शुक्रवार, 30 अक्तूबर 2009

नेविगेशन पट्टी रहित ब्लॉगर ब्लॉग को फ्लैग कैसे करें?

इलाहाबाद संगोष्ठी में चर्चा के दौरान यह तकनीकी प्रश्न किया गया था कि उन ब्लॉगर ब्लॉगों को फ़्लैग कैसे करें जिनमें नेविगेशन पट्टी को हटा दिया गया होता है.

report abuse

ब्लॉगस्पाट के ब्लॉगों में यह सुविधा दी गई है कि यदि आपको लगता है कि किसी ब्लॉग में आपत्तिजनक सामग्री है, तो ब्लॉगस्पाट ब्लॉग के सबसे ऊपरी खंड में दिए गए नेविगेशन पट्टी में ‘रिपोर्ट एब्यूज’ को क्लिक कर अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकते हैं. और यदि आवश्यक परिपूर्ण मात्रा में ऐसी शिकायतें ब्लॉगस्पाट को मिलती हैं तो उस पर कार्यवाही की जाकर उस सामग्री को वे हटा भी देते हैं.

जिन ब्लॉगस्पाट ब्लॉगों में नेविगेशन पट्टी दिखती है, उसमें तो कोई समस्या नहीं, मगर बहुत से ब्लॉगों में सजावट के नाम पर उसे हमेशा के लिए हटा दिया गया होता है. और आप ऐसे ब्लॉगो को चाह कर भी फ्लैग नहीं कर सकते जिनमें नेविगेशन पट्टी नहीं होता है. ऐसे ब्लॉगों को फ्लैग कैसे करें?

इसके लिए दो विधियाँ हैं –

1) पहली आसान सी विधि है – यदि आप फ़ायरफ़ॉक्स प्रयोग करते हैं तो ब्लॉगस्पाट नेवबार रिस्टोरर नाम के इस ग्रीजमंकी स्क्रिप्ट का प्रयोग करें. इस स्क्रिप्ट के जरिए आमतौर पर प्राय: सभी ब्लॉगर ब्लॉगस्पाट के ब्लॉगों की नेविगेशन पट्टी दिखाई देने लगती है. अब आपको बस फ्लैग बटन पर क्लिक करना है.

2) दूसरी विधि में थोड़ी सी लंबी प्रक्रिया है. नीचे दिया गया यूआरएल देखें –

http://www.google.com/support/blogger/?hl=en&blog_URL=http%3A%2F%2Fblogname.blogspot.com%2F&action=flag&blog_ID=BLOGID

यहाँ पर, जिस ब्लॉग को आपको फ्लैग करना है, उसका ब्लॉग पता व ब्लॉग आईडी भरना होगा. जहाँ गाढ़े अक्षरों में blogname.blogspot.com लिखा है उसे फ्लैग किए जाने वाले ब्लॉग के यूआरएल से बदल दें जैसे कि flagblog.blogspot.com. तथा जहां पर BLOGID लिखा है वहाँ पर ब्लॉग की आईडी (यह अंकों में होता है) डाल दें. ब्लॉग की आईडी उस ब्लॉग के स्रोत (view > source) को देखकर आसानी से पता किया जा सकता है. नीचे दिए अनुसार ब्लॉगर ब्लॉग आईडी दिया गया होता है. आमतौर पर ये स्रोत पृष्ठ के ऊपरी क्षेत्रों में उपलब्ध होता है.

blog ID

अब आप इस कोड को अपने ब्राउजर के पता पट्टी में नकल कर चिपका दें. और एंटर कुंजी दबा दें. आपके सामने उस ब्लॉग को फ्लैग करने का ब्लॉगर का पेज नीचे दिए गए चित्रानुसार प्रकट हो जाएगा. अब कारण चुनने के लिए संबंधित रेडियो बटन पर क्लिक करें और अगला बटन दबाएँ और दिए गए निर्देशों का पालन करें. नेविगेशन पट्टी रहित तथाकथित ब्लॉग को आपने फ़्लैग कर ही दिया. बधाई!

flagging blogger blog

हाँ, ये ध्यान रखें कि आपके अकेले फ़्लैग करने से बात बनेगी नहीं. जल्द सुनवाई के लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में हर संभावित क्षेत्रों से फ़्लैग होने चाहिए. साथ ही जेनुइन ब्लॉगों को फ़्लैग करने का कोई अर्थ नहीं होगा ये भी जान लें. ब्लॉगर ब्लॉगस्पाट – अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का बड़ा पैरोकार है!

7 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें:

  1. यह तो बढ़िया जानकारी रही, पर हमें यह समझ में नहीं आ रहा है कि कितने फ़्लेग होने पर गूगल ब्लॉग के लिये निर्णय लेता है कि ये जीनुइन है या नहीं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. शुक्रिया रतलामी सर। मैंने इलाहाबाद संगोष्ठी से रिपोर्टिंग करने वाले दोस्त वीनित भाई से भी कहा था कि रतलामी जी के पर्चे पर विशेष जोर दें, क्योंकि तकनीक के मसले पर हर कोई अधिक जानना चाहता है (और हां, इस विषय को लेकर कोई ब्लॉग-विवाद भी नहीं है)। मैं चाहूंगा कि आप इलाहाबाद में पेश किए अपने पर्चे को ब्लॉग अथवा दीवान पर लगाएं, ताकि हम जैसे पाठकों की जनकारी में इजाफा हो।
    शुक्रिया
    गिरीन्द्र

    उत्तर देंहटाएं
  3. गिरीन्द्र जी,
    मैंने पारंपरिक पर्चा तो नहीं पढ़ा था, अलबत्ता मैंने एक पावर पाइंट प्रस्तुतिकरण पेश किया था और तकनीकी सत्र में प्रश्नों के समाधान वहीं ऑनलाइन दिए थे. आपकी सलाह अनुसार, अपना पावरपाइंट प्रस्तुति जल्द ही नेट पर डाउनलोड हेतु रखता हूं.

    उत्तर देंहटाएं
  4. एक बार जरूरत पड़ी थी, तब खोज-खाज के यह तरीका अपनाया था. आपने हिन्दी में उपलब्ध करवा कर सुन्दर काम किया है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. जिन ब्लोग्स पर nav bar नहीं हैं उन ब्लोग्स को गूगल को रिपोर्ट किया जा सकता हैं क्युकी नैविगेशन बार हटाना ही/भी गूगल की पॉलिसी के विरूद्व हैं

    उत्तर देंहटाएं
  6. गूगल क्रोम में स्वत: स्थापित हुए देश के विकल्प के कारण यह URL वाली युक्ति कार्य नहीं करती

    बी एस पाबला

    उत्तर देंहटाएं
  7. काम की बातें। (जाहिर हैं कि) आधी समझ में आयीं।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---