एमपी3 व अन्य मीडिया फ़ाइलों को ऑनलाइन प्ले हेतु नेट पर अपलोड करने का बढ़िया, आसान तरीका

लाइफ़लागर के तंबू उखड़ने और ई-स्निप जैसी सेवा के भरोसेमंद नहीं रहने के कारण इलाहाबाद राष्ट्रीय संगोष्ठी के तकनीकी सत्र में इरफ़ान ने जब यह प्रश्न किया कि एमपी3 फ़ाइलों को इंटरनेट पर लोड करने का बढ़िया तरीका क्या है तो अफ़लातून ने अपने स्वयं के अनुभवों को वहाँ पर साझा किया कि एमपी3 फ़ाइलों को बेहतर तरीके से नेट पर कैसे अपलोड किया जा सकता है.

आपके लिए एक और बढ़िया विकल्प है - आर्काइव.ऑर्ग पर मीडिया फ़ाइलों को अपलोड करने का. आर्काइव.ऑर्ग के साथ ख़ूबी यह है कि यह कोई निजी कंपनी नहीं है, बल्कि यह अनुदान प्राप्त संस्था है जो कि नेट की सामग्री को अपने सर्वरों पर भंडारित करते रहती है. मीडिया फ़ाइलों को आप आसानी से भंडारित कर सकते हैं सदा सर्वदा के लिए, और इसके तंबू उखड़ने या सेवाओं को बन्द करने, खत्म करने, सीमित करने जैसी संभावना यहाँ अत्यंत क्षीण हैं. (कॉपीराइट वस्तुओं का ध्यान तो ख़ैर रखना ही होगा.)

आर्काइव.ऑर्ग पर एमपी3 फ़ाइलें ऑनलाइन प्लेयर हेतु अपलो़ड करना अत्यंत आसान है. इसकी विधि निम्न है -

अपने एमपी3 फ़ाइल को http://archive.org पर अपलोड करें. यदि आपने अपना खाता नहीं बनाया हो तो वहाँ पहले एक खाता बना लें. खाता बनाना बहुत आसान है. अपलोड की गई एमपी3 फ़ाइल की कड़ी कॉपी कर लें.

आपके एमपी3 फ़ाइल की कड़ी कुछ इस तरह (उदाहरण) होगी - http://ia310829.us.archive.org/3/items/Meridhun-RaviratlamiGharAaJaVe/RekhaKePyarMe.mp3
अब जहाँ अपने ब्लॉग पोस्ट पर आपको ऑनलाइन ऑडियो प्लेयर एम्बेड करना है, वहां पर नीचे दिया गया कोड कॉपी कर पेस्ट कर दें :

<embed allowscriptaccess="always" flashvars="valid_sample_rate=true&amp;external_url=DOWNLOAD-LINK-OF-MP3" height="52" pluginspage="http://www.macromedia.com/go/getflashplayer" quality="high" src="http://www.odeo.com/flash/audio_player_standard_gray.swf" type="application/x-shockwave-flash" width="300" wmode="transparent"></embed>

अब यहाँ पर DOWNLOAD-LINK-OF-MP3 को अपने उस एमपी3 फ़ाइल की डाउनलोड कड़ी से बदल दें जो आपने आर्काइव.ऑर्ग (http://archive.org ) में अपलोड किया है और कड़ी पहले कॉपी कर रखा हुआ है.

यदि आप ऊपर उदाहरण में दिए गए एमपी3 कड़ी का प्रयोग करेंगे तो आपको कोड कुछ इस तरह दिखेगा -

<embed allowscriptaccess="always" flashvars="valid_sample_rate=true&amp;external_url=http://ia310829.us.archive.org/3/items/Meridhun-RaviratlamiGharAaJaVe/RekhaKePyarMe.mp3" height="52" pluginspage="http://www.macromedia.com/go/getflashplayer" quality="high" src="http://www.odeo.com/flash/audio_player_standard_gray.swf" type="application/x-shockwave-flash" width="300" wmode="transparent"></embed>

अपने ब्लॉग पोस्ट को सहेज कर पोस्ट कर दें.

बस, हो गया!

ऊपर दिए गए कोड का वास्तविक प्रयोग कुछ यूं रहेगा -


ध्यान रहे, आर्काइव.ऑर्ग पर अपलोड किए एमपी3 फ़ाइल की डाउनलोड कड़ी भी साथ में दे दें, क्योंकि ऊपर दिया गया प्लेयर फ्लैश प्लेयर है, और यदि किसी प्रयोक्ता के तंत्र में फ्लैश इंस्टाल नहीं है तो ये नहीं चलेगा. फिर, बहुत से लोग एमपी3 डाउनलोड कर अपने मोबाइल प्लेयरों पर भी सुनते हैं. (ऊपर उदाहरण में दी गई कड़ी को सीधे चिपका दें, या फिर नीचे दिया गया कोड प्रयोग में लें - पर अपने स्वयं के डाउनलोड कड़ी से यहाँ दी गई कड़ी को अवश्य बदल लें)
<a href="http://ia310829.us.archive.org/3/items/Meridhun-RaviratlamiGharAaJaVe/RekhaKePyarMe.mp3" target="_blank">डाउनलोड लिंक</a>

टिप्पणियाँ

  1. उपयोगी जानकारी.पेज बुकमार्क कर लिया है. धन्यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  2. यही तो मैं बहुत दिनों से ढ़ूँढ़ रहा था। अब इस पर जल्दी ही एक प्रयोग करता हूँ। धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  3. अच्छी जानकारी दी आपने... और ये बहुत ईजी भी है...धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  4. रवि जी,बहुत उपयोगी जानकारी दी है।धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  5. bahut shaandaar jaankaari dhanyawaad hamne lo lagaa liyaa !! ab agar aap hamaraa programme laughter unlimited sunana chahte hain to aa jaiye!!! mera sat ka show sunane http://gogasar.blogspot.com par ha..ha..haa ek baar phir dhanyawaad!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  6. रवि जी उबुन्टू का नया वर्जन ९.१० प्रयोग कर कर रहा हूँ लेकिन इसमें साउंड नहीं आ रहा कोई उपाय हो तो बताएँ |

    उत्तर देंहटाएं
  7. भाई जी हम तो प्लेयरों के सताए हैं.... लाईफ़लॉगर ने तो जैसे बर्बाद ही कर दिया...पढ़ कर तो आसान लग रहा है ...देखते हैं नहीं होगा तो आपको परेशान करूंगा....

    उत्तर देंहटाएं
  8. रतन सिंह जी,
    यदि कोई भी साउंड नहीं बज रहा है तब तो आपके हार्डवेयर को उबुन्टु पहचान नहीं पा रहा है और कॉन्फ़िगर नहीं कर पा रहा है. आपके मदर-बोर्ड में साउंड चिप कौन सा है? पता चले तो कुछ किया जा सकता है.

    उत्तर देंहटाएं
  9. रवि भाई, रेडियोवाणी के शुरूआती दिनों में हमने 'आर्काइव' का उपयोग किया था । पर तीन-चार महीनों बाद फाइल करप्‍ट हो जाती है और गाने का तंबू उखड़ जाता है । शायद कॉपीराइट की वजह से या जाने किस वजह से । हम इस दुकान से ख़ासे निराश हैं । इसलिए उस ओर जाकर लॉग-इन भी नहीं करते । अगर लाइफलॉगर ने अपनी पॉलिसी में बदलाव किया हो तो बतायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  10. यूनुस जी,
    यह तो नई बात बताई आपने. अपने पुराने अपलोड किए गानों की लिंक भेजेंगे जो करप्ट हो गई थी? कुछ जांच पड़ताल करनी होगी लगता है.

    उत्तर देंहटाएं
  11. यूनुस भाई,
    मैंने अपने आर्काइव खाते को फिर से चेक किया तो पाया कि मेरी सारी फ़ाइलें सुरक्षित हैं. जैसे कि जून 2006 में अपलोड किया ये भजन -

    http://www.archive.org/download/Remix-Hindi-Bhajans/Remix-Hindi-bhajan.WMA

    मुझे लगता है कि एकाध बार आप फिर से आर्काइव.ऑर्ग को आजमा देखें.

    उत्तर देंहटाएं
  12. रवि जी
    जब उबुन्टू ९.४ का इस्तेमाल कर रहा था तब उसमे उबुन्टू ऑडियो हार्डवेयर
    intel ICH5 बताया करता था और म्यूजिक बड़े आराम से चलता था लेकिन जबसे
    ९.१० इंस्टाल किया है वह Analog stereo Dpulex बता रहा है और मुझे लगता
    है यही साउंड नहीं आने का कारण है पर मै इतना नहीं जनता कि इसे सुलझा
    सकूँ |

    उत्तर देंहटाएं
  13. Archive.org ke bare mein pahle se janti thee lekin is player code ke liye Shukriya.

    bahut achcha kaam kar raha hai.

    -archive ka original player code ,post edit karte har baar bigad jata tha.ab is player ke saath mp3 link achchha kaam kar raha hai.

    abhaar.

    उत्तर देंहटाएं
  14. Aap ke diye player code mein 'embed' end mein nahin lagaya gya hai..ise durust kar lijeeyega.

    उत्तर देंहटाएं
  15. अल्पना जी,
    आपका बहुत-2 धन्यवाद. कोड दुरुस्त कर दिया है.

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत उपयोगी जानकारी। पोस्ट सहेज ली है।

    एक बात और। वीडियो फाइल को भी कम्प्रेस+अपलोड करने का कोई तगड़ा नुस्खा हो तो बतायें..

    उत्तर देंहटाएं
  17. अच्छी जानकारी दी आपने
    आज ही प्रयोग करके देखता हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  18. सर अपलोड करने के बाद ये फाईलें आपके खाते मैं दिखाई नहीं देती हैं...इन तक पहुंचना कैसे होगा जैसे ई स्नाईप्ल मैं ये आपके होम पैज पर दिखती है पर आर्काईव मैं नहीं दिखती है

    उत्तर देंहटाएं
  19. मिहिर जी आप यदि अपने खाते में लॉगिन करने के बाद अपलोड करेंगे तो ये आपके खाते में दिखेंगे अन्यथा नहीं. यहाँ अनाम अपलोड की भी सुविधा है तो शायद अनाम अपलोड होता हो...

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें