आसपास की कहानियाँ ||  छींटें और बौछारें ||  तकनीकी ||  विविध ||  व्यंग्य ||  हिन्दी || 2000+ तकनीकी और हास्य-व्यंग्य रचनाएँ -

इंटरनेट ईश्वरीय वरदान है, तो फ़ेसबुक संक्रामक वायरल रोग जो 2017 में ओरकुट की तरह भस्म हो जाएगा!

 

भई, ये बातें बड़े-बड़े पंडित और शोध-कर्ता कह रहे हैं, तब तो मानना पड़ेगा!

image

image

जय हो!

(सलमान और उसके फ़िल्म की नहीं!)

टिप्पणियाँ

  1. यह तो होना ही है.किसी भी कार्य के निरंतर चलने में समरसता नहीं रहती. फैफबूक भी अब अपना चारम खोती जा रही हैं. और आये दिन होने वाले अपराधिक कृत्यों ने भी इसे लांछित कर दिया है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. पता नहीं २०१७ में देखेंगे।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ब्‍लॉगिंग जिन्‍दाबाद :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन राष्ट्रीय बालिका दिवस और ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  5. बात सत्य है ..
    जय हो ..

    उत्तर देंहटाएं
  6. मुझे नहीं लगता। पुराने ऊब कर भागेंगे, नये जुड़ते चले जायेंगे।

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें