बुधवार, 2 जनवरी 2008

चिट्ठाकारों के लिए नए साल के टॉप 10 संकल्प

प्रत्येक हिन्दी चिट्ठाकार को निम्न दस संकल्प लेने चाहिएँ. ये संकल्प उन्हें चिट्ठासंसार में प्रसिद्धि, खुशहाली व समृद्धि दिलाने में शर्तिया मददगार होंगे.

  1. मैं टिप्पणी करूंगा – हर तरह की, हर किस्म की, नियमित, नामी-बेनामी-सुनामी-कुनामी. शुरुआत इस चिट्ठे पर टिप्पणी देकर कर सकते हैं. प्रति दस टिप्पणियों पर एक प्रति-टिप्पणी की गारंटी, तथा साथ ही यह भी ध्यान रखें कि इस चिट्ठे पर टिप्पणी प्रदान करने पर सफलता की संभावना अधिक है.

  2. मैं नित्य कम से कम एक चिट्ठा पढूंगा – ठीक है, प्रतिदिन सौ दो सौ चिट्ठे प्रकाशित होने लगे हैं और इनकी संख्या 2008 में एक्सपोनेंशियली बढ़नी ही है और एक पाठक के रुप में कोई भी इनमें से सभी पोस्टों को अपनी पूरी जिंदगी में नहीं पढ़ सकता मगर वो रोज कम से कम एक, इस चिट्ठे को तो पढ़ ही सकता है. तो, अच्छे प्रतिफल के लिए अपने संकल्प में इस चिट्ठे की हर प्रविष्टि को पढ़ने में अवश्य शामिल करें

  3. मैं सप्ताह में कम से कम एक पोस्ट लिखूंगा. वैसे तो कोई भी हिन्दी चिट्ठाकार नित्य न्यूनतम चार पोस्ट (अमित अग्रवाल और डेरेन रोज़ इसीलिए सफल हुए हैं, पर वो अंग्रेज़ी की बात है) ठेल सकता है, मगर अजर गजर टेबल राइटिंग से बनती बात बिगड़ सकती है, या रोज लिखने पर लेखन मसाला कोई छः महीने में खतम होने की संभावना है या राइटर्स ब्लॉक के घेर लेने की आशंका है... वैसे, इस चिट्ठे को लिंक करते हुए या इसकी सामग्री के बारे में बात करते हुये नित्य लिखेंगे तो सामग्री की कमी नहीं पड़ेगी, हिट मिलने और सफल होने की संभावना भी जरा ज्यादा रहेगी.

  4. मैं फोरमों, सोशल नेटवर्किंग (ऑर्कुट, फेसबुक इत्यादि), ईमेल समूहों में नित्य प्रति चिट्ठों की बातें करूंगा. पर अपने चिट्ठे की नहीं. दूसरों के चिट्ठे की. जैसे ही आपने अपने चिट्ठे की बात करने की ग़लती की तो आपको बहिष्कृत कर दिया जाएगा. जब आप दूसरों के चिट्ठों की बातें करेंगे तो लोग आपकी तारीफ़ करेंगे. बोलेंगे देखो बंदा क्या मसाला खोज कर लाया है – वाह! वाह! साधुवाद!. आप यदि इस चिट्ठे के प्रविष्टियों की चर्चा नियमित रूप से, बढ़ा-चढ़ा कर करेंगे तो लाभ होने की संभावना द्विगुणित है.

  5. मैं हर तीसरी पोस्ट में कोई नई युक्ति, नई टिप, नई बात बताऊंगा. आप देखेंगे कि त्वरित पैसा बनाने की युक्ति या ब्लॉग हिट होने की युक्ति वाली पोस्टें कितनी हिट हुआ करती हैं. इंस्टैंट सफल युक्तियों के लिए इस ब्लॉग की प्रविष्टियों से आइडिया (जो कि जाहिर है, अंग्रेज़ी ब्लॉगों से उड़ाए हुए होते हैं,) उड़ा सकते हैं और उसे अपने एंगल से अपने हिसाब से पोस्ट कर सकते हैं या उसका खंडन कर सकते हैं.

  6. मैं महीने में कम से कम एक “एम” फ़ैक्टर वाला विवादित पोस्ट करूंगा. मोदी, मोहल्ला... मीका-राखी सावंत याद है? विवाद से त्वरित प्रसिद्धि मिलती है. फिर आप उसे ताउम्र भुनाते रहिए. विवाद प्रारंभ करने के लिए धर्म आधारित चिट्ठा प्रविष्टि का तो ख़ैर कोई तोड़ ही नहीं है. विवादों के लिए इस चिट्ठे की हिन्दी-अंग्रेजी युक्त घालमेल की हुई हिंगिलिश भाषा को भी समय समय पर उठा सकते हैं, जो किसी भी एम फ़ैक्टर से ज्यादा लाभ देने की ताक़त रखते हैं. यक़ीन न हो तो आजमा कर देख लें.

  7. मैं घोर व्यवसायिक बनूंगा. हिन्दी चिट्ठों का इतिहास गवाह है - एकाध फुरसतिया जैसे उदाहरणों को छोड़ दें जो निस्पृह भाव से पोस्टें भी लगातार लिख रहे हैं और चिट्ठा चर्चा भी किए जा रहे हैं - अव्यावसायिक चिट्ठाकार कितने ही आए, और चार छः महीने में झांकी दिखाकर चले गए. यह तो ब्लॉग हेडर के नीचे एडसेंस के दो-दो विज्ञापन हैं जो चिट्ठाकार की मानसिक हलचल को नित्य निखारते हैं, और बनाए भी रखते हैं. इस चिट्ठे का ही उदाहरण देख लें – चिट्ठे के हेडर के ऊपर विज्ञापन ठुंसा पड़ा है जो इस चिट्ठे को, इस चिट्ठाकार को ऊर्जा देता है. यकीन मानिए, एडसेंस का एक एक सेंट एक से एक धांसू पोस्ट लिखने के लिए आपको ऊर्जावान बनाता है और बनाता रहेगा. और, यदि आप सचमुच के संत हैं, तो इस चिट्ठाकार का एडसेंस अपने चिट्ठे पर प्रयोग करें. इससे और अधिक चिट्ठा समृद्धि प्राप्त होगी. कोड के लिए शीघ्र संपर्क करें.

  8. मैं तमाम विजेट लगाऊंगा – सीधी सादी सरल चीजें किसी को भी नहीं लुभातीं. मिर्च मसाला युक्त, साज सजावट युक्त, अलग हटकर, सजे धजे चिट्ठे पाठकों को आकर्षित करते हैं. गानों के, गर्मागर्म फोटो के, यूट्यूब वीडियो के, ताज़ा समाचारों के, ब्लॉग प्रविष्टियों के, सुडोकू पहेलियों के और नामालूम क्या क्या विजेटों से अपने चिट्ठे के बाजू पट्टी को भर दें. फिर देखें – आपकी प्रविष्टि धांसू हो या घटिया, पाठक विजेटों के नाम से खिंचे चले आएंगे और यहीं जमे बैठे रहेंगे. सबसे बढ़िया, टाइम टेस्टेड आइडिया तो यह है कि इस चिट्ठे की फ़ीड का विजेट लगाएं. फिर किसी अन्य विजेट की आपको आवश्यकता ही नहीं होगी क्योंकि इस चिट्ठे को जादू-टोने से अभिमंत्रित किया गया है जो चिट्ठों को संपूर्ण सफलता प्रदान करता है.

  9. मैं टैगियाऊंगा. टैग बेबी टैग. अपने चिट्ठे की हर प्रविष्टि को टैग से भर दें. लिखें राम पर, परंतु टैग लगाएँ रहीम पर. चिट्ठा प्रविष्टि हो 250 शब्दों की, परंतु टैग हो 500 शब्दों के. अपनी चिट्ठा प्रविष्टि, अब चाहे वो जिस विषय पर हो, उसमें ब्रिटनी स्पीयर्स प्रैगनेंट, पैरिस हिल्टन न्यूड इत्यादि के टैग लगाएँ फिर देखें आपकी चिट्ठा प्रसिद्धि का जादू. वैसे, ज्यादा अच्छी और हिन्दी ब्लॉग जगत में वास्तविक सुख-समृद्धि-प्रसिद्धि के लिये इस चिट्ठे से संबंधित टैग लगाएँ. जैसे कि रवि रतलामी हिन्दी चिट्ठा हिन्दी ब्लॉग इत्यादि.

  10. मैं उपर्युक्त सभी 9 संकल्पों का कड़ाई से पालन करूंगा, वर्ष भर.

13 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें:

  1. नए साल के संकल्प पूरे करने के लिए शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. नए वर्ष में संकल्प पूरे करें यही कामना करते हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  3. "शुरुआत इस चिट्ठे पर टिप्पणी देकर कर सकते हैं. प्रति दस टिप्पणियों पर एक प्रति-टिप्पणी की गारंटी, तथा साथ ही यह भी ध्यान रखें कि इस चिट्ठे पर टिप्पणी प्रदान करने पर सफलता की संभावना अधिक है."

    लेख अच्छा लगा. आपके कहे अनुसार टिप्पणी कर देते हैं.

    दस दो एक लो के मामले में सारथी के साथ मोलभाव चलेगा क्या?? जैसे दस दो बीस लो ??

    उत्तर देंहटाएं
  4. हे ब्‍लॉगरों के पितामह, प्रणाम । दस-उपदेश देखे पढ़े। बड़ी कृपा है आपकी । हे टोटकेश्‍वर, आपने जो टोटके सुझाए हैं वे बड़े मुफीद हैं मेरे जैसे बांगड़ू ब्‍लॉगरों के लिए। हे महाजन, मैंने पढ़ा था ..'महाजनो येन गत: स पंथ:'
    आप अपना झण्‍डा लिये आगे आगे चलते रहिए हम आपके पंथानुयायी होते हैं। देखेंगे कि आपके आश्‍वासन कहीं कोरे नेताई तो नहीं ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. Kamalkant Budhkar8:39 pm

    हे ब्‍लॉगरों के पितामह, प्रणाम । दस-उपदेश देखे पढ़े। बड़ी कृपा है आपकी । हे टोटकेश्‍वर, आपने जो टोटके सुझाए हैं वे बड़े मुफीद हैं मेरे जैसे बांगड़ू ब्‍लॉगरों के लिए। हे महाजन, मैंने पढ़ा था ..'महाजनो येन गत: स पंथ:'
    आप अपना झण्‍डा लिये आगे आगे चलते रहिए हम आपके पंथानुयायी होते हैं। देखेंगे कि आपके आश्‍वासन कहीं कोरे नेताई तो नहीं ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. एक ऐसा संकल्प जिसका कोई विकल्प नही

    उत्तर देंहटाएं
  7. अपने ब्लाग को सफल बनाने के जो नुस्खे आपने बतायें हॆं,उन्हें इस साल अजमाने की कोशिश करेंगे.बाकि आप जॆसे गुरूओं का आशिर्वाद.

    उत्तर देंहटाएं
  8. हिला डाला!! धांसू!!
    शुरु के तीन तो आजमाते ही आ रहे हैं
    अब बाकी संकल्प भी लेने पड़ेंगे आगे बढ़ना है तो !!
    शुक्रिया है जी

    उत्तर देंहटाएं
  9. कमाल है, आप ने अपने सारे सीक्रेट उजागर कर दिए। कुछ तो बचा कर रखे होंगे?

    उत्तर देंहटाएं
  10. लो जी पहले वाले संकल्प के चलते अपन भी टिप्पणी ठेल रहे हैं। बाकी संकल्पों का यथा संभव तरीके से पालन करने की कोशिश की जाएगी!! :)

    उत्तर देंहटाएं
  11. वाह खूब! मजेदार!

    उत्तर देंहटाएं
  12. संकल्प नम्बर ११ : मैं इस साल कम से कम एक नए व्यक्ति को हिन्दी मे ब्लोग्गिंग करना सिखाऊँगा . शुरुआत अपने घर से या दोस्तो से हो सकती है. कम से कम यह संकल्प तो पुरा हो ही सकता है?

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---