गुरुवार, 17 नवंबर 2016

व्हाट्सएप्प से परेशान हैं? छोड़ने की सोच रहे हैं? तो यह पोस्ट आपके लिए है.

तकनीक के पंडित बी.एस.पाबला जी ने व्हाट्सएप्प को छोड़ने की घोषणा की है. अपने फ़ेसबुक स्टेटस पर  -

स्क्रीनशॉट नीचे है -

image

व्हाट्सएप्प एक नो-नॉनसेंस, बेहतरीन, उच्च दर्जे का कम्यूनिकेशन प्रोग्राम है, इस्तेमाल में बेहद आसान और पूरा- 100% यूजर फ़्रेंडली.

परंतु इसकी इन्हीं खूबियों ने इसे बहुतों को रुलाना शुरू कर दिया है. और शायद यही कारण है पाबला जी का व्हाट्सएप्प छोड़ने का. एक दिन उन्होंने स्टेटस छापा था कि उनके व्हाट्सएप्प संदेश में 4500 संदेश दिनभर में आए. इतना संदेश आदमी पढ़ तो क्या देख भी नहीं पाए!

व्हाट्सएप्प की सबसे बड़ी समस्या है इसके आपके फ़ोन के तमाम संपर्क को स्वचालित रूप से पॉपुलेट करने की - जिससे पता चल जाता है कि व्हाट्सएप्प पे कौन कौन बंदा तैयार बैठा है और फिर सिलसिला चालू हो जाता है असीमित संदेश भेजने, असीमित समूहों में जोड़ने घटाने का.

इसकी एक और बड़ी समस्या है - तमाम मीडिया के स्वचालित डाउनलोड होने का. कुछ बजट फ़ोन के उपयोगकर्ताओं को हवा नहीं रहती और उनका डेटा पैक तो बारंबार, अंतहीन फारवर्ड किए गए उन्हीं सड़ियल जोक, वीडियो और पिक्चर को डाउनलोड में ही हवा हो जाता है और उनके फोन की मेमोरी भी जल्द ही फुल हो जाती है. और फ़ोन हैंग होने लग जाता है.

ये दोनों समस्याएँ बड़ी सिरदर्द हैं.

परंतु आप इन दोनों से मुक्त हो सकते हैं.

दूसरी समस्या तो आसान है, स्वचालित मीडिया डाउनलोड को डिसेबल कर दें बस. यह व्हाट्सएप्प की सेटिंग में उपलब्ध होता है. पाबला जी की समस्या यह नहीं है, उनकी समस्या शायद पहली है -

 

पहली समस्या का एक शानदार जुगाड़ है. आप केवल अपने ही पसंदीदा या वांछित व्यक्ति को व्हाट्सएप्प में जोड़ सकते हैं, बाकी को हवा नहीं लगेगी कि आप व्हाट्सएप्प उपयोग करते हैं.

इसके लिए क्या करना होगा?

पहले तो आप अपने पुराने व्हाट्सएप्प एकाउंट को हटा दें (यदि कोई हो). न भी हटाएँ तो भी कोई फर्क नहीं पड़ेगा, परंतु फिर मामला थोड़ा लंबा हो जाएगा, इसलिए इसी विधि को अपनाते हैं.

फिर आप कोई नया, चालू सिम लें, (नया नंबर , और अच्छा हो कि वह  दूसरे प्रदेश या और भी अच्छा हो कि वो दूसरे देश - जी हाँ! दूसरे देश का हो - जैसे कि ब्रिटेन या पाकिस्तान! का - पर यदि सिम दूसरे देश/प्रदेश का हो तो यह ध्यान रखें कि उसमें रोमिंग एनेबल है और चालू है ताकि आप वाट्सएप्प एक्टिवेट कर सकें).

इस नए सिम से नया  व्हाट्सएप्प खाता सक्रिय कर लें. सक्रियण हो जाने के बाद अपने पुराने सिम को वापस फ़ोन में लगा लें.

वाट्सएप्प आपसे पूछेगा कि आप क्या नए नंबर से व्हाट्सएप्प चलाना चाहेंगे या फिर पुराने नंबर से ही चलने दें.

आप दूसरा विकल्प चुनें. यानी पुराने, आपके संपर्कों को अज्ञात नंबर से व्हाट्सएप्प चलने का विकल्प चुनें.

हो गया.

मैंने अपने फ़ोन में व्हाट्स्एप्प नाईजीरिया के नंबर (जस्ट जोकिंग!) से एक्टिवेट किया हुआ है. और मैं केवल तीन लोगों से नियमित संवाद करता हूँ (बता सकते हैं कि कौन-कौन?) बाकी किसी को हवा ही नहीं लगती कि ये "नाईजीरियाई" नंबर का आदमी "रविरतलामी" हो सकता है. कोई स्पैम नहीं, कोई समूह में जोड़-घटाना नहीं. बस, काम की बातें, वह भी जिनसे मैं चाहूँ! और, यदि मैंने बिना बताए किसी को वाट्सएप्प किया तो वो तुरंत मुझको बाहर का रास्ता दिखा देता है ये सोचते हुए कि ये नाईजीरियाई जबरिया मुझे क्यों संदेश भेज रहा है - क्या इसका फ़िशिंग का इरादा है?

हाँ, पर, पाबला होना भी अलग बात है. उनका नाईजीरियाई नंबर तो हर कोई ग्रुप में बांटता फिरेगा - अरे, ये नाईजीरियाई नंबर पाबला जी का है, उनसे व्हाट्सएप्प पे राय मांग लो या कोई ज्ञान की बात या कोई सड़ियल जोक ठेल दो और अपने ग्रुप में जोड़ लो!

2 blogger-facebook:

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------