ये ल्लो, अब आवाज़ (आपके मीडिया प्लेयर से निकलने वाली,) भी ऑब्जैक्ट ओरिएंटेड हो चली...

image

यदि आप गीत संगीत के दीवाने हैं, तो जाहिर सी बात है कि अच्छे स्पीकर, अच्छे एवी प्लेयर-रिसीवर का भी थोड़ा बहुत शौक रखते होंगे, और बहुत संभव है कि आपको डॉल्बी आदि का भी थोड़ा बहुत ज्ञान हो.

कोई बीस बरस पहले कैसेट प्लेयरों पर डॉल्बी नॉइस रिडक्शन सिस्टम का नाम सुना था.

कैसेट प्लेयर मैग्नेटिक होते थे और उनमें रेकार्डिंग के दौरान मैग्नेटिक हिसिंग नॉइस घुस जाती थी. इसे डॉल्बी नॉइन रिडक्शन सिस्टम नामक नई टेक्नोलॉज़ी के जरिए कम किया जाता था, जिससे संगीत सुनने का आनंद बढ़ जाता था.

अब वह आनंद - ऑब्जैक्ट ओरिएंटेड हो गया है. आपके मीडिया प्लेयरों के स्पीकरों की आवाज में एक नया, तीसरा आयाम जुड़ गया है - स्थान और ऊंचाई का. तो, किसी आइटम सांग में बज रहे ढोल और घुंघरू की आवाज़ें अब एक ऑब्जैक्ट के रूप में प्रोसेस होंगी और आपके कमरे में ठीक वहीं बजेंगी, जहाँ (भाई, 3डी टीवी का जमाना है,) नृत्यांगना के पैर हैं ढोली का ढोल. है न मजेदार?

जमाना डॉल्बी एटमॉस और डीटीएस X तक पहुँच गया है, जो आपके गीत संगीत के सुनने के आनंद को, जाहिर है सहस्र गुना बढ़ा देता है.

मामला जरा तकनीकी है, और अधिक जानकारी मांगता है? यहाँ से विवरण प्राप्त करें.

और, क्या आपको पता है कि संगीत के दीवानों की कमी नहीं है. इंटरनेट के स्ट्रीमिंग और अनलिमिटेड डाउनलोड के जमाने में  लोग अब भी रेकॉर्ड प्लेयर अथवा सीडी से गीत-संगीत सुनना चाहते हैं, और अच्छी गुणवत्ता के संगीत के लिए अपनी जेबें भी ढीली करते हैं. जरा नीचे निगाह मारें -

image

विषय:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[blogger][facebook]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget