रविवार, 5 अक्तूबर 2008

स्क्रीमर रेडियो : गाने सुनो जी भरके!

screamer radio

एफ़ एम रेडियो में बारंबार बजते वही गाने, पुराने सड़ियल चुटकुले, फोकट की बकवास और विज्ञापन सुन सुनकर दिमाग पक गया है?

अपने मोबाइल एमपी3 प्लेयर के 8 जीबी संग्रह के गाने पचासों बार शफल कर सुन सुन कर दिमाग सड़ गया है और आपको अपने संग्रह के उन गानों से नफरत होने लगी है?

तो आपके पके और सड़े हुए दिमाग के लिए आ गया है एक शानदार इलाज.

स्क्रीमर रेडियो. 4 मेबा से कम का एक छोटा सा फ्रीवेयर प्रोग्राम. डाउनलोड करिए, और इसके प्रीसेट में से तमाम विश्व के इंटरनेट रेडियो में से छांटकर बस एक क्लिक से गाने सुनिए. चाहें तो एक और क्लिक से सुने जा रहे गीतों को सीधे एमपी3 में रेकॉर्ड भी करें हाँ, इंटरनेट कनेक्शन बढ़िया होना चाहिए.

इस्तेमाल में बेहद आसान. यानी इसके लिए किसी तरह के डमी या ईडियट गाइड की आवश्यकता नहीं.

और यदि किसी चैनल से बोर हो गए तो बस, इसके प्रीसेट इंटरनेट रेडियो की सूची में जाएं और झट से चैनल बदल लें. भारत के लिए ही कोई चालीसेक रेडियो पहले ही संग्रहित हैं. यदि आप अंग्रेज़ी गानों के शौकीन हैं तो, सूची एक तरह से अनंत है.

तो, देर किस बात की? स्क्रीमर रेडियो अभी ही डाउनलोड करिए!

7 blogger-facebook:

  1. ये सही जुगाड़ है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. हे हे हे । इसी तरह का एक टूल पिछले कुछ सालों से इस्‍तेमाल कर रहे हैं । सनराइज़ सुना । और हां किसी यूरोपीय रेडियोस्‍टेशन पर आटे और सलवार कमीज़ के कपड़ों के विज्ञापन भी सुने । और जी शेरोशायरी, पंजाबी लोकगीत, शबद-कीर्तन, शास्‍त्रीय संगीत, सब कुछ सुना । सुन सुन के 'सुनकार' बन गए हैं । अब आपके इस रेडियो को भी आजमाते हैं ज़रा ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. प्रिय रवि /मैं चाहता हूँ की आपका लिखा कोई आलेख ,कविता पढू मगर ढूंढता हूँ तो कहीं मिलता नहीं /एक तो आपके न जाने कितने ब्लॉग हैं फ़िर एक जगह मिला रवि रतलामी का हिन्दी ब्लॉग तो यहाँ तक आया /आप तो बहुत विद्वान् हैं क्रप्या मुझे सरल तरकीब बताइये की जिससे मुझे आप का लिखा देखने में ज़्यादा दिक्कत न हो /यह मेरे प्रार्थना है कारण की मैं कम्पुटर की ज्यादा जानकारी नही रखता

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्रिय बृजमोहन जी, मेरे आलेख और व्यंग्यात्मक कविताएँ आप यहीं पर व्यंग्य लेबल वाले पोस्टों में पढ़ सकते हैं. इसके लिए सबसे ऊपर शीर्षक पट्टी के नीचे लाल रंग में व्यंग्य की कड़ी दी गई है. उस पर माउस क्लिक करें.

    उत्तर देंहटाएं
  5. सूचना के लिए बहुत धन्यवाद
    अभी अभी डाउनलोड किया और यह टिप्पणी टाईप करते करते रेडियो भी सुन रहा हूँ।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------