कंप्यूटरों में हिंदी वर्तनी जाँच कभी परिपूर्ण और ठीक-ठाक हो सकती है?

शायद नहीं!

नीचे स्क्रीन शॉट पर निगाह मारें.

image

कुछ समझ आया?

चलिए थोड़ा विस्तार से समझते हैं.

मेरे पास एक हिंदी पाठ आया जो कि कृतिदेव 010 में है. इसे मैंने कन्वर्ट किया यूनिकोड में, ताकि रचनाकार पर प्रकाशित किया जा सके.

जब इस पाठ को हिंदी  वर्तनी जांच की सुविधा युक्त माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड / ओपन लाइव राइटर में चिपकाया तो पाया कि यह बहुत सी सही वर्तनी वाले शब्दों के नीचे भी लाल रंग की लकीर खींच रहा है.

ऐसा तब होता है जब -

वर्तनी गलत हो,

या फिर वर्तनी जांचक के शब्द भंडार में यह शब्द उपलब्ध नहीं हो.

पहले सोचा कि शायद पुरस्कृत शब्द इसके शब्द भंडार में नहीं होगा, तो दायाँ क्लिक कर उसे शब्द भंडार में जोड़ने की कोशिश की.

परंतु यह क्या?

पुरस्कृत तो पहले ही इसके शब्द भंडार में है, और यह पुरस्कृत को गलत बता कर उसका सही रूप पुरस्कृत ही बता रहा है!

यह तो बड़ी अजीब समस्या है! फिर वर्तनी जाँच का मतलब ही क्या!

समस्या की जड़ खोदी गई तो निकला - कन्वर्टर व इनपुट (रेमिंगटन लेआउट में धड़ल्ले से उपयोग होने वाले अक्षर ज्वाइनर और नॉन ज्वाइनरों का उपयोग.

 

अब बताइए, कौन सा पुरस्कृत सही है. क्या आप बता सकते हैं? लाल लकीर वाला या जो विकल्प के रूप में दिखाया जा रहा है वह?

बहुत कन्फ़्यूज़न है! बहुते कन्फ़्यूजन है!!!

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[blogger][facebook]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget