May 2014

ऋणं कृत्वा वापसं न करेत…

अहा! तकनीक ने जिंदगी कितनी आसान कर दी है! और, मैं तकनीक की उस आसानी की बात नहीं कर रहा हूं जिसमें आप अपने स्मार्ट-टीवी पर एक तरफ नवीनतम समा...

नवीनतम फेडोरा लिनक्स में हिंदी भाषा व कुंजीपट कैसे सेट करें

बहुत से पाठक अभी भी ईमेल से या पोस्टों पर कमेंट कर पूछते हैं कि लिनक्स में हिंदी यूनिकोड टाइपिंग के लिए क्या-क्या विकल्प है और इसकी सेटिंग क...

गूगल ब्लॉगर ब्लॉगस्पॉट के ब्लॉग सर्वे में भाग लेकर हिंदी ब्लॉगिंग औजार की बेहतरी के लिए अपना फ़ीडबैक दें

गूगल ब्लॉगर ब्लॉगस्पॉट का ध्यान अब हिंदी ब्लॉगिंग की ओर थोड़ा सा आया है. अब एक सर्वे करवाया जा रहा है जिससे हम आप जैसे वास्तविक हिंदी ब्लॉग...

चोप्प! बहुत हो चुकी बहस!!

…भलाई इसी में है कि बहस मत करो और चुपचाप बात मान लो!

हम शपथ लेते हैं कि इंटरनेट नहीं चलाएंगे!

    तो, फिर, इंटरनेट का मतलब ही क्या है? हे! ईश्वर, इन्हें माफ़ करना. ये मासूम हैं. ये खुद नहीं जानते कि ये क्या कर/करवा रहे हैं!

आखिर, अच्छे दिन आ ही गए!

भारतीय जनता के अच्छे दिन आए, न आए, हमारे (जैसों के) तो अच्छे दिन अभी ही आ गए. पर, एक पेंच है. जापान जाना होगा. या शायद, जापानियों की देखा...