टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

अंबानीज़, वाड्राज़ भोजन कहाँ उपलब्ध है?

Image025

यहाँ जनता भोजन उपलब्ध है - वह भी आदेशानुसार. भोजन फ़ॉर मैंगो पीपुल?

जरा और दरयाफ़्त किया तो पता चला कि सिर्फ देखने-दिखाने के लिए छाप कर चिपकाया गया है. यानी भोजन नदारद! जनता भोजन आप सिर्फ देख सकते हैं, खा नहीं सकते.

तो अब सवाल ये है कि अंबानीज़, वाड्राज़ भोजन कहाँ मिलता होगा?

खा तो ख़ैर, मैं इसे भी नहीं सकता, मगर देख तो सकता हूँ. यदि कोई बताए (चित्रादि के लिंक भी चलेंगे!) कि कहां मिलता है तो दर्शन लाभ लेने की कोशिश करूंगा!

एक टिप्पणी भेजें

मिले तो हमें भी बताइयेगा।

dekhni ta' khaini..........


pranam.

पुरानी दि‍ल्‍ली रेल्‍वे स्‍टेशन के बाहर, मैंने पि‍छले हफ़्ते पाया कि‍ दि‍ल्‍ली सरकार 15 रूपये थाली सुलभ करवा रही है. अच्‍छा लगा देख कर कि‍ वास्‍तव में ही भोजन मि‍ल रहा था...

रतलाम स्‍टेशन पर तो मिल रहा है।

मैने तो कल अंधेरी के गुरुद्वारे के लंगरमे देखा था अंबानी को खाना खाते हुए.. :)

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget