्यादा जूस्ट देखा नहीं शायद इसलिए ? जो भी हो, जैसे ही यह सक्षम होता है, तत्काल आप सभी को भेजता हूँ.

    फिर भी, बीटा टेस्टिंग हेतु आप वहाँ साइट पर पंजीकरण कर सकते हैं. हो सकता है सीधे आपको जूस्ट से ही निमंत्रण प्राप्त हो जाए.

    संजय जी, अरूण जी, अभय जी तथा एजी जी,
    धन्यवाद.

    अरूण जी,
    इसमें वो चैनल तो निसंदेह हैं जो भारत में तो आसानी से बैन हो सकते हैं!

    उत्तर देंहटाएं
  9. बाकी तो सब ठीक है रवि जी लेकिन कम स्पीड वाले तथा लिमिटेड कनेक्शन में बात नहीं बनेगी। मैं २५६ केबीपीएस और महीने की २.५ जीबी लिमिट वाले कनेक्शन पर हूँ, मेरे मतलब की यह चीज नहीं लगती।

    "मेरे बीएसएनएल के ब्रॉडबैण्ड में जो कहने को तो 2 एमबीपीएस सेवा है।"

    वाह! इसका मासिक शुल्क क्या है?

    उत्तर देंहटाएं
  10. श्रीश जी,
    मेरे पास भी वही 2.5 जीबी सीमा वाला कनेक्शन है बीएसएनएल का, परंतु उसे जनवरी 07 से 2MBPS पर अपग्रेड कर दिया गया है ऐसी जानकारी फ़ोन पर दी गई थी. परंतु स्पीड कभी भी 50-55 KBPS से अधिक नहीं मिलती.

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें