टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

स्मार्ट फ़ोनों (गूगल एण्ड्रायड?) में अनुपलब्ध सुविधाएँ

5 biggest flaws in google android mobile phone

हमारे मोबाइल फोन दिनोंदिन स्मार्ट होते जा रहे हैं. इतने स्मार्ट कि आमतौर पर उपयोक्ता को ही पता नहीं होता कि वो अपने मोबाइल से एसएमएस और वीडियो देखने के अलावा और क्या कुछ नहीं कर सकता. बाजार में गूगल एण्ड्रॉयड युक्त स्मार्ट फ़ोन टीमोबाइल जी1 जबरदस्त स्मार्ट तरीके से बाजार में हाल ही में जारी किया गया.  परंतु इसमें (बल्कि हर स्मार्ट फ़ोन में) निम्नलिखित जबरदस्त खामियाँ हैं-

  1. ये आपको गूगल मैप्स की सहायता से जीपीएस सिस्टम के जरिए आपका लोकेशन बता सकता है, आपका स्थान बता सकता है और आपको रास्ता भी बता सकता है. ठीक है, मुझे तो मेरा स्थान बखूबी पता है. पर क्या ये सामने वाले का लोकेशन बता सकता है कि बंदा वाकई बाथरूम से या फिर बम्बई से बोल रहा है? क्योंकि अकसर होता ये है कि किसी को फोन करो तो बोलेगा – भाई, बाहर हूं, रोमिंग पर हूं, अत: जितनी जल्दी माफ़ कर दें उतना अच्छा...
  2. ये आपको सामने वाले का परिचय बता सकता है – जो कि साधारण फ़ोन भी बता सकता है – कि कॉल किसका आया. परंतु ये सामने वाले का मूड नहीं बता सकता. आप अपनी पत्नी या प्रेमिका के फोन का इंतजार रोमांटिक मूड में करते हैं, बॉस को बढ़िया, खुशनुमा मूड में गुडमॉर्निंग की सोचते हैं तो पता चलता है कि सामने वाला किचकिच करने की पूरी तैयारी से आया है. हुंह, काहे का स्मार्ट!
  3. स्मार्ट फ़ोन? पर क्या ये इतना स्मार्ट है कि वो खुद-ब-खुद बता सके कि भुलक्कड़ भाई, मुझे आपने यहाँ-वहाँ लावारिस छोड़ दिया है!
  4. ठीक है, ये गुम जाने पर अपने अंदर का सेंसिटिव डाटा लॉक कर लेगा. परंतु क्या ये इतना स्मार्ट है कि गलत हाथ में लगने पर या किसी फोरेंसिक वाले के हाथ लगने पर सेंसिटिव डाटा सहित अपने आप को मटियामेट कर ले?
  5. चलो, मान लिया कि ये आपका ढेरों काम कर सकता है – आपका वीडियो-ऑडियो-गेम से मनोरंजन कर सकता है, आपके ऑफ़िस के काम बखूबी कर सकता है, पिज्जा हट को पिज्जा के लिए ऑर्डर दे सकता है, पर क्या ये इतना स्मार्ट है कि आपके लिए आपके अख़बार का पन्ना पलट सकता है? ये तो आपके लिए गर्मागर्म चाय भी नहीं बना सकता.

क्या आप अब भी इसे स्मार्ट कहेंगे? अभी तो ये उतना नहीं है, कौन जाने आने वाले किसी दिन ये सचमुच का स्मार्ट हो जाए!

(चित्र साभार - गिज्मोडो)

एक टिप्पणी भेजें

रवि जी देखते जावो कितने कितने स्मार्ट फोन और आतें है

पहली बार आपके ब्लॉग पर आया बहुत बढ़िया जानकारी मिली , "हिन्दी का सर्वाधिक मजेदार जाल पृष्ठ" ने तो उलझा ही दिया था झेलना भारी तो पड़ा लेकिन मजा आ गया | धन्यवाद

फोन इन्सान जैसा स्मार्ट नहीं हो सकता।

aapko smart phone ki nahi, Fir se Shaadi dot com ki jaroorat hai.

अपने आप पोस्ट के हिसाब से टिप्पियाने वाला फोन चाहिए, वरना काहे का स्मार्ट.

शादी डॉट कॉम पर जितु भाई तो दिखे आप नज़र नहीं आ रहे? :) जल्दी करें डिस्काउंट चल रहा है....

अच्छा, यह चित्र का फोन धार गिरने पर अपने को वाइब्रेट कर दूर हटा लेता है क्या?

ठीक है, ये गुम जाने पर अपने अंदर का सेंसिटिव डाटा लॉक कर लेगा. परंतु क्या ये इतना स्मार्ट है कि गलत हाथ में लगने पर या किसी फोरेंसिक वाले के हाथ लगने पर सेंसिटिव डाटा सहित अपने आप को मटियामेट कर ले?

जी हाँ ऐसा बिलकुल संभव है, ऐसे सॉफ़्टवेयर बाज़ार में काफ़ी समय से हैं जो आपको यह भी बता सकते हैं कि आपका फोन मौजूदा समय कहाँ है, नया सिम कार्ड डला है तो उसका नंबर क्या है। और साथ ही आप एक लघु संदेश भेज के फोन को लॉक कर सकते हैं, अपना डाटा नष्ट कर सकते हैं और यदि आप अपने फोन में कुछ कारीगरी कर छोटा विस्फोटक लगा सकें तो जेम्स बांड स्टाइल आप अपने फोन को दूर बैठे एक लघु संदेश से नष्ट भी कर सकते हैं! ;)

मजेदार स्मार्टनेस है!

फ़ोन तो स्मार्ट बनते जा रहे हैं।
और हम लोग बुद्धू और अधिक आलसी बनते जा रहे हैं।

कंप्यूटर ने इंसान की गिनने की शमता कम कर दी है, और फ़ोन उसके सोचने की क्षमता कमजोर करने पर अमादा है.

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget