आसपास की कहानियाँ ||  छींटें और बौछारें ||  तकनीकी ||  विविध ||  व्यंग्य ||  हिन्दी || 2000+ तकनीकी और हास्य-व्यंग्य रचनाएँ -

कंप्यूटरों में हिंदी वर्तनी जाँच कभी परिपूर्ण और ठीक-ठाक हो सकती है?

शायद नहीं!

नीचे स्क्रीन शॉट पर निगाह मारें.

image

कुछ समझ आया?

चलिए थोड़ा विस्तार से समझते हैं.

मेरे पास एक हिंदी पाठ आया जो कि कृतिदेव 010 में है. इसे मैंने कन्वर्ट किया यूनिकोड में, ताकि रचनाकार पर प्रकाशित किया जा सके.

जब इस पाठ को हिंदी  वर्तनी जांच की सुविधा युक्त माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड / ओपन लाइव राइटर में चिपकाया तो पाया कि यह बहुत सी सही वर्तनी वाले शब्दों के नीचे भी लाल रंग की लकीर खींच रहा है.

ऐसा तब होता है जब -

वर्तनी गलत हो,

या फिर वर्तनी जांचक के शब्द भंडार में यह शब्द उपलब्ध नहीं हो.

पहले सोचा कि शायद पुरस्कृत शब्द इसके शब्द भंडार में नहीं होगा, तो दायाँ क्लिक कर उसे शब्द भंडार में जोड़ने की कोशिश की.

परंतु यह क्या?

पुरस्कृत तो पहले ही इसके शब्द भंडार में है, और यह पुरस्कृत को गलत बता कर उसका सही रूप पुरस्कृत ही बता रहा है!

यह तो बड़ी अजीब समस्या है! फिर वर्तनी जाँच का मतलब ही क्या!

समस्या की जड़ खोदी गई तो निकला - कन्वर्टर व इनपुट (रेमिंगटन लेआउट में धड़ल्ले से उपयोग होने वाले अक्षर ज्वाइनर और नॉन ज्वाइनरों का उपयोग.

 

अब बताइए, कौन सा पुरस्कृत सही है. क्या आप बता सकते हैं? लाल लकीर वाला या जो विकल्प के रूप में दिखाया जा रहा है वह?

बहुत कन्फ़्यूज़न है! बहुते कन्फ़्यूजन है!!!

टिप्पणियाँ

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें