April, 2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं सभी दिखाएं

धन्यवाद एनिमीग्राफ : फ़ेसबुक जैसे सोशल मीडिया अंततः एंटी-सोशल हो ही गए.

अभी तक हम गर्व से अपने 5000 (भई, सीमा ही इतनी है, क्या करें!) फ़ेसबुक मित्रों की सूची सबक…

क्या आप सोशल मीडिया यानी ब्लॉग, ट्विटर, फ़ेसबुक में मनमर्जी कुछ भी लिख देते हैं?

तो जरा सावधान हो जाइए. लन्दन की एक अदालत द्वारा ललित मोदी के खिलाफ दिया गया फैसला सोशल मीड…

कुछ रचनाकारों व चिट्ठाकारों को जबरन छुट्टी पर नहीं भेज देना चाहिए?

सेना के मुखिया को जबरन छुट्टी पर भेजने की बात की जा रही है. पर आप यदि अपने इधर आजू बाजू द…