संदेश

May, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

ऋणं कृत्वा वापसं न करेत…

चित्र
अहा! तकनीक ने जिंदगी कितनी आसान कर दी है!और, मैं तकनीक की उस आसानी की बात नहीं कर रहा हूं जिसमें आप अपने स्मार्ट-टीवी पर एक तरफ नवीनतम समाचार या फ़ेसबुक स्टेटस पढ़/लिख रहे होते हैं तो वहीं पर, उसी टीवी के स्क्रीन के दूसरे कोने में आपकी उत्तमार्द्ध बालिका वधू देख रही होती है. और कमाल ये कि आपका अपना रिमोट माउस व की-बोर्ड आपके हाथ में होता है, और टीवी चैनल का रिमोट आपकी पत्नी के – हालांकि भले ही इसका प्रयोग वो यदा कदा ही करे.मैं तो उस आसानी की बात कर रहा हूँ, जो तकनीक आपके आज-नकद, कल-उधार वाले जीवन में लेकर आई है. चीज़ों को उधार लेने-देने की परंपरा मानव जाति के उद्भव के साथ ही शुरू हो गई होगी. और, बहुत संभव है, यदि कोई परंपरा मानव सभ्यता में शुरू हुई भी होगी, तो वो उधार मांगने की परंपरा ही हुई होगी. लोगों को भले ही लगता हो कि यह परंपरा आजकल थोड़ा खतरे में आ गई है क्योंकि आज के जमाने में भले ही आदमी फ़ेसबुकिया किस्म का सोशल हो गया हो जहाँ घर में शक्कर या नमक खत्म हो जाने पर फ़ीकी चाय और बिना नमक की दाल से ही काम चला लेता है बजाय पड़ोस में जाकर एक कटोरी उधार मांग लाने के, मगर फिर भी वो अप…

नवीनतम फेडोरा लिनक्स में हिंदी भाषा व कुंजीपट कैसे सेट करें

चित्र
बहुत से पाठक अभी भी ईमेल से या पोस्टों पर कमेंट कर पूछते हैं कि लिनक्स में हिंदी यूनिकोड टाइपिंग के लिए क्या-क्या विकल्प है और इसकी सेटिंग कैसे की जाती है. लिनक्स में खूबी यह है कि यदि आप सही संस्करण उपयोग में लेंगे तो आपको बाई-डिफ़ॉल्ट हिंदी की तमाम सुविधा मय कुंजीपट के मिलती है. हिंदी कुंजीपट भी रेमिंगटन, इनस्क्रिप्ट, टाइपराइटर, फ़ोनेटिक आदि 10 भिन्न प्रकार के, जिनमें कोई न कोई आपके काम का हो सकता है. हिंदी के लिहाज से फेडोरा लिनक्स सर्वोत्तम है. वह इसलिए, कि रेडहैट के पुणे स्थित भारतीय भाषाई स्थानीयकरण की पूर्ण समर्पित टीम इसके डिफ़ॉल्ट संस्करण को आमतौर पर पूर्णतः हिंदी समर्थन युक्त बनाए रखने में लगातार प्रयासरत रहती है. फेडोरा लिनक्स को हिंदी में काम करने हेतु सेट करना बेहद आसान है. आइए, देखते हैं कि कैसे – फेडोरा का नवीनतम संस्करण 20 है, जिसके विविध प्लेटफ़ॉर्म – यथा 32 / 64 बिट या अन्य डेस्कटॉप / विंडो वातावरण आदि आप यहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं – http://fedoraproject.org/en/get-fedora#formatsवैसे, आमतौर पर डिफ़ॉल्ट फेडोरा डाउनलोड की सलाह दी जाती है – जिसमें ग्नोम विंडो वातावरण ह…

भारतीय हिंदी लिनक्स के पंद्रह साल - तस्वीरों में कुछ पुरानी यादें…

चित्र

गूगल ब्लॉगर ब्लॉगस्पॉट के ब्लॉग सर्वे में भाग लेकर हिंदी ब्लॉगिंग औजार की बेहतरी के लिए अपना फ़ीडबैक दें

गूगल ब्लॉगर ब्लॉगस्पॉट का ध्यान अब हिंदी ब्लॉगिंग की ओर थोड़ा सा आया है.
अब एक सर्वे करवाया जा रहा है जिससे हम आप जैसे वास्तविक हिंदी ब्लॉगरों से अपने अनुभव तथा इसकी बेहतरी के लिए फ़ीडबैक मांगा जा रहा है.

मैंने अपने विचार से कुछ फ़ीडबैक ये दिए हैं -

1 - क्रासप्लेटफ़ॉर्म ब्लॉगिंग क्लाएंट - (विंडोज लाइव राइटर जैसा) जिसमें हिंदी वर्तनी जाँच की अंतर्निर्मित सुविधा हो.

2 - तमाम तरह के हिंदी कीबोर्ड - खासकर कृतिदेव/रेमिंगटन से टाइप करने की सुविधा युक्त एक क्लिक से इंस्टाल होने वाला इनपुट टूल (IME)

3 - हिंदी ब्लॉगिंग का मॉनीटाइज़ेशन - एडसेंस के द्वारा - जितनी जल्दी हो उतना उत्तम - इससे ही अधिकाधिक हिंदी ब्लॉगरों को प्रतिबद्ध ब्लॉगिंग की ओर खींचा और बांधा जा सकेगा (भूखे भजन न होय गोपाला!)

4 - अंतर्निर्मित फ़ॉन्ट कन्वर्टर - प्रमुख पुराने फ़ॉन्टों - जैसे कि कृतिदेव, चाणक्य आदि से यूनिकोड में पूरी शुद्धता से कन्वर्शन की सुविधा.

5 - हिंदी विशिष्ट टैम्प्लेट

इसी तरह के तथा यही या अन्य अपने अनुभव जन्य अथवा विश-लिस्ट भी आप फ़ीडबैक में दे सकते हैं.

फ़ीडबैक देने की लिंक है -

https://docs.google.com/a/g…

चोप्प! बहुत हो चुकी बहस!!

चित्र
…भलाई इसी में है कि बहस मत करो और चुपचाप बात मान लो!

हम शपथ लेते हैं कि इंटरनेट नहीं चलाएंगे!

चित्र
तो, फिर, इंटरनेट का मतलब ही क्या है?हे! ईश्वर, इन्हें माफ़ करना. ये मासूम हैं. ये खुद नहीं जानते कि ये क्या कर/करवा रहे हैं!

आखिर, अच्छे दिन आ ही गए!

चित्र
भारतीय जनता के अच्छे दिन आए, न आए, हमारे (जैसों के) तो अच्छे दिन अभी ही आ गए. पर, एक पेंच है.जापान जाना होगा. या शायद, जापानियों की देखादेखी, कौन जाने यह योजना भारत में भी यह लागू हो जाए! आखिर हम नकल करने में उस्ताद जो ठहरे!संदर्भवश, चाहें तो आप यह वीडियो भी देख सकते हैं -

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें