क्या आप भी डिजिटल हो रहे हैं?

clip_image001

पेश है डिजिटल सर्वाइवल गाइड.

31 अक्तूबर से पहले महानगरों को डिजिटल होना है, और अप्रैल आते आते भोपाल इंदौर सरीखे बड़े नगरों को भी. यानी यदि आप केबल से टीवी देखते हैं तो आपको सेटटॉप बॉक्स लगाना अनिवार्य होगा.

ठीक है, आपने सेटटॉप बॉक्स लगवाने का निर्णय ले लिया है. परंतु सवाल है कि कौन सा लगवाएं? क्या वो सड़ा वाला लगवा लें जो आपका केबल ऑपरेटर आपके माथे पर थोप कर चला जाएगा? भगवान के लिए, नहीं!

ये हैं कुछ चेक लिस्ट जिनके जरिए आप अपने मुताबिक सेटटॉप बॉक्स चुन सकते हैं या अपने केबल ऑपरेटर को बाध्य कर सकते हैं कि वो ऐसी सुविधाओं वाला सेटटॉप बॉक्स उपलब्ध करवाए.

सीआरटी टीवी के लिए

सीआरटी – यानी कैथोड रे ट्यूब वाले पुराने जमाने के भारी भरकम टीवी के लिए आप कोई सा भी सेट टॉप बॉक्स लगवा सकते हैं, क्योंकि इन पुराने जमाने के टीवी में आधुनिक टेक्नोलॉजी की टीवी – एचडी टीवी को दिखाने की सुविधा नहीं होती. यदि आपको आधुनिक टेक्नोलॉजी की एचडी टीवी और साथ ही 5.1 सराउंड सिस्टम युक्त होम थिएटर जैसा आनंद अपने टीवी से चाहिए तो जल्द ही ऐसे टीवी सेटों से छुटकारा पाएं और फ्लेट स्क्रीन, पतले एलसीडी, एलईडी या प्लाज़्मा टीवी खरीदें. प्लाज्मा को छोड़ कर बाकी एलसीडी और एलईडी टीवी आपके बिजली के बिलों को भी कम करते हैं क्योंकि ये कम बिजली खाते हैं. एलईडी टीवी सबसे कम बिजली की खपत करते हैं.

एलसीडी, एलईडी और प्लाज़्मा टीवी के लिए

· सबसे पहले तो यह देखें कि आपका टीवी सेट एचडी है या नहीं. यदि आपका टीवी सेट फुल एचडी 1080p है तब तो बहुत ही बढ़िया है. वैसे भी, यदि आपने अपना टीवी सेट हाल ही में एकाध वर्षों के भीतर खरीदा है तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं. आजकल हर टीवी एचडी कैपैबल ही आ रहे हैं.

· यदि आपका टीवी एचडी कैपेबल है तो उसके इनपुट इंटरफेस चेक करें और देखें कि उसमें न्यूनतम 1 एचडीएमआई इनपुट की सुविधा है या नहीं.

· यदि आपके टीवी में एचडीएमआई इनपुट की सुविधा नहीं है तो या तो आपका टीवी एचडी नहीं है, या फिर एचडी रेडी नाम से आपको गलत टीवी थमा दिया गया है. और यदि ऐसा है तो फिर आप भी सामान्य कोई सा भी सेटटॉप बॉक्स लगवा सकते हैं. आपके लिए कोई ज्यादा विकल्प नहीं है.

· यदि आपके टीवी में एचडीएमआई इनपुट की सुविधा है तब तो बहुत अच्छा है. फिर आप अपने केबल ऑपरेटर से एचडी सेटटॉप बॉक्स के लिए कहें, और अपने पसंदीदा चैनलों के एचडी चैनलों की ग्राहकी लें. जैसे कि जी, सोनी, कलर व स्टार सभी सामान्य टीवी तो ब्रॉडकास्ट करते ही हैं साथ में एचडी में भी ब्रॉडकास्ट करते हैं. इसीलिए, सामान्य सेटटॉप बॉक्स से आप अपने एचडी टीवी का पूरा मजा नहीं ले पाएंगे क्योंकि एचडी सेटटॉप बॉक्स से ही एचडी चैनल देख सकते हैं. सिटी केबल जैसे बढ़िया केबल टीवी सेवा प्रदाताओं के द्वारा 30 एचडी चैनल दिखाए जाते हैं. एचडी चैनल देखना अलग ही अनुभव होता है. देखो तो जानो!

· एचडी सेटटॉप बॉक्स लगवाने के बाद सेटटॉप बॉक्स को टीवी से एचडीएमआई केबल से ही कनेक्ट करवाएं. नहीं तो आपका अज्ञानी केबल वाला वीडियो इनपुट से (या अन्य उपलब्ध इंटरफेस जैसे कि एसवीडियो या एवीआई से) आपके टीवी को जोड़ देगा और आपकी पिक्चर क्वालिटी वही घटिया आएगी और आप सिर धुनते रह जाएंगे कि ये एचडी है क्या बला – दिखता तो वैसे ही घटिया है. हो सकता है कि आपको एचडीएमआई केबल खरीदना पड़े. अच्छा केबल खरीदें जो कि हो सकता है 300-400 रुपए में मिले. घटिया केबल खरीदेंगे तो जल्द ही खराब होगा और क्वालिटी भी सही नहीं आएगी.

· यदि आपके पास हाईफाई म्यूजिक सिस्टम या होम थिएटर सिस्टम है तो सेटटॉप बक्से का डिजिटल साउंड आउटपुट जो शायद कोएक्सिएल केबल हो सकता है या फिर ऑप्टिकल केबल उससे जोड़ें. यदि सेटटॉप बॉक्स में अतिरिक्त एचडीएमआई आउटपुट है तो उसे भी एचडीएमआई केपेबल होमथिएटर सिस्टम के इनपुट में जोड़ सकते हैं. इससे आपका पूरा सिस्टम फुल एचडीएमआई हो जाएगा और आपको ऑडियो-वीडियो दोनों ही हाई-डेफ़िनिशन में मिलेंगे. आपकी टीवी का अंतर्निर्मित ऑडियो सिस्टम (बोस को छोड़ कर) बेहद घटिया किस्म का होता है चाहे वे कितनी ही दावेदारी कर लें. तो यदि आपको एचडी टीवी देखने का सही आनंद लेना है तो एचडीएमआई युक्त बढ़िया 5.1 एवी रिसीवर सिस्टम व कम्पेटिबल स्पीकर में इन्वेस्ट करना चाहिए. डेनन या मरांज ब्रांड का कोई भी सिस्टम चलेगा. हमारे जैसे मितव्ययी लोगों के लिए ओन्क्यो भी ठीक है.

· यदि आपका कार्य शेड्यूल थोड़ा अव्यवस्थित किस्म का है और आप आमतौर पर निर्धारित समय पर पसंदीदा सीरियल नहीं देख पाते हैं या आपको बीच बीच के लंबे-लंबे बारंबार दिखाए जाने वाले सड़ियल विज्ञापन जी भर कर बोर करते हैं तो आपको यकीनन ऐसा सेटटॉप बॉक्स लगवाना चाहिए जिसमें रेकॉर्डिंग की सुविधा हो. ताकि आप बाद में मनपसंद समय पर मनपसंद सीरियल रीप्ले कर देख सकें और विज्ञापनों को फास्टफारवर्ड कर हटा सकें. इसके लिए आपके सेटटॉप बक्से में न्यूनतम 500 जीबी की रेकॉर्डिंग स्पेस हो ताकि आप जी भर कर मनपसंद प्रोग्राम शेड्यूल कर रेकॉर्ड कर सकें. आपका केबल वाला इस तरह का सेटटॉप बॉक्स नहीं दे पा रहा हो तो आप डीटीएच में शिफ़्ट कर सकते हैं. सभी डीटीएच में अब रेकॉर्डिंग की सुविधा युक्त सेटटॉप बॉक्स आ रहे हैं. वीडियोकॉन में सर्वाधिक एचडी चैनल हैं, वहीं टाटास्काई में चैनल तो कम हैं, परंतु सीरियल रेकॉर्डिंग की अच्छी सुविधा है.

क्या अभी भी कुछ कन्फ़्यूजन बाकी है कि कौन सा सेटटॉप बॉक्स लेना चाहिए? जो भी हो, परंतु भगवान के लिए, अपने एलसीडी, एलईडी और प्लाज्मा टीवी में सामान्य चैनलों को जो कि 4:3 फ़ॉर्मेट में होते हैं, उन्हें 16:9 फ़ॉर्मेट में फैला कर तो न देखें! बिलकुल देहाती (टेक्नोलॉज़ी रूप में) कहलाते हैं आप!

विषय:

एक टिप्पणी भेजें

विस्‍तृत उपयोगी जानकारी के ि‍लए धन्‍यवाद। रतलाम में जब यह स्थिति बनेगी, तब यह जानकारी काम में आएगी।

रवि भाई , आज आपने बहुत ही बढ़िया विषय चुना है .इतने सारे विकल्पों की साथ कमाल की जानकारी आपका बहुत बहुत धन्यवाद

खुबसूरत तकनीकी जानकारी के लिए धन्यवाद्

हम तो टाटा स्काई लगा कर निश्चिन्त बैठे हैं।

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[blogger][facebook]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget