गुरुवार, 20 मार्च 2014

राजेश रंजन का आलेख - अपना कंप्यूटर अपनी भाषा में - भाग 6 : ऑफ़िस सूट, इंटरनेट ब्राउज़र, ईमेल तथा मैसेंजर

(पिछले भाग 5 से जारी...)

8.ऑफ़िस सूइटओपनऑफ़िस

ओपनऑफ़िस कार्यालय में उपयोग में आने वाले अनुप्रयोगों का समूह है जिसका स्रोत कोड भी स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है. ओपनऑफ़िस को OpenOffice.org या OOo के रूप में भी जाना जाता है. इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि ओपनडाक्यूमेंट मानक को आँकड़ा विनिमय के लिए प्रयोग करने के साथ ही साथ यह माइक्रोसॉफ़्ट ऑफ़िस के कई संस्करणों के साथ बहुतेरे दूसरे प्लेटफ़ॉर्म पर उपयोग किया जाता है. यह मुख्यतया माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज, लिनक्स, सोलारिस, बीएसडी, ओपनवीएमएस, OS/2, और IRIX पर समर्थित है.

clip_image002[1]_thumb[1]

ओपनऑफ़िस स्टारऑफिस (http://www.sun.com/software/star/staroffice/index.jsp) पर आधारित है जिसे बाद में सन माइक्रोसिस्टम (http://sun.com) के द्वारा अगस्त 1999 में अधिगृहीत कर लिया गया. ओपनऑफ़िस एक मुक्त सॉफ़्टवेयर है जो जीएनयू लेसर जनरल पब्लिक लाइसेंस के अधीन उपलब्ध कराया गया है. हालांकि इसे ओपनऑफ़िस के रूप में ज़्यादा लोकप्रिय रूप से जाना जाता है लेकिन यह ट्रेडमार्क किसी दूसरे के नाम से पंजीकृत है इसलिए इसका औपचारिक नाम Openoffice.Org रखना वैधानिक ज़रूरत हो गई है. इसका वेब साइट विधिवत तौर पर अक्टूबर 2000 में शुरू हुआ था. माइक्रोसॉफ़्ट ऑफ़िस सूट के बनिस्बत एक समस्या यहाँ है कि इस ऑफ़िस सूट में प्रोसेसिंग समय व स्मृति की अधिक खपत होती है.

ओपनऑफ़िस के कई घटक हैं. राइटर (Writer) माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड के तरह का वर्ड प्रोसेसर है जिसमें PDF प्रारूप में पृष्ठ को प्राप्त करने की सुविधा बिना किसी अतिरिक्त सॉफ़्टवेयर को लगाने से प्राप्त हो जाती है. साथ ही वेब पेज संपादन की सुविधा यहाँ है. कैल्क (Calc) माइक्रोसॉफ़्ट एक्सेल के समान गुणों वाला है. इसे भी PDF फ़ाइल में सीधे पाया जा सकता है. इम्प्रेस (Impress) प्रस्तुतिकरण प्रोग्राम है जो माइक्रोसॉफ़्ट पावर प्वाइंट के समान है. अपने अन्य साथी की तरह यहाँ भी सीधे PDF प्राप्त किया जा सकता है. बेस (Base) डाटाबेस प्रोग्राम है जो माइक्रोसॉफ़्ट एक्सेस के समान है. बेस को विभिन्न डाटाबेस के लिए फ्रंटएंड के रूप में प्रयोग किया जा सकता है. ड्रॉ (Draw) वेक्टर ग्राफिक्स एडीटर है जो कोरलड्रॉ के शुरूआती संस्करण के तरह काम करता है. यह माइक्रोसॉफ़्ट पब्लिशर की तरह है. माइक्रोसॉफ़्ट इक्वेशन एडीटर की तरह गणितीय सूत्रों के निर्माण व संपादन का काम मैथ (Math) करता है.

clip_image004[1]_thumb[1]

ओपनऑफ़िस का विकास सीवीएस के प्रयोग से होता है. सीवीएस फ़ाइल को ट्री संरचना में संगठित करता है. इसके अनुवाद की प्रक्रिया हालांकि गनोम से भिन्न है परंतु आसान है जिसे सीखा जा सकता है. अनुवाद किसी भी संपादक पर किया जा सकता है लेकिन यह जरूरी है कि आरंभ करने के सबसे पहले यह जानना होता है कि किस संस्करण का अनुवाद किया जाना है. इसके लिए सबसे पहले dev@l10n.openoffice.org डाक सूची पर निश्चित कर लें कि कौन सा संस्करण चल रहा है. लेकिन यदि कोई बड़ा रिलीज़ हाल में होने जा रहा हो तो सबसे अच्छा हो कि आप इसी संस्करण पर काम करें. फिर ज़रूरत होती है फ़ाइलों की जिसे आपको अनूदित करना है. इसे इस लिंक से लीजिए:

ftp://ftp.linux.cz/pub/localization/OpenOffice.org/devel/

clip_image006[1]_thumb[1]

यहाँ आप ओपनऑफ़िस की हर सक्रिय शाखाओं के लिए फ़ोल्डर पाएँगे. किसी भी डायरेक्ट्री में आप दो तरह की फ़ाइलें पाएँगे एक तो POT फ़ाइल और दूसरी en-US.sdf फ़ाइल. जिस शाखा के लिए आप काम करना चाहते हैं उस शाखा की आप दोनों फ़ाइलें डाउनलोड कर लें जिसमें en-US.sdf फ़ाइल की ज़रूरत आपको अनुवाद का काम ख़त्म करने के बाद ओपनऑफ़िस प्रारूप में फ़ाइलों को बदलने में होगी.

फिर क्या है! केबैबेल (KBabel) या पीओएडिट (POedit) पर अनुवाद के काम में जुट जाइए. चूँकि मदद फ़ाइलों को छोड़कर भी फ़ाइलें काफ़ी बड़ी हैं इसलिए लंबा समय लगता है. यह काम चूँकि महत्वपूर्ण व बड़ा है इसलिए पहले से ही शब्दावली तय कर ली जाए तो अच्छा हो.

फिर ट्रांसेलेशन टूलकिट (Translate Toolkit) को अपने कंप्यूटर में स्थापित करें जिसका उपयोग अनूदित फ़ाइलों को ओपनऑफ़िस प्रारूप में बदलने में होगा. इस सबसे पहले फ़ाइल की बैकअप कॉपी ले लें. फ़ाइल को जाँच लें कि फ़ाइल हर तरह से सही है कि नहीं यानी उसमें टैग आदि सही ढ़ंग से हैं या नहीं. फिर फ़ाइल को ओपनऑफ़िस प्रारूप में बदलने के लिए ट्रांशलेशन टूलकिट की मदद लें और po2oo औज़ार की मदद से अपनी फ़ाइल को ओपनऑफ़िस प्रारूप में बदलें. यहाँ आपको en-US.sdf फ़ाइल की ज़रूरत पड़ेगी जिसके पाथ को आपको इसमें बदलने के दौरान देना पड़ेगा. आपको कमांड के साथ लोकेल नाम भी देना होगा. उदाहरण लीजिए...

clip_image008[1]_thumb[1]

po2oo -i <folder-with-po-files> -t en-US.sdf -o <name-of-GSI-format-file> -l <Locale-name>

हिन्दी के लिए यह कमांड oo-2.0-hi-GSI.sdf आउटपुट फ़ाइल देगी. फिर उसके बाद अपनी भाषा के लिए लोकलाइज़ेशन प्रोजेक्ट (L10n) के अंदर एक इस्यू बनाकर फ़ाइल सुपुर्द करें. एक इश्यू का उदाहरण देखें:

http://www.openoffice.org/issues/show_bug.cgi?id=68062

डाक सूची:

पहले आप openoffice.org पर अपना खाता बनाएँ और फिर नीचे की सूची से डाक सूची चुनें:

http://native-lang.openoffice.org/servlets/ProjectMailingListList

http://l10n.openoffice.org/servlets/ProjectMailingListList

ऊपर के दोनों प्रोजेक्ट देशीय भाषाओं में ओपन ऑफ़िस को लाने के काम से जुड़ी है. हिन्दी में पहले से काम चल रहा है और फिलहाल http://hi.openoffice.org टीम ने इस काम का जिम्मा लिया हुआ है. इससे जुड़े पिछले काम के लिए इस इस्यू को देखिए, यहाँ से आप अनुवाद की हुई फ़ाइलें भी ले सकते हैं:

http://www.openoffice.org/issues/show_bug.cgi?id=68062

हाल में पूटल सर्वर भी अनुवाद की समस्या को यहाँ पर सरल बनाने के लिए लाया गया है. इसमें शामिल भाषाओं को दो जगह पर पाया जा सकता है:

http://www.sunvirtuallab.com:32300/languages/

http://pootle2.sunvirtuallab.com/languages/

यहाँ से सीधे उन भाषाओं में अनुवाद किए जा सकते हैं परंतु यहाँ एक प्रशासक रहता है जिसकी अनुमति अनुवाद के उस अंश को कमिट किए जाने के लिए होती है. आप यूजर गाइड यहाँ से पा सकते हैं:

http://wiki.services.openoffice.org/wiki/Pootle_User_Guide

हालाँकि यह बेहतर उपाय हैं क्योंकि यहाँ से ऑनलाइन अनुवाद या फाइलें अनुवाद कर डाली जा सकती हैं लेकिन पूटल सर्वर में अभी भी थोड़ी बहुत समस्या है जिसे दूर कर लिया जाता है.

जरूरी कड़ी संदर्भ:

http://en.wikipedia.org/wiki/OpenOffice.org

ftp://ftp.linux.cz/pub/localization/OpenOffice.org/devel/POT/
http://oootranslation.services.openoffice.org/pub/OpenOffice.org/
http://l10n.openoffice.org/
http://www.khmeros.info/tools/localization_tips.html
http://www.khmeros.info/tools/oo2.0_program_translaltion.html
http://qa.openoffice.org/localized/index.html
http://qatrack.services.openoffice.org/view.php
http://wiki.services.openoffice.org/wiki/OOoRelease30
http://wiki.services.openoffice.org/wiki/NLC:ReleaseChecklist
http://l10n.openoffice.org/L10N_Framework/ooo20/localization_of_openoffice_2.0.html
http://www.microsoft.com/globaldev/reference/lcid-all.mspx

http://www.openoffice.org/issues/show_bug.cgi?id=68062

ऑफ़िस सूइट – लिब्रेऑफिस

लिब्रेऑफिस कार्यालय में उपयोग में आने वाले अनुप्रयोगों का समूह है जिसका स्रोत कोड भी स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है. पहले जिसपर समुदाय ओपनऑफ़िस के रूप काम करती है वही अब कुछ वैधानिक कारणों से लिब्रेऑफिस हो गया है। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि ओपनडाक्यूमेंट मानक को आँकड़ा विनिमय के लिए प्रयोग करने के साथ ही साथ यह माइक्रोसॉफ़्ट ऑफ़िस के कई संस्करणों के साथ बहुतेरे दूसरे प्लेटफ़ॉर्म पर उपयोग किया जाता है. यह मुख्यतया माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज, लिनक्स, सोलारिस, बीएसडी, ओपनवीएमएस, OS/2, और IRIX पर समर्थित है.

clip_image010[1]_thumb[1]

लिब्रेऑफ़िस एक मुक्त सॉफ़्टवेयर है जो जीएनयू लेसर जनरल पब्लिक लाइसेंस के अधीन उपलब्ध कराया गया है. माइक्रोसॉफ़्ट ऑफ़िस सूट के बनिस्बत एक समस्या यहाँ है कि इस ऑफ़िस सूट में प्रोसेसिंग समय व स्मृति की तुलनात्मक अधिक खपत होती है.

लिब्रेऑफ़िस के कई घटक हैं. राइटर (Writer) माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड के तरह का वर्ड प्रोसेसर है जिसमें PDF प्रारूप में पृष्ठ को प्राप्त करने की सुविधा बिना किसी अतिरिक्त सॉफ़्टवेयर को लगाने से प्राप्त हो जाती है. साथ ही वेब पेज संपादन की सुविधा यहाँ है. कैल्क (Calc) माइक्रोसॉफ़्ट एक्सेल के समान गुणों वाला है. इसे भी PDF फ़ाइल में सीधे पाया जा सकता है. इम्प्रेस (Impress) प्रस्तुतिकरण प्रोग्राम है जो माइक्रोसॉफ़्ट पावर प्वाइंट के समान है. अपने अन्य साथी की तरह यहाँ भी सीधे PDF प्राप्त किया जा सकता है. बेस (Base) डाटाबेस प्रोग्राम है जो माइक्रोसॉफ़्ट एक्सेस के समान है. बेस को विभिन्न डाटाबेस के लिए फ्रंटएंड के रूप में प्रयोग किया जा सकता है. ड्रॉ (Draw) वेक्टर ग्राफिक्स एडीटर है जो कोरलड्रॉ के शुरूआती संस्करण के तरह काम करता है. यह माइक्रोसॉफ़्ट पब्लिशर की तरह है. माइक्रोसॉफ़्ट इक्वेशन एडीटर की तरह गणितीय सूत्रों के निर्माण व संपादन का काम मैथ (Math) करता है.

clip_image012[1]_thumb[1]

लिब्रेऑफ़िस का अनुवाद कार्य पूटल सर्वर द्वारा संचालित है. यह एक ऑनलाइन औजार है जिसकी फाइलों को डाउनलोड कर लोकलाइज, पीओएडिट जैसी टूल के साथ अनुवाद कर फिर साइट पर अपलोड किया जा सकता है. आप यहाँ http://wiki.documentfoundation.org/Language_Teams भाषा सूची देख सकते हैं जहाँ टीम के कॉर्डनिटेर के नाम और संपर्क भी दिए है. मेलिंग लिस्ट यानी डाक सूची है - l10n@global.libreoffice.org. यहाँ पर सभी भाषाओं द्वारा किया जाने वाला अनुवाद कार्य आप देख सकते हैं - https://translations.documentfoundation.org .

जरूरी कड़ी संदर्भ:

http://wiki.documentfoundation.org/Language

https://translations.documentfoundation.org/

http://wiki.documentfoundation.org/Language_Teams

http://wiki.documentfoundation.org/Translating_LibreOffice

http://wiki.documentfoundation.org/LibreOffice_Localization_Guide

http://www.libreoffice.org/get-involved/localizers/

9. ब्रॉउज़र ईमेल क्लाइंटफ़ायरफ़ॉक्स थंडरबर्ड

वेब ब्रॉउज़र एक ऐसा सॉफ़्टवेयर अनुप्रयोग होता है जो उपयोक्ताओं को वेब पृष्ठों पर स्थित पाठ, चित्र, वीडियो, संगीत आदि को दिखाने और उसके साथ अंतःक्रिया करने में समर्थ बनाता है. वेब ब्रॉउज़र वेब सर्वर के साथ संचार करता है जो HTTP का प्रयोग वेब पृष्ठों को लाने के लिए करता है. इंटरनेट एक्सप्लोरर, फ़ायरफ़ॉक्स, सफारी, ओपेरा, नेटस्केप कुछ लोकप्रिय ब्रॉउज़र हैं. फ़ायरफ़ॉक्स ओपनसोर्स में उपलब्ध काफ़ी लोकप्रिय ब्रॉउज़र है जिससे पिछले कुछ बर्षों में इंटरनेट एक्सप्लोरर के बाज़ार हिस्सा का बड़ा भाग हड़प लिया है और आज करीब 25% उपयोक्ता हैं. यहाँ हम फ़ायरफ़ॉक्स की ही मुख्यतः चर्चा करेंगे क्योंकि यह मुक्त स्रोत में उपलब्ध है और साथ ही कई महत्वपूर्ण सुरक्षा संबंधी खासियत से लैस है.

मोज़िला का फ़ायरफ़ॉक्स काफ़ी लोकप्रिय ब्रॉउज़र में से है. पिछले कुछ सालों में इसकी लोकप्रियता में इजाफा ने तो इंटरनेट एक्सप्लोलर को भी अपनी परंपरागत सुविधाओं से अलग काफ़ी कुछ जोड़ने पर विवश किया है. यह ब्रॉउज़र ओपन सोर्स का ब्रॉउज़र है और इसमें कई सारे ऐसे अतिरिक्त सुविधाओं को जोड़ा जा सकता है जो उपयोक्ताओं के कामों को काफ़ी आसान बना देता है.

मोज़िला का फ़ायरफ़ॉक्स ब्राउज़र हिंदी में स्थानीयकृत है और यह बेहद लोकप्रिय ब्राउज़र है. यह हिंदी में पूरी तरह से स्थानीयकृत है और इसकी समीक्षा कार्यशाला भी सराय-सीएसडीएस के सौजन्य से की गई थी. फ़ायरफ़ॉक्स के उन पन्ने को हिंदी स्थानीयकृत फ़ायरफ़ॉक्स के अंदर देखिए जो आपको फ़ायरफ़ॉक्स हिंदी के डाउनलोड के लिए आमंत्रित कर रहा है.

clip_image014[1]_thumb[1]

जो पिछली दिक्कतों को जानते होंगे वे समझ सकते हैं कि किसी भी वेबसाइट के हिंदी पाठ को पढ़ना कितनी टेढ़ी खीर हुआ करती थी. लेकिन अब वक़्त बदल गया है और ब्राउज़र अब हमारी भाषाओं के पाठ को पहचानने से इन्कार नहीं करती है.

clip_image016_thumb[1]

फ़ायरफ़ॉक्स ब्राउज़र में खोला गया बीबीसी हिंदी का पहला पन्ना.

यदि आप फ़ायरफ़ॉक्स को अपनी भाषा में स्थानीयकृत करना चाहते हैं तो बेहतर होगा कि आप जाँच लें कि पहले से स्थानीयकरण का यह काम पूरा हो चुका है अथवा कोई दूसरी टीम इस काम में लगी तो नहीं है. फ़ायरफ़ॉक्स के लिए काम कर रही टीमों की सूची आप यहाँ से मोज़िला के विकि पेज से हासिल कर सकते हैं http://wiki.mozilla.org/L10n:Localization_Teams. आप इस पृष्ठ पर जाकर देख सकते हैं कि कौन सी टीम आपकी भाषा के लिए काम कर रही है या कि अबतक कोई काम शुरू नहीं हो पाया है. कुछ ग़ैर आधिकारिक दल यानी वे जो फ़ायरफ़ॉक्स के स्थानीयकरण के लिए अपना पंजीयन दर्ज नहीं किया है, भी फ़ायरफ़ॉक्स लोकलाइज़ेशन पर काम करती है. यदि अनुवाद के लिए टीम पहले से मौजूद है तो आप भी स्वयं को उस टीम के साथ जोड़े जाने का आग्रह उस टीम के कोऑर्डिनेटर से कर सकते हैं.

यदि फ़ायरफ़ॉक्स अनुवाद के लिए टीम मौजूद नहीं है तो आप एक नयी टीम उस भाषा के लिए शुरू कर सकते हैं. आप टीम का सेटअप mlp-staff@mozilla.org पर मेल भेजकर कर सकते हैं. उस मेल में आपकी टीम के कोऑर्डिनेटर का नाम व ईमेल पता होना चाहिए. एक बार मोज़िला ट्रांसलेशन टीम से स्वीकृत होने पर आपकी टीम को आधिकारिक फ़ायरफ़ॉक्स टीम के साथ जोड़ दिया जायेगा. फ़ायरफ़ॉक्स व थंडरबर्ड पर काम करने के लिए यदि आप कमिट करने का अधिकार चाहते हैं तो http://www.mozilla.org/hacking/committer/ पर जाकर खाते के लिए आवेदन दे सकते हैं. हर टीम से प्रायः सिर्फ़ एक या दो ही व्यक्ति को यह अधिकार मिलता है.

फ़ायरफ़ॉक्स पहले सीवीएस सर्वर पर चलता था लेकिन अब मरक्यूरियल पर चला गया है. कोई भी फ़ाइल को डाउनलोड कर सकता है मगर कुछ ही व्यक्ति जिनको कमिट का अधिकार मिला हुआ है फ़ाइल को अनुवाद कर उसे कमिट कर सकता है. इसी कारण से ज़ाहिर है कोऑर्डिनेटर का मरक्यूरियल (hg) से परिचित होना निहायत ही जरूरी है. एचजी से फ़ाइलें लेकर और फिर अनुवाद करने के बाद उसे वापस सौंपकर हम फ़ायरफ़ॉक्स को अपनी भाषा में करने का काम कर सकते हैं. फ़ाइलें पीओ प्रारूप में नहीं उपलब्ध रहती हैं इसलिए हम उसे किसी भी पाठ संपादक पर अनुवाद का काम कर सकते हैं.इस कार्य में ट्रंक व शाखाओं का ध्यान रखना जरूरी है. संभवतः हर मुक्त स्रोत के विकास का कार्य इस तरह की प्रक्रिया से जुड़ा रहता है. यदि आपने xpi डाउनलोड किया है तो आप इन फ़ाइलों को पीओ फ़ाइल में बदलकर अनुवाद कर सकते हैं लेकिन यहाँ पुनः आपको इस पीओ फ़ाइल को dtd या properties फ़ाइल में बदलना होगा. अनुवाद की शुद्धता की जाँच अनुवाद को एचजी को सौंपे जाने के पहले कर लेना चाहिए. यहाँ dtd या properties फ़ाइलों में पीओ फ़ाइल की बनिस्पत ज़्यादा सावधानी बरतने की ज़रूरत होती है. अनुवाद करने के बाद विधिवत जाँच करके फ़ाइल को फ़ायरफ़ॉक्स समुदाय में सौंपने की ज़रूरत है.

clip_image017_thumb[2]

स्थानीयकरण की प्रक्रिया:

मरक्यूरियल को अपने ऑपरेटिंग तंत्र पर संस्थापित करने के बाद संबंधित विन्यास और उपयोक्तानाम का सेटिंग इन चरणों में कर सकते हैं:

यदि आपको L10n को डाउनलोड करना हो तो

clip_image018_thumb[3]

यदि फ़ाइल मरक्यूरियल से ली गई है तो फ़ाइल को मरक्यूरियल में सौंपना होता है. प्रायः हर भाषा समुदाय से एक व्यक्ति को मरक्यूरियल में पहुँच दिया जाता है और इसके लिए सीवीएस की जानकारी जरूरी होती है. तो आपको अपने अनुवाद को मरक्यूरियल में सौंपना होता है. फिर उसके बाद प्रोडक्टाइज़ेशन की प्रक्रिया (सर्च, RSS रीडर्स, फ़ीड) एक बग के माध्यम से शुरू होती है. फिर अपनी भाषा के नाइटली बिल्ड को टिंडरबॉक्स (http://ftp.mozilla.org/pub/mozilla.org/firefox/tinderbox/) पर पाने के लिए एक बग फ़ाइल करनी चाहिए. फिर आख़िर में अपनी भाषा को mozilla.com/firefox/all.html page पर लाने के लिए एक अलग बग https://bugzilla.mozilla.org/ पर फ़ाइल करें.

यदि आपने अनुवाद का स्वयं ही पैकेज तैयार कर लिया है तो आप इसे mlp-staff@mozilla.org को भेज सकते हैं जो अपनी साइट पर इसे रखते हैं ताकि दूसरे लोग इसका फायदा उठा सकें. भाषा पैक तैयार करने का तरीक़ा यहाँ दिया गया है:

http://developer.mozilla.org/en/docs/Creating_en-X-dude#Create_a_language_pack

अन्य जरूरी लिंक:

http://wiki.mozilla.org/L10n:Teams

http://wiki.mozilla.org/L10n:Home_Page
http://wiki.mozilla.org/L10n:Localization_Process
http://developer.mozilla.org/en/docs/Creating_en-X-dude
http://developer.mozilla.org/en/docs/Create_a_new_localization
http://tinderbox.mozilla.org/showbuilds.cgi
http://ftp.mozilla.org/pub/mozilla.org/firefox/tinderbox/
http://ftp.mozilla.org/pub/mozilla.org/firefox/nightly/
http://people.mozilla.com/~axel/status-1.8/
http://www.mozilla.org/hacking/form.html
http://wiki.mozilla.org/Firefox3/Schedule
http://www.mozilla.com/en-US/firefox/all.html
http://www.mozilla.com/en-US/thunderbird/all.html

http://hg.mozilla.org/

http://hg.mozilla.org/l10n-central/

http://developer.mozilla.org/En/L10n_on_Mercurial

http://hgbook.red-bean.com/

irc.mozilla.org पर IRC चैनल: #l10n , #mozilla.in (भारतीय भाषाओं के लिए)

डाक सूची:

dev-l10n@lists.mozilla.org

यह डाक सूची मोज़िला लोकलाइज़ेशन के लिए काम करती है. भारतीय भाषाओं के लिए हालांकि दूसरी अलग सूची भी है परंतु इससे भी जुड़े रहें क्योंकि यही सबसे प्रमुख डाक सूची है. इससे जुड़ने के लिए इस वेब पृष्ठ को खोलें: https://lists.mozilla.org/listinfo/dev-l10n

dev-l10n-in@lists.mozilla.org

भारतीय भाषाओं के लिए उपरोक्त सूची में https://lists.mozilla.org/listinfo/dev-l10n-in पर जाकर शामिल हों.

समाचार समूह: ( सर्वर - news.mozilla.org ) mozilla.dev.l10n और mozilla.dev.l10n.in (भारतीय भाषाओं के लिए ).

10. ऑनलाइन मैसेंजरपिज़िन

आजकल सामान्य पाठ आधारित बात-चीत के लिए ऑनलाइन मैसेंजर काफ़ी लोकप्रिय है. हालांकि याहू मेल व जीमेल अपने मेल के साथ अंतःस्थापित रूप से इस सुविधा को देता है . लेकिन इससे अलग पिज़िन एक मल्टी प्रोटोकॉल इस्टैंट मैसेजिंग क्लाइंट है जो आपको अपने सारे इस्टैंट मैसेंजर को एक साथ एक ही समय में प्रयोग करने में सक्षम बनाता है. इसी पिज़िन को गैम नाम से भी जाना जाता रहा है परंतु कुछ कानूनी कारणों से उस नाम का उपयोग बंद हो गया है और अब उस पुराने गैम को पिज़िन के नाम से जाना जाता है.

clip_image020_thumb clip_image022_thumb

clip_image024_thumb[1]

पिज़िन निम्नलिखित के लिए काम करता है:

· AIM

· Bonjour

· Gadu-Gadu

· Google Talk

· Groupwise

· ICQ

· IRC

· MSN

· MySpaceIM

· QQ

· SILC

· SIMPLE

· Sametime

· XMPP

· Yahoo!

· Zephyr

इस पिज़िन को लोकलाइज करने के लिए पिज़िन के डेवलेपर अनुवाद इच्छुक समुदाय का समर्थन करती है. यदि आप अपने लोकेल में इसे अनुवाद करना चाहते हैं तो सबसे पहले इस कड़ी पर देखिए इसपर पहले से तो काम नहीं हो रहा है जैसा आप किसी भी दूसरे ओपन सोर्स प्रोजेक्ट के लिए किया जाता है - http://developer.pidgin.im/l10n. फिर यदि सक्रिय रूप से काम हो रहा है या नहीं हो रहा है दोनों स्थितियों में आप पिज़िन के अनुवादक की सूची पर मेल कर सकते हैं. सूची का आईडी है translators@pidgin.im और सदस्यता आप यहाँ से ले सकते हैं http://pidgin.im/cgi-bin/mailman/listinfo/translators.

यदि आपकी भाषा के लिए अबतक काम चालू नहीं हुआ है तो फिर भी आपको इसी सूची पर लिखना है कि किसी ने अबतक कोई काम शुरू तो नहीं किया है तो भी आपको इसी सूची पर मेल भेजना है. फिर अनुवाद सौंपने के लिए http://developer.pidgin.im/simpleticket पर एक इस्यू बनाइए और अनुवाद सुपुर्द कीजिए.

जरूरी कड़ियां व संदर्भ :

http://www.pidgin.im/

http://developer.pidgin.im/

http://developer.pidgin.im/wiki/TipsForTranslators

http://pidgin.im/cgi-bin/mailman/listinfo/translators

http://developer.pidgin.im/simpleticket

 

(क्रमशः अगले अंकों में जारी...)

 

clip_image0024_thumb_thumb

राजेश रंजन

राजेश रंजन विगत कई वर्षों से हिन्दी कंप्यूटरीकरण
के कार्य से जुड़े हुए हैं. वे अभी एक बहुदेशीय
सॉफ्टवेयर कंपनी रेड हैट में बतौर लैंग्वेज मेंटेनर हिन्दी
के रूप में कार्यरत हैं. वे कंप्यूटर स्थानीयकरण की कई
परियोजनाओं जैसे फेडोरा, गनोम, केडीई, ओपनऑफिस,
मोज़िला आदि से जुड़े हैं. साथ ही कंप्यूटर अनुवाद में
मानकीकरण के लिए चलाए गए एक महत्वाकांक्षी सामुदायिक
परियोजना फ़्यूल के समन्वयक भी हैं. इसके अलावे उन्होंने
मैथिली कंप्यूटिंग के कार्यों को भी अपनी देख-रेख में
मैथिली समुदाय के साथ पूरा किया है. वे प्रतिष्ठित मीडिया
समूह इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप के जनसत्ता और लिटरेट
वर्ल्ड के साथ काम कर चुके हैं.

हिन्दी पत्रकारिता में भारतीय जनसंचार संस्थान, नई दिल्ली
से स्नातकोत्तर डिप्लोमा पाने के पहले इन्होंने नेतरहाट विद्यालय,
साइंस कॉलेज, पटना और किरोड़ीमल कॉलेज, दिल्ली जैसे
जाने-माने संस्थानों में अध्ययन किया है. भाषाई तकनीक, इंटरनेट,
कंप्यूटर पर इनके लेखादि लगातार प्रकाशित होते रहते हैं.


कॉपीराइट © राजेश रंजन, सर्वाधिकार सुरक्षित.

क्रियेटिव कॉमन्स एट्रीब्यूशन शेयर एलाइक लाइसेंस के अंतर्गत.

1 blogger-facebook:

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------