एमएस हिन्दी ऑफ़िस में वर्तनी जाँच हेतु कस्टम हिन्दी शब्दकोश जोड़ें

image
आपकी हिन्दी भले ही अच्छी खासी अच्छी हो, पर लंबे व बड़े पाठों की वर्तनी पर निगाह मारने के लिए व गलत वर्तनी को पकड़ने के लिए कम्प्यूटर आधारित वर्तनी जाँच का कोई सानी नहीं है.

एमएस ऑफ़िस हिन्दी 2003 / 2007 के संस्करणों में वैसे तो हिन्दी की वर्तनी जाँच अंतर्निर्मित है, मगर वर्तनी जाँच की सुविधा हेतु प्रयुक्त हिन्दी शब्दों का डाटाबेस बेहद ही अपूर्ण क़िस्म का है (क्या कोई कम्प्यूटर आधारित हिन्दी वर्तनी जाँचक कभी परिपूर्ण बन भी सकता है? और व्याकरण जाँच?), जिससे यह आपको वर्तनी जाँच के समय हिन्दी के सही शब्दों को भी लाल रेखा से रेखांकित कर गलत बताता है और कई मर्तबा अच्छे जानकारों को भी धोखा हो जाता है. कई मर्तबा गलत सुझाव देता है (चूंकि डाटाबेस में सही शब्द शामिल ही नहीं हैं).

ऐसे में अपना स्वयं का हिन्दी शब्दकोश डाटाबेस बनाना व उसे जोड़ना बहुत ही आवश्यक व महत्वपूर्ण हो जाता है. इसके लिए सही हिन्दी शब्दों पर दायाँ क्लिक कर शब्द कोश में जोड़ें का विकल्प चुना जा सकता है. आप देखेंगे कि कुछ दिनों के प्रयोग के उपरांत आपके पास एक अच्छा खासा डाटाबेस तैयार हो जाता है. तो यदि आपके पास ऐसा अच्छा डाटाबेस है तो आपसे आग्रह है कि उसे साझा करें. कुछ दिनों पहले तकनीकी हिन्दी समूह में यह बात मुखर हुई थी और सुधी जनों ने अपने कस्टम डिक्शनरी को साझा करने का वादा भी किया था.

इसी वादे के मुताबिक मैं अपना एमएस ऑफ़िस हिन्दी 2003-2007 में काम करने वाला हिन्दी का कस्टम डिक्शनरी अपलोड कर रहा हूं, और आपको इसे अपडेट करने का तरीका भी बताता हूं.
इस डिक्शनरी (custom.dic) को आप यहाँ - http://cid-60eace63e15a752a.skydrive.live.com/self.aspx/.Public/CUSTOM.DIC  से डाउनलोड करें. इसमें सामान्य प्रयोग के कोई 4 हजार शब्द हैं.
इसे नोटपैड में खोलें. देखें कि कहीं कोई गलत वर्तनी वाला शब्द तो इसमें शामिल नहीं कर लिया गया है, यदि ऐसा है तो उस शब्द को मिटा दें, या सुधार दें. अन्यथा यह आपके दस्तावेज़ के गलत शब्दों को भी ठीक बताने लगेगा.

अब आपको अपने एमएस ऑफ़िस हिन्दी के कस्टम डिक्शनरी में इस डिक्शनरी की सामग्री को जोड़ना होगा. इसके लिए आपके ऑपरेटिंग सिस्टम और ऑफ़िस के संस्करण के मुताबिक भिन्न डिरेक्ट्री में जाना हो सकता है. आमतौर पर कस्टम डिक्शनरी नाम की फ़ाइल (custom.dic) इन डिरेक्ट्री में मिल सकती है – (ध्यान दें – यूजर नाम यहाँ पर है – RaviRatlami, तो आपके कंप्यूटर के यूजर नाम भिन्न होंगे )

$\Users\RaviRatlami\AppData\Roaming\Microsoft\UProof
$\Documents and Settings\RaviRatlami\Application Data\Microsoft\Proof

आप इसके लिए विंडोज सर्च का सहारा भी ले सकते हैं. अब आप इसमें से किसी भी डिरेक्ट्री में उपलब्ध custom.dic फ़ाइल को खोलें व डाउनलोड की गई custom.dic की सामग्री को अपनी फ़ाइल के अंत में कॉपी पेस्ट कर दें, व इसे सहेज लें. ध्यान दें कि कॉपी पेस्ट करते समय पाठ एक लाइन में एक शब्द हो, अन्यथा मामला बिगड़ सकता है. इस फ़ाइल को एमएस वर्ड अपने अगले प्रयोग के समय स्वयं ही दुरुस्त कर लेगा, शब्दों को छांट लेगा व दोहरे शब्दों को निकाल बाहर करेगा. तो इस तरह से आपकी कस्टम डिक्शनरी बन गई है अब पावरफुल.

यदि आपके पास एमएस ऑफ़िस हिन्दी की बढ़िया, और बड़ी कस्टम डिक्शनरी है तो आपसे आग्रह है कि कहीं इसे अपलोड करें व हमसे साझा करें.
---
डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) – उपर्युक्त कार्य करने से पहले अपने कार्य सहेज लें तथा अपने कार्य, डाटा व custom.dic का बैकअप बना लें.

अद्यतन: #  फ़ाइल का नया संस्करण जिसमें कोई 1.2 लाख शब्द हैं, तकनीकी हिन्दी समूह में अपलोड किया गया है. इनमें निहित शब्दों में कुछ वर्तनी की गलतियाँ हो सकती हैं. फ़ाइल यहाँ से डाउनलोड करें -
http://groups.google.com/group/technical-hindi/web/CUSTOM.zip?hl=hi

एक टिप्पणी भेजें

आदरणीय रवि साहब , आज आपने यह बहुत ही अच्छा काम किया है | हिन्दी ब्लॉग जगत आपके द्वारा किए गए कार्य को हमेशा याद करेगा | मै आपका बहुत आभारी हूँ | यह टूल्स मुझ जैसे, अनेक ब्लोगरो का भला करेगा | आपने इस फाईल को जहाँ रखा है वो जगह मुझे अच्छी नहीं लगी | इस छोटी सी फाईल को डाऊनलोड करने में १० मिनट लग गए |

नरेश सिंह जी,
फ़ाइल का नया संस्करण यहाँ अपलोड किया है -

http://groups.google.com/group/technical-hindi/web/CUSTOM.zip?hl=hi

इसमें कोई सवा लाख शब्द हैं. कुछ वर्तनी की गलतियाँ हैं इसमें मगर 1-2 प्रतिशत से कम हैं.

बहुत उपयोगी
आजमा कर देखते है.

चिट्ठा लिखने के लिए धन्यवाद,
एक और चिट्ठा ओपनआफिस के लिए भी लिख दें :)

जैसे
बूँद बूँद सागर बनता है

वैसे ही यह व्यक्तिगत शब्दकोष मिलकर आम तौर पर प्रयुक्त शब्दों का सागर बना देंगे

अरे,प्लीज, रविशंकरजी, आपने Converter-Training झिप फाइल में जो भी instructions दिये हैं, वे तो मैं पूरी तरह समझ गया... क्योंकिं मैं स्वयं भी Microsoft Word के VBA में, Word के मॅक्रोज (मैक्रोज) लिखता हूँ..... लेकीन आपने मुख्य javascript तो कहीं दी ही नहीं है। कृपया, प्लीज, वह javascript कोड भी दे दीजिए। प्लीज, प्लीज, प्लीज.

रवि जी, नये फाइल का लिंक दे दें, अब यह नहीं खुल रहा है।

मेरे विंडोज 7 में Proof या UProof नाम का फ़ोल्डर ही नहीं है। Microsoft तक तो पहुँच गया लेकिन उसमें इन नामों का फ़ोल्डर ही नहीं मिला। अब बताएँ आगे क्या किया जाए? custom.zip फ़ाइल भी मेरे पास है लेकिन इसको कहाँ चिपकाएँ?

यह फ़ोल्डर छिपा (hidden) होता है. फोल्डर ऑप्शन में जाकर छुपे फोल्डर को दिखाने का विकल्प चुनें तो यह दिखने लगेगा.

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[blogger][facebook]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget