एण्ड्रॉयड मोबाइल फ़ोन व टैबलेट के लिए हिंदी टाइपिंग का नया इंडिक कीबोर्ड ऐप्प जारी

image

स्वतंत्र मलयालम कंप्यूटिंग संस्था द्वारा एंड्रायड सिस्टम के लिए  एक नया इंडिक इनपुट ऐप्प जारी किया गया है जो कि हिंदी समेत 15 भारतीय भाषाओं में टाइपिंग की सुविधा प्रदान करता है. यह गूगल प्ले स्टोर से निशुल्क डाउनलोड हेतु उपलब्ध है.

हालांकि पिछले कुछ समय से गूगल का स्वयं का आधिकारिक हिंदी इनपुट कीबोर्ड आ चुका है, और सेमसुंग भी कई भारतीय भाषाओं में हिंदी इनपुट कीबोर्ड ला चुका है, और गो कीबोर्ड तथा और ऐसे ही कुछ अन्य तृतीय पक्ष के औजार पहले से ही हैं परंतु इनमें कुछ न कुछ खामियाँ बनी हुई हैं.

इन खामियों को कुछ हद तक दुरुस्त करने का प्रयास इसमें किया गया है. उदाहरण के लिए, आपको इसमें हर भाषा में फ़ोनेटिक, इनस्क्रिप्ट तथा ट्रांसलिट्रेशन तीन तरह के कीबोर्ड मिलेंगे, जिससे उपयोगकर्ता को अपने मन मुताबिक कीबोर्ड लेआउट में काम करने की सुविधा मिले.

और विवरण आप यहाँ से देख सकते हैं -

https://play.google.com/store/apps/details?id=org.smc.inputmethod.indic 

 

ऐप्प डाउनलोड करने के लिए अपने मोबाइल पर गूगल प्ले स्टोर में जाकर

Indic Keyboard तथा

Swathanthra Malayalam Computing

से खोजें.

टिप्पणियाँ

  1. वाह, अब जनता के लिये जागृति हो रही है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया है। गूगल ट्रांसलिटरेशन से बेहतर!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. जी, इसे भारतीय भाषाओं में कंप्यूटिंग उत्पादों के विकास में पिछले कई वर्षों से जुड़ी संस्था द्वारा बनाया गया है तो इसे बेहतर बनाने का प्रयास किया गया है.

      हटाएं
    2. वर्ड प्रेडिक्शन कैसा है?

      कीबोर्ड तो लगभग सभी एक से होते हैं, महत्व होता है कि ऑटो कमप्लीट के लिए अगले शब्द का अनुमान कितना सटीक लगा सकता है। मैंने कई कीबोर्ड आज़माए हैं लेकिन स्विफ़्ट की अभी भी इसी कारण पसंद है कि उसमें टाइप कम करना पड़ता है। लेकिन हिन्दी के मामले में वह अभी उतना बढ़िया अनुमान नहीं लगा सकता, बाकी जो आज़माए हैं हिन्दी के लिए उनके अनुमान भी जमे नहीं। :(

      हटाएं
  3. उपयोगी जानकारी
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  4. उपयोगी जानकारी
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  5. कृपया विंडो फोन के लिए भी सुझाएँ....!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. श्रीश जी,
      विंडोज 7 फोन में हिंदी का समर्थन नहीं है. विंडोज 8 फ़ोन में हिंदी का अंतर्निर्मित समर्थन व हिंदी का बढ़िया उन्नत कीबोर्ड है - प्रेडिक्टिव इनपुट समेत. जिसकी जानकारी इसी ब्लॉग में अन्यत्र पृष्ठों पर मिल जाएगी.

      हटाएं
  6. गूगल हिंदी इनपुट से ही काम चल रहा है

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. ऊपर ज्ञानदत्त जी की टिप्पणी पढ़ें. एक बार आजमा कर देखें. यह शायद गूगल हिंदी इनपुट से बेहतर है.

      हटाएं
  7. आजमाया, फोनेटिक/ट्राँसलिट्रेशन प्रेमियों के लिये ठीक है। गूगल की डिक्शनरी आधारित अप्रोच की बजाय यह डैस्क्टॉप के बरह आदि टूल की तरह फिक्स्ड ट्राँसलिट्रेशन स्कीम पर काम करता है।

    बाकी हम जैसे वास्तविक हिन्दी (देवनागरी) कीबोर्ड प्रयोक्ताओं के लिये तो स्विफ्टकी और स्वाइप बैस्ट हैं। इसके इन्स्क्रिप्ट कीबोर्ड में कुंजी पर मौजूद दूसरे वर्ण (जैसे त वाली पर थ) के लिये बार-बार शिफ्ट मोड में जाना पड़ता है जबकि स्विफ्टकी तथा स्वाइप में कुंजी को थोड़ा दबाये रखने से वह वर्ण आ जाता है। दूसरे इन दोनों में स्वाइप (अंगुली फिराते रहकर बिना हाथ उठाये) की जो प्रिडक्शन युक्त सुविधा है, उसका जवाब नहीं। टैबलेट की बड़ी स्क्रीन पर तो इसका अनुभव अत्यन्त आनन्ददायक है।

    रवि जी क्या आपने स्विफ्टकी प्रयोग करके देखा है? एक बार जरूर देखें।

    उत्तर देंहटाएं
  8. ये सभी इंडिक आई.एम.ई. मोबाईल और टेब पर इनपुट के लिए तो ठीक हैं, परन्तु यदि टेब के साथ कोई अतिरिक्त ब्लूटूथ कीबोर्ड लगाया गया हो तो उसमें इनस्क्रिप्ट का इंडिक आई.एम.ई. कैसे उपलब्ध कराया जाए?

    उत्तर देंहटाएं
  9. चूँकि इसके सोर्स कोड भी उपलब्ध हैं, जानकार व्यक्ति इसमें उचित सुधार कर सकते हैं या इसे और विकसित कर सकते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  10. देवनागरी ऑनस्क्रीन कीबोर्ड के लिहाज से स्विफ्टकी तथा स्वाइप सर्वश्रेष्ठ हैं। स्वाइप सुविधा केवल पेड वाले वर्जन में है पर १०० रुपये में इतनी अच्छी सुविधा महँगी नहीं।

    इन दोनों के कीबोर्ड मानक इन्स्क्रिप्ट लेआउट वाले हैं पर इसके लिये आपको कम्प्यूटर पर इन्स्क्रिप्ट आनी जरूरी नहीं। दो-चार दिन में वर्णों के स्थान की पहचान हो जाती है। टचस्क्रीन फोन पर जब वर्ण सामने स्क्रीन पर मौजूद हों तो मुझे नहीं लगता कि लेआउट कोई मसला है।

    मोबाइल पर फोनेटिक (ट्राँसलिट्रेशन) के साथ टाइप करना तो मुझे बेहद धीमा व अनावश्यक लगता है। फोनेटिक औजारों की कम्प्यूटर पर जरूरत इसलिये महसूस हुयी थी ताकि जिसे इन्स्क्रिप्ट/रेमिंगटन न आती हो वह कीबोर्ड पर मौजूदा अंग्रेजी अक्षरों से ही काम चला सके पर मोबाइल/टैबलेट पर जब हिन्दी के वर्ण स्क्रीन पर सामने हों तो भी बीच में ट्राँसलिट्रेशन की दलाली का सहारा लेना मूर्खता है।

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत उत्तम... फे़सबुक पर साझा किया गया है...। आभार...सादर...

    उत्तर देंहटाएं
  12. सादर...बहुत उपयोगी औज़ार है... फे़सबुक पर साझा किया जा रहा है...आभार।

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें