शनिवार, 14 अक्तूबर 2017

आ गया !! किंडल व किंडल ऐप्प में हिंदी ईबुक का आनंद सुनकर लें.

किताबें पढ़ने का आनंद अब आप अपनी आँखों से नहीं, कानों से लें. आँखों को जरा आराम दें. सभी किताबें तो नहीं, मगर किंडल पर उपलब्ध अधिकांश हिंदी ...

सोशल मीडिया की दीवाली - हैप्पी या शुभ?

हैप्पी दीपावली बनाम शुभ दीपावली - अब, जब आदमी का खाना-पीना-सोना यानी लगभग सबकुछ सोशल मीडिया के इर्दगिर्द हो रहा है तो फिर उसकी ईद-क्रिसमस-हो...

गुरुवार, 12 अक्तूबर 2017

तकनीकी विकास तो, सचमुच पगला गया है!

राजनीतिक विकास का पागलपन देखना या दिखाई देना सापेक्षिक है. राजनीतिक विकास अर्धपागलों को पागल लग सकता है, पागलों को सामान्य और सामान्य को अर्...

बुधवार, 11 अक्तूबर 2017

अमेजन किंडल पर अब किंडल-ईबुक के रूप में प्रकाशित करें अपनी हिंदी किताबें

नीचे का स्क्रीनशॉट देखें - किंडल डायरेक्ट पब्लिशिंग सुविधा के तहत, किंडल पर अब आप हिंदी किताबें किंडल ईबुक फ़ॉर्मेट में प्रकाशित कर सकते हैं...

सोमवार, 9 अक्तूबर 2017

अपने कंप्यूटिंग उपकरणों में देवनागरी में विविध प्रकार से, धड़ल्ले से कैसे लिखें?

आप चाहे हिंदी के - खांटी, उत्साही, युवा, बुजुर्ग, वरिष्ठ, पुरस्कृत (भले ही लौटा दिया हो), चर्चित इत्यादि-इत्यादि जिस भी किस्म के भी पाठक-लेख...

रविवार, 8 अक्तूबर 2017

मैटर की फ़ॉर्मेटिंग बनाए रखते हुए फ़ॉन्ट कन्वर्ट कैसे करें

अभी भी लोग एक अच्छे फ़ॉन्ट कन्वर्टर की तलाश में हैं. दरअसल लोगों के पास अपने कंप्यूटरों के हार्ड डिस्क में पुराने फ़ॉन्टों में इफरात माल पड़...

गुरुवार, 5 अक्तूबर 2017

व्यंग्य जुगलबंदी - बापू की लखटकिया लंगोटी

व्यंग्य 15 लाख रुपए की बापू की लँगोटी (चित्र - 2009 में मो ब्लॉ नामक कंपनी ने गांधी कलम बाजार में उतारा था जिसकी कीमत 14 लाख रुपए थी उस समा...

गुरुवार, 28 सितंबर 2017

विंडोज 10 में नरेटर ऐप्प से यूनिकोड हिंदी टैक्स्ट का आनंद सुनकर लें

नरेटर ऐप्प विंडोज 10 में अंतर्निर्मित आता है, जो विंडोज में तमाम चीजों को बोलकर सुनाता है. यह हिंदी में भी सुना सकता है. इसके लिए यूनिकोड हि...

मंगलवार, 26 सितंबर 2017

व्यंग्य जुगलबंदी 53 - बांध बनते हैं तभी तो ढहते हैं...

... क्योंकि मेरे सब्र का बांध तो कब का टूट चुका है! व्यंज़ल जिनके सीपेज भी हैं पूरे सौ प्रतिशत वे भी गर्व से लिए घूम रहे हैं बांध जिन्हें ...

व्यंग्य जुगलबंदी 52 : आपकी रेलगाड़ी में ब्रेक है या नहीं?

व्यंज़ल किसी की एक्सप्रेस, दुरंतो या पैसेंजर रेलगाड़ी कोई समय पर है तो कोई विलम्बित रेलगाड़ी भगवे और हरे रंग में उलझा है जमाना उधर चलो चलाएँ...

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---