गुरुवार, 29 सितंबर 2011

फ़ेसबुक में विचरित करते समय सुरक्षित बने रहना चाहेंगे? शेयरसेफ का प्रयोग करें

image

फ़ेसबुक में हमें फ़ीड के जरिए और वाल पर अनगिनत लिंक मिलते हैं. इन लिंक में कई मर्तबा कम्प्रोमाइज़्ड साइट, कोई वायरस ट्रोजन युक्त फ़ाइल अथवा स्क्रिप्ट इत्यादि कुछ भी हो सकते हैं. यदि आपने भूले भटके इन्हें खोल लिया तो आपकी सुरक्षा खतरे में पड़ सकती है.

परंतु अब खास फ़ेसबुक के लिए एक मुफ़्त एप्प जारी किया गया है जो आपको इन समस्याओं से निजात दिलाएगा.

इस एप्प का नाम है शेयरशेफ. इसे कंप्यूटर सुरक्षा की नामी कंपनी एफ-सेक्यूर ने जारी किया है

 

शेयरसेफ क्या है?
यह फ़ेसबुक अनुप्रयोग है जो आपको आपके वाल और फ़ीड में पोस्ट किए गए स्पैम और खतरनाक लिंक व कड़ियों से सुरक्षा प्रदान करता है. साथ ही यह दिलचस्प नई कड़ियों को ढूंढने में मदद करता है और आपको मिलते हैं रीवार्ड पाइंट.

शेयरसेफ क्यों?
- आपके वाल और फ़ीड में पोस्ट किए गए स्पैम और खतरनाक पोस्टों से सुरक्षा.


- अपने मित्रों के वाल पर कोई फ़ीड या लिंक को पोस्ट करने से पहले उसमें मौजूद कड़ियों को सुरक्षा के लिहाज से जाँच परख लें कि उनमें कोई स्पैम या खतरनाक साइट तो नहीं है. इस तरह से जिम्मेदार इंटरनेट प्रयोगकर्ता बनें.


- शेयरसेफ समुदाय में शामिल होकर दिलचस्प कड़ियाँ ढूंढें. इंटरनेट तो महासागर है. काम की साइट ढूंढना भूसे के ढेर में सुई ढूंढने जैसा है. लोकप्रिय साइटें शीर्ष पर मिलती हैं जिनका लाभ लिया जा सकता है.
- पाइंट व बैज जीतें और उनका भुगतान प्राप्त करें.

 

शेयरसेफ मुफ़्त में यहाँ से डाउनलोड करें

(स्क्रीनशॉट - साभार एफ़-सेक्यूर)

6 blogger-facebook:

  1. देखते हैं इसे। धन्यवाद आपको।

    उत्तर देंहटाएं



  2. रवि रतलामी जी भाई साहब

    आपको सपरिवार
    नवरात्रि पर्व की बधाई और शुभकामनाएं-मंगलकामनाएं !

    -राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं
  3. महत्वपूर्ण जानकारी का आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये तो बड़े काम की चीज है. आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  5. dasshara ki aapko hardik subhkamnaye.

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------