संदेश

April, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं
आसपास की कहानियाँ ||  छींटें और बौछारें ||  तकनीकी ||  विविध ||  व्यंग्य ||  हिन्दी || 2000+ तकनीकी और हास्य-व्यंग्य रचनाएँ -

लीजिए पेश है गुजराती से हिन्दी अनुवादक तथा हिन्दी से छत्तीसगढ़ी अनुवादक

चित्र
इन अनुवादकों को तकनीकी हिंदी समूह के सक्रिय सदस्य, अनुनाद सिंह ने तैयार किया है. ये अनुवादक अभी प्रूफ़ ऑफ़ कॉसेप्ट की तरह ही हैं, मगर इन्हें थोड़े से श्रम कर और इनमें संशोधन कर बढ़िया अनुवादक बनाया जा सकता है. डोमेन स्पेसिफिक यानी विशिष्ट श्रेणी - जैसे कि कार्यालयीन प्रयोग के दस्तावेज़ों को स्वचालित मशीनी अनुवाद के लिए तो इन्हें 100% शुद्धता हेतु ट्रेन किया जा सकता है. इसके लिए बस आपको इसकी एचटीएमएल फ़ाइल को किसी यूनिकोड टैक्स्ट एडीटर में खोलना होगा और गुजराती-हिंदी के शब्द युग्म शामिल करने होंगे.नीचे एक पाठ के गुजराती अनुवाद का स्क्रीनशॉट दिया गया है -गुजराती से हिन्दी अनुवादक यहाँ से डाउनलोड करें -https://sites.google.com/site/raviratlami/Home/Gujarati%20%20to%20Hindi%20Translator_11.html?attredirects=0&d=1इसी तरह अनुनाद सिंह ने ही हिंदी से छत्तीसगढ़ी अनुवादक भी बनाया है. यह भी ठीक ऊपर दिए गए गुजराती से हिन्दी अनुवाद की तरह ही है, मगर चूंकि यहाँ लिपि दोनों में देवनागरी ही है, अतः वह खंड हटा दिया गया है. बाकी सभी कुछ वैसा ही है. इसका एक स्क्रीनशॉट निम्न है -हिन्दी से छत्तीसगढ़ी अ…

तब तो मैं ग़रीब ही भला!

चित्र
लगता है कि अब इस देश के बाशिंदों को ग़रीब बने रहने में ही भलाई है. जिधर देखो उधर ग़रीबों के लिए योजनाएँ. फलां योजना ग़रीबों के लिए ढिकां योजना ग़रीबों के लिए. सरकारी तो सरकारी, गैर सरकारी और एनजीओ सभी ग़रीबों के पीछे अपनी योजनाएं लेकर पिले पड़े रहते हैं. आप कोई योजना अमीरों के लिए, यदि कोई हो तो बता दो. अब ये बात जुदा है कि ग़रीबों की योजनाओं से भला अंततः अमीरों का ही होता है. मगर, फिर योजना भी तो कोई चीज होती है या नहीं. कोई भी योजना उठाकर देख लो. सरकार ग़रीबों को ग़रीब ही बने रहने देना चाहती है. ऊपर से ग़रीबों के लिए चुनावी साल तो बहुत ही बेकार साल होता है. वो ग़रीबों को और ज्यादा ग़रीब बनाने की फिराक में रहती है. अब चाहे शादी के समय मुफ़्त में सोना यानी मंगल-सूत्र बांटने की योजना हो या लैपटॉप की. अंदर के तो कयास ये भी हैं कि बाजार में सोने के लुढ़कने के पीछे ग़रीबों को मंगलसूत्र बांटा जाना भी है! अभी हाल ही की खबर लें. मप्र में चुनावी वर्ष में एक योजना लाई गई है कि ग़रीबों को 1 रुपए किलो गेहूं और 2 रुपए किलो चावल दिया जाएगा. अरे भई, ये टोकन एमाउंट, 1-2 रुपए भी क्यों ले रहे हो? हम…

प्रकृति, तेरे रंग, रूप हजार...

चित्र
अतिसुंदर. क्यों न जरा पास से देखें -

मेरे देश का मंत्री सिर अपना फोड़े.. फोड़े..

चित्र
जिस देश का मंत्री अपना सिर फोड़ रहा हो, उस देश की जनता का क्या हो!

लेटेस्ट फंडा - लो देखो, इलेक्ट्रानिक टेरेरिज्म के पीछे कौन है?

चित्र

आखिरकार, सरकार ने ग़रीबों के फल-अंडे खाने पर प्रतिबंध लगा ही दिया!

चित्र
--व्यंज़ल--तेरी किस्मत में हवा है धूल है ग़रीबफिर तू फल अंडे क्यों खाता है ग़रीबरेमंड का सूट और नाइकी के जूते पहनतू तो और भी ज्यादा लगता है ग़रीबअब बस हैं अफ़सर नेता और ठेकेदारये देश किसी सूरत तेरा नहीं है ग़रीबसियासी खेल में तुझे पता नहीं चलेगाकौन है अमीर और कौन तो है ग़रीबनिजी जेट में तू भले चलता हो रविमगर मुहब्बत में तू बेहद है ग़रीब

आपके मोबाइल फ़ोन / स्मार्टफ़ोन / स्मार्टमोबाइल / टैबलेट का धर्म क्या है?

चित्र
मैं अपने नए स्मार्टमोबाइल में श्रेष्ठ मूल्यांकित (टॉप रेटेड ऐप्प) ऐप्प पर एक नजर डाल रहा था कि इसमें कौन से, काम के ऐप्प डाले जाने चाहिएं.तो मैंने जैसे ही खोजबीन प्रारंभ किया, मुझे ऊपर दिखाए गए चित्र के अनुसार ऐप्प दिखे. टॉप रेटेड. यानी श्रेष्ठ मूल्यांकित श्रेणी में.हनुमान चालीसा, बाइबिल ऑन द गो, इस्लामिक हब.अर्थ यह कि हमारे स्मार्टफ़ोन हमसे भी ज्यादा धार्मिक हो रहे हैं. उनमें धार्मिक ऐप्प इंस्टाल होना पहली शर्त है! टॉप रेटेड ऐप्प तो यही कहानी कह रहे हैं, और आप झूठ नहीं बोल सकते.तो, कृपया बताएँ कि आपके मोबाइल फ़ोन का धर्म क्या है?

तो, कृपया बताएँ कि पिछले साठ सालों से समूचे देश पर अब तक और क्या करते आ रहे हैं, माननीय!

चित्र

जो मेरा ब्लाग नहीं पढ़ेगा उसे शाप लगेगा!

चित्र

इंस्टालेशन आर्ट का एक शानदार नमूना

चित्र

फ़ेसबुक में चिपके रहने का एक और ठोस बहाना!

चित्र

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें