गुरुवार, 2 मार्च 2017

पढ़ेलिखों का अनपढ़

image

भई, मैं तो, नित्य 300 ईमेल, 500 फ़ेसबुक स्टेटस पोस्ट, 1000 ट्वीट, 2500 वाट्सएप्प संदेश पढ़ता हूँ, मगर, कुछ स्टैण्डर्ड, कुछ मानकों के हिसाब से, हूँ अनपढ़ का अनपढ़!

आप बताएँ, आप पढ़े लिखे हैं या अनपढ़?

(स्वतः मूल्यांकन करें! )

0 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---