मंगलवार, 15 सितंबर 2015

रवि रतलामी को राष्ट्रीय भाष्य गौरव पुरस्कार 2015-2016 प्रदत्त

इस नाचीज को राष्ट्रीय भाष्य गौरव पुरस्कार 15-16 प्रदान करने की घोषणा हाल ही में की गई है -

राष्ट्रीय भाष्य गौरव पुरस्कार २०१५-२०१६> Bhashya gaurav आनंद ही आनंद फाउंडेशन वर्ष २०१५ – २०१६ के लिए राष्ट्रीय भाष्य गौरव पुरस्कार की घोषणा करता है। इस घोषणा के साथ भारतीय भाषाओं के प्रोत्साहन के लिए चयनित व्यक्तियों को उनके योगदान के लिए सहर्ष धन्यवाद ज्ञापित करता है। वर्ष २०१५ -१६ के लिए निम्नांकित नाम राष्ट्रीय भाष्य गौरव चुनाव समिति के द्वारा चुने गये हैं-

१. आदरणीय सर्वश्री शहरोज़ क़मर – रांची , झारखंड, भारत

२. आदरणीय अनुराग शर्मा – पिट्सबर्ग , संयुक्त राज्य अमेरिका

३. आदरणीय सुशील सिद्धार्थ – दरिया गंज , नई दिल्ली, भारत

४. आदरणीय शाहिद मिर्ज़ा शाहिद – सरधना ( मेरठ) , उत्तर प्रदेश, भारत

५. आदरणीय सरवत जमाल – बस्ती , उत्तर प्रदेश, भारत

६. आदरणीय रवि रतलामी – भोपाल , मध्य प्रदेश, भारत

७. आदरणीय राकेश खण्डेलवाल – सिल्वर स्प्रिंग , संयुक्त राज्य अमेरिका

 

चयनित व्यक्तियों को राष्ट्रीय भाष्य गौरव पुरस्कार, ९ मार्च –२०१६ “कवि दिवस” के मौके पर बैतूल शहर में श्रद्धेय विवेक जी के द्वारा प्रदान किया जायेगा। अधिक जानकारी आप ऊपर स्लाइडशेयर की स्लाइडों में नेविगेट कर जान सकते हैं.

 

आनंद ही आनंद फाउंडेशन को धन्यवाद एवं साथी पुरस्कृतों को हार्दिक बधाईयाँ!

 

अन्य विवरण आप ऊपर स्लाइड शो को प्ले कर देख सकते हैं.

0 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---