October, 2008 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं सभी दिखाएं

प्रिये, मेरे इस कायाकल्प में एक तुम्हारा ही तो हाथ है...

फुरसत के किसी क्षण यदि आप अपने आप पर गौर फरमाएँगे कि आज से पाँच या दस साल पहले कैसे थे, त…

हिन्दी रचनाकार बनाम रोमनीकृत रचनाकार : तकनीक का बेजा इस्तेमाल?

रचनाकार का रोमनीकृत (फ़ॉनेटिक अंग्रेज़ी) सामग्री वाया चिट्ठाजगत फ़ीड स्वचालित तरीके से यह…

भयंकर चेतावनी- इस साइट पर जाना आपके कम्प्यूटर के लिए नुकसानदेह हो सकता है!

क्रैकरों के निशाने पर बड़ी, प्रचलित साइटें हमेशा रहती हैं. ताकि वे उसके जरिए अपना ऑनलाइन …

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के सृजक लिनुस टॉरवाल्ड्स का ब्लॉग : सादा जीवन उच्चविचार?

नेट की दुनिया पर अगर आपका वजूद है, तो यकीनन आपका कोई न कोई एक ब्लॉग होगा. लिनुस टॉरवाल्ड्…

स्मार्ट फ़ोनों (गूगल एण्ड्रायड?) में अनुपलब्ध सुविधाएँ

हमारे मोबाइल फोन दिनोंदिन स्मार्ट होते जा रहे हैं. इतने स्मार्ट कि आमतौर पर उपयोक्ता को ह…