शुक्रवार, 10 अक्तूबर 2008

भयंकर चेतावनी- इस साइट पर जाना आपके कम्प्यूटर के लिए नुकसानदेह हो सकता है!

bhasha india in warning page in opera (Small)

क्रैकरों के निशाने पर बड़ी, प्रचलित साइटें हमेशा रहती हैं. ताकि वे उसके जरिए अपना ऑनलाइन फ्रॉग का धंधा जमाए रख सकें. कुछ समय से माइक्रोसॉफ़्ट भाषाइंडिया की डाउनलोड http://bhashaindia.com/ साइट पर जहाँ हम भारतीय भाषाई कम्प्यूटिंग वालों को बहुत-कुछ काम के डाउनलोड मुफ़्त मिलते हैं, वहाँ कुछ अटैक-स्क्रिप्ट्स और मालवेयर किस्म के डाउनलोडर अपना अड्डा जमाए बैठे हैं.

bhasha india in opera (Small)

इस समस्या की रपट माइक्रोसॉफ़्ट को 19 सितम्बर 08 को ही दे दी गई थी, परंतु गूगल सेफ ब्राउजिंग की रपट को मानें तो समस्या अभी भी  याने ताजा ताजा, 7 अक्तूबर 08 तक बरकरार है.

मजेदार बात ये है कि यदि आप इस साइट पर इंटरनेट एक्सप्लोरर से भ्रमण करते हैं तो कहीं कोई चेतावनी नजर नहीं आती. इसका अर्थ ये है कि इंटरनेट एक्सप्लोरर के प्रयोक्ता (जो कि कम नहीं हैं,) हमेशा खतरे पर होंगे. जबकि ऑपेरा और फ़ायरफ़ॉक्स में आपको बाकायदा चेतावनी मिलती है.

bhasha india in IE (Small)

इंटरनेट एक्सप्लोरर पर डाउनलोड पृष्ठ खुल गया, जबकि फ़ायरफ़ॉक्स (ऑपेरा में भी) में (सभी ब्राउज़र डिफ़ॉल्ट सेटिंग में,) निम्न चेतावनी मिली :

 

bhashaindia in firefox (Small)

फ़ायरफ़ॉक्स प्रयोग करने का एक और ठोस कारण?

बहरहाल, जब तक ये समस्या दूर नहीं होती, इस साइट पर न विचरें, और सुरक्षित ब्राउज़िंग का प्रयोग करें.

17 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें:

  1. एक-दो ब्लॉग भी इस समस्या से ग्रस्त है.

    बताने के लिए आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  2. संजय जी, स्वयं के डोमेन वाले? उन्हें कृपया बताएं व पंद्रह बीस दिनों में ठीक न हो तो इस तरह की पोस्टों से जानकारी दें. आखिर कुछ सामाजिक दायित्व तो बनता है कि नहीं ?

    उत्तर देंहटाएं
  3. मैंने भी १ अक्तूबर को अपने फ़ायरफ़ोक्स पर यही चेतावनी देखी थी, जबकि मेरे एक मित्र जो आईई. प्रयोग करते हैं, उन्हें चेतावनी कभी नहीं देखने को मिली थी; अस्तु, हम लोगों ने उस साईट को क्लिक नहीं करने का ही निश्चय किया।

    उत्तर देंहटाएं
  4. ब्लागों पर है बढ रही,लिक्खाङों की भीङ.
    इनको ना बाधा कोई, ना ही कोई पीङ.
    ना ही कोई पीङ,जाल चिट्ठों का फैला.
    सभी गुरु लगते हैं कोई बने ना चेला.
    कह साधक कवि,मैं भी आया इन ब्लागों पर.
    देखें कितने मित्र मिलेंगे, इन ब्लागों पर

    उत्तर देंहटाएं
  5. इस जानकारी के लिए आपका धन्यवाद रवि जी !

    उत्तर देंहटाएं
  6. सामाजिक दायित्व तो बनता है कि नहीं ?

    सामाजिक दायित्व तत्काल निभाया गया मगर उनका कहना है की सब जगह खुल रहा है, कोई समस्या नहीं, एक दो स्क्रीप्ट लगा रखी है बस.

    पता नहीं क्या माजरा है. खतरा नहीं उठा सकता अतः पढ़ता ही नहीं.

    उत्तर देंहटाएं
  7. संजय जी, तो एक और सामाजिक दायित्व निभाएं, उनका पता हमें भी दें, व्यक्तिगत रूप से. यदि वास्तव में समस्या होगी तो सबको आगाह करेंगे, भले ही अप्रत्यक्ष तौर पर.

    उत्तर देंहटाएं
  8. इस जानकारी के जरिए आगाह करने के लिए हार्दिक आभार।

    उत्तर देंहटाएं
  9. कुन्नू सिंह6:45 pm

    बढीया जानकारी। एसे साईट बहुत खतरनाक टाईप के होते हैं।

    आप मना कर रहे हैं तो नही जाउंगा उस साईट पर

    उत्तर देंहटाएं
  10. रवि जी, बहुत अच्छी जानकारी दी आपने. इस विश्लेषण से चार बातें मुमकिन हैं:

    १. फायरफॉक्स ने की हो सही पहचान.
    २. फायरफॉक्स ने की हो ग़लत पहचान.
    ३. इन्टरनेट एक्स्प्लोरर का प्रॉब्लम की सही पहचान न कर पाना.
    ४. इन्टरनेट एक्स्प्लोरर का प्रॉब्लम की सही पहचान कर लेना लेकिन उसे प्रकाशित न करना.

    परेशानी यह है, सिर्फ़ इस सुचना के बल पर यह पहचान करना मुश्किल है की कौन सी बात इन चार में से सच है. शायद यहाँ पृष्टभूमि ज्ञान तनिक मददगार साबित हो.

    उत्तर देंहटाएं
  11. बेनामी8:47 pm

    मेरे अनुसार तो गूगल सेफ ब्राउजिंग फाल्स अलार्म देता रहता है.

    http://firdausdiary.blogspot.com/2008/10/blog-post_09.html

    उत्तर देंहटाएं
  12. बिल्कुल यही समस्या विजया बैंक आनलाइन https://www.vijayabankonline.in/ की साईट पर मैने देखी । लेकिन कई बार विजया बैंक के अधिकारियों को बताने के बाद भी इस समस्या की ओर किसी ने मुड कर नही देखा ।

    उत्तर देंहटाएं
  13. कई हेकर लोग आजकल जालस्थलों पर अपना साफ्टवेयर स्थापित करने में सफल हो रहे हैं. मेरे एक डोमेन के साथ ऐसा हो चुका है. कुल पांच साफ्टवेयर थे. काफी मुश्किल से उनको हटाया.

    रवि जी को धन्यवाद कि उन्होंने न केवल चेतावनी दी, बल्कि कुछ अधिक जानकारी उसके साथ जोड दी है.

    -- शास्त्री

    -- हिन्दीजगत में एक वैचारिक क्राति की जरूरत है. महज 10 साल में हिन्दी चिट्ठे यह कार्य कर सकते हैं. अत: नियमित रूप से लिखते रहें, एवं टिपिया कर साथियों को प्रोत्साहित करते रहें. (सारथी: http://www.Sarathi.info)

    उत्तर देंहटाएं
  14. शुक्रिया रवि भाई, आपकी सतर्कता भरी जानकारियां हम सामान्य ज्ञान वाले नेट प्रयोक्ताओं के लिए हमेशा फायदेमंद होते है. जरा फायरफोक्स के इंस्टालेशन एवम उपयोगिता के सम्बन्ध में भी बता दीजियेगा.

    उत्तर देंहटाएं
  15. शास्त्रीजी और रवि जी "कई हेकर लोग आजकल जालस्थलों पर अपना साफ्टवेयर स्थापित करने में सफल हो रहे हैं"
    कृपया विस्तार में बताइये

    उत्तर देंहटाएं
  16. मेरी भी कहानी सुन लीजिये. मेरी साइट vibgyorlife.com में भी यही समस्या आ गई है. इसके Zoom सेक्शन http://vibgyorlife.com/zoom में यही चेतावनी आ रही है. पर मैं इस बात को सुनिश्चित कर देना चाहता हूं कि विबग्योरलाइफ़ डाट काम पूरी तरह से सुरक्षित है. जांच करने पर पता चला कि ये मालवेयर एक एडवर्टाइजमेंट से आ रहे थे. एडवर्टाइजर को मैने सूचना दे दी है. अब उनके मेल का इंतजार है.साइट से उनके सारे एड हटा दिये गये हैं.
    अगर आपको किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो admin[at]vibgyorlife.com पर संपर्क करें.

    उत्तर देंहटाएं
  17. आभार इस जानकारी के लिए. हमें तो ना जाना ऐसे साईट पर !

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---