June 2017

अंतर्राष्ट्रीय हिंदी ब्लॉग दिवस - आइए, पुराने स्वर्णिम दिनों को याद करें...

हिन्दी ब्लॉग सर्वेक्षण : परिणाम हाजिर हैं रवि रतलामी [ Ravishankar Shrivastava मई 08, 2009 वैसे तो किसी सर्वेक्षण की सफलता या ये कहें कि उस...

क्या आप पिछले कुछ दिनों से कुछ अधिक बेवकूफी करने लगे हैं?

तो, ज्यादा स्मार्ट बनें, और अपने स्मार्टफ़ोन को फेंक दें। पर, शायद आप ऐसा नहीं कर पाएं। तो? और अधिक बेवकूफियों के लिए तैयार रहें!

व्यंग्य जुगलबंदी - 40 - योग करो, सुख से जियो

भूमिका : जबकि हिंदी व्यंग्य की दुनिया व्यंग्य क्या है, व्यंग्यकार क्या है, क्या व्यंग्य केवल उंगली में गिने जाने वाले व्यंग्यकारों तक सिमट ग...

हास्य-व्यंग्य पॉडकास्ट - जुगलबंदी - खेती

हास्य-व्यंग्य की जुगलबंदी 38 - खेती पर लिखी मेरी व्यंग्य रचना को अर्चना चावजी ने आवाज दी है. उनका धन्यवाद और आभार. व्यंग्य में, जाहिर है ड...

32 और या 64 बिट विंडोज़ 10 में रेमिंगटन हिंदी - कृतिदेव लेआउट में यूनिकोड में टाइप कैसे करें

how to type in remington kritidev layout in 32 / 64 bit windows 10 मरफ़ी का नियम यहाँ सत्य है - हर दिए गए सॉफ़्टवेयर का नया, उन्नत संस्करण त...

बिन पेंदी का....

लोटा नहीँ, डस्टबिन! स्वच्छ भारत अभियान की तो....

कोडी kodi : अपने क्रोमकास्ट, अमेजन फायर और एप्पल टीवी का विसर्जन करने का समय आ गया!

वैधानिक चेतावनी – यदि आप क्रोमकास्ट, अमेजन फायर या एप्पल टीवी जैसे मीडिया रेंडरर का इस्तेमाल करते हैं, तो इस आलेख को पढ़ने के बाद उन्हें कचर...

व्यंग्य जुगलबंदी–38 : भारतीय खेती की असली, आखिरी कहानी

दृश्य एक पहला : यार! बहुत दिनों से कोई स्कीम नहीं लाए दूसरा : सर, एक एकदम चकाचक स्कीम लाया हूँ. दिल खुश हो जाएगा. पहला (खुश होकर, उम्मी...

भारतीय सिस्टम फरार है!

पूरे एक दशक में भी भारत नहीं बदला. एक जज फरार है और भारतीय पुलिस उसे खोज नहीं पाई है! पूरा सिस्टम ही फरार है. प्रस्तुत है 2005 में फरार पर ल...

व्यंग्य जुगलबंदी–38 : साहित्यिक खेती

साहित्यिक खेती यदि आपमें पत्रकारीय गुण हैं तो आप साहित्यिक खेती के लिए सदा-सर्वदा से उपयुक्त पात्र होंगे, वो भी इस सृष्टि के प्रारंभ से, और ...

जितना भी दो, थोड़ा ही है

ख्वाहिशें ऐसी कि हर मेगा बाइट पर स्ट्रीमिंग रूके!

व्यंग्य जुगलबंदी–37 : टॉपरों से भयभीत

(कार्टून – साभार काजल कुमार के कार्टून) दुनिया में केवल और केवल दो तरह के लोग होते हैं. या तो टॉपर या फिर टॉपरों से भयभीत. मैं दूसरे किस्म ...

जियो प्रभाव

पर, मुफ्त के माल का कोई लेवाल है भी?

विंडोज़ क्रिएटर्स अपडेट और डॉल्बी एटमॉस साउंड सिस्टम

यदि आप गीत संगीत वह भी अच्छी गुणवत्ता का सुनने-सुनाने का शौक फरमाते हैं तो डॉल्बी एटमॉस के बारे में जरूर जानते होंगे और बहुत संभव है कि आपके...