शुक्रवार, 12 अप्रैल 2013

आपके मोबाइल फ़ोन / स्मार्टफ़ोन / स्मार्टमोबाइल / टैबलेट का धर्म क्या है?

wp_ss_20130331_0001

मैं अपने नए स्मार्टमोबाइल में श्रेष्ठ मूल्यांकित (टॉप रेटेड ऐप्प) ऐप्प पर एक नजर डाल रहा था कि इसमें कौन से, काम के ऐप्प डाले जाने चाहिएं.

तो मैंने जैसे ही खोजबीन प्रारंभ किया, मुझे ऊपर दिखाए गए चित्र के अनुसार ऐप्प दिखे. टॉप रेटेड. यानी श्रेष्ठ मूल्यांकित श्रेणी में.

हनुमान चालीसा, बाइबिल ऑन द गो, इस्लामिक हब.

अर्थ यह कि हमारे स्मार्टफ़ोन हमसे भी ज्यादा धार्मिक हो रहे हैं. उनमें धार्मिक ऐप्प इंस्टाल होना पहली शर्त है! टॉप रेटेड ऐप्प तो यही कहानी कह रहे हैं, और आप झूठ नहीं बोल सकते.

 

तो, कृपया बताएँ कि आपके मोबाइल फ़ोन का धर्म क्या है?

6 blogger-facebook:

  1. मेरा स्मार्टफ़ोन बस मालिक को भगवान मानता है और उसी की सेवा में लगा रहता है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. ब्राह्मण धर्म (विद्यादान), क्षात्र धर्म (देश की रक्षा) आदि की तर्ज पर कहें तो स्मार्टफोन का धर्म कॉल करना/सुनना है। :-)

    प्रयोक्ता धार्मिक ऍप्लिकेशनों को ज्यादा रेट करते होंगे जिससे ये टॉप में चली गयी।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ... तो निष्कर्ष यह निकला की धार्मिक लोग तकनीकी प्रयोगों मे अग्रणी होते हैं, वे ऐप्प बनाते भी अधिक हैं, उसे अपनाते भी अधिक हैं और प्रमोट भी अधिक करते हैं। सह-निष्कर्ष यह भी हो सकता है कि नास्तिक लोग ऐप्स के अस्तित्व मे विश्वास नहीं करते ... नव संवत्सर युगादि की बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. मुझे तो लगता है कि धार्मिक ऐप्प तो मार्केट की डिमांड है - पैसा कमाने के उद्देश्य से बनाया गया है. अलबत्ता इन्हें अधिकाधिक प्रयोग कर और इनको शीर्ष मूल्यांकित कर उपयोगकर्ता ही शीर्ष में पहुँचाते हैं - लगता है कि जनता जरा ज्यादा ही धार्मिक होती जा रही है...

      हटाएं
  4. एक बात तो तय है कि इन एप्प से जीवन बहुत आसान हो रहा है, अभी उस दिन ही मैंने मोबाइल पर Constiution, IPC, CPC, CrPC, Income Tax Act, Motor Vehicle Act डाउनलोड किए. वर्ना मैंने कभी नही सोचा था कि इस तरह के अधिनियम आप मोबाइल पर कभी देख भी सकते हैं.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. बिलकुल। इन ऐप्प में हमारी ज़रूरत के हिसाब से अथाह जानकारी मौजूद है। मैं तो आजकल पुस्तकों के इलेक्ट्रोनिक संस्करण भी भारी-भरकम किन्डल के बजाय फोन पर ही पढ़ रहा हूँ।

      हटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------