टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

लीजिए पेश है हिंदी स्पेल चेक सहित एक शानदार, संपूर्ण हिंदी ऑफिस सूट - बिलकुल मुफ़्त!

यूँ तो ओपनऑफ़िस के नवीनतम संस्करण इंस्टाल कर आप सेटिंग में जाकर हिंदी स्पेल चेक एक्सटेंशन जोड़कर उसमें भी हिंदी वर्तनी जांच की सुविधा जोड़ सकते हैं, मगर उसका वर्तनी जांच का शब्द संग्रह 85 हजार शब्दों का ही है और बहुत सारा उसमें गलत शब्द भी संग्रहित है. ऊपर से शब्दों का सुझाव देते समय उसमें डब्बे नजर आते हैं और समस्या बनी रहती है.

इस समस्या का समाधान उपलब्ध है. आपको  लिब्रे ऑफ़िस पोर्टेबल एडीशन का नवीनतम संस्करण डाउनलोड कर इंस्टाल करना होगा. परंतु इसमें भी हिंदी वर्तनी हेतु महज 15 हजार शब्द ही हैं. तो इसे हम वृहद, पौने दो लाख शब्दों के शब्द संग्रह से बदल कर बढ़िया हिंदी वर्तनी जांच युक्त ऑफ़िस सूट में बदल लेंगे. यह महज 2 आसान चरणों में संभव है.

1

लिब्रे ऑफिस पोर्टेबल एडीशन डाउनलोड कर किसी फ़ोल्डर में इंस्टाल करें. पोर्टेबल एडीशन की खासियत यह है कि आप इसे पेन ड्राइव में कॉपी कर या किसी भी अन्य डिरेक्ट्री या फ़ोल्डर में कॉपी कर कहीं पर भी चला सकते हैं. बार बार इंस्टाल करने की जरूरत नहीं.

पोर्टेबल एडीशन यहाँ से डाउनलोड करें. लिब्रे ऑफ़िस आप विंडोज, मैक या लिनक्स किसी के लिए भी डाउनलोड कर सकते हैं. परंतु नीचे कड़ी विंडोज के लिए दी जा रही है -

http://www.libreoffice.org/download/?type=win-x86&lang=hi&version=3.6.1

यहाँ पर आपको इंस्टाल योग्य लिब्रे ऑफिस तथा पोर्टेबल एडीशन दोनों को डाउनलोड करने के विकल्प मिलेंगे. आप चाहें तो इंस्टाल वर्जन भी डाउनलोड कर सकते हैं.

पोर्टेबल एडीशन का डायरेक्ट डाउनलोड लिंक है -

http://download.documentfoundation.org/libreoffice/portable/3.6.1/LibreOfficePortable_3.6.1.1_MultilingualAll.paf.exe 

डाउनलोड के बाद इस फ़ाइल को चला कर किसी फ़ोल्डर में इंस्टाल करें. इंस्टालेशन सेटिंग डिफ़ॉल्ट (मल्टीलिंग्वल ही) रहने दें, और कोई परिवर्तन न करें.

अब आपको इसका  हिंदी वर्तनी जांच का शब्द संग्रह जो कि 15 हजार शब्दों वाला है उसे बदल कर पौने दो लाख शब्दों वाले शब्द संग्रह से बदलना है. इसके लिए नीचे दिए गए चरण अनुसार करें -

2

फ़ाइल hi_IN.dic इस कड़ी से डाउनलोड करें -

http://goo.gl/IMspZ

ऊपर की लिंक काम न करे तो नीचे दी गई कड़ी पर जाएं और वहाँ से hi_IN.dic फ़ाइल डाउनलोड करें-

https://skydrive.live.com/#cid=60EACE63E15A752A&id=60EACE63E15A752A%21113 

अब इस फ़ाइल को लिब्रे ऑफ़िस की फ़ाइल से बदलना है.

लिब्रे ऑफिस के पोर्टेबल एडीशन में यह फ़ाइल आपके चुने गए फ़ोल्डर में कुछ इस प्रकार होगा -

\LibreOfficePortable\App\libreoffice\share\extensions\dict-hi

फ़ोल्डर dict-hi के भीतर hi_IN.dic फ़ाइल है. इसे हटा दें और ऊपर लिंक से डाउनलोड किए इसी नाम की फ़ाइल वहाँ कॉपी कर दें.

अब आप लिब्रे ऑफिस का कोई भी एप्लिकेशन चलाएं - जैसे कि लिब्रे ऑफ़िस राइटर. और वहां हिंदी में ऑन - द - फ्लाई वर्तनी जांच का भरपूर लाभ लें.

यदि किसी शब्द की वर्तनी गलत दिखती है (लाल रंग से रेखांकित होती है) तो आप उस शब्द पर दायाँ क्लिक कर सही वर्तनी का विकल्प देख सकते हैं, और चुन सकते हैं या फिर अपने शब्द संग्रह में जोड़ सकते हैं.

आप इस लिब्रे ऑफ़िस का यूआई हिंदी में भी कर सकते हैं - सेटिंग में जाकर डिफ़ॉल्ट अंग्रेजी को हिंदी में बदल लें - जैसा कि इस स्क्रीन शॉट में दिखाया गया है -

और इस तरह यह आपके लिए एक संपूर्ण ऑफ़िस सूट है - खालिस हिंदी में. और हाँ. इसमें हिंदी / अंग्रेज़ी द्विभाषी स्पेल चेक की एक साथ सुविधा भी मिलती है.

लिब्रे ऑफ़िस आम उपयोग के लिए निःशुल्क जारी किया जाता है. इसका हिंदी स्पेल चेक शब्द संग्रह भी निःशुल्क उपयोग के लिए जारी किया गया है. शब्द संग्रह में योगदान कर्ताओं के नाम यहाँ देखें.

libre-office-hindi-with-hindi-spell-check

 

पौने दो लाख शब्दों को बढ़ाने व उन्हें शुद्ध करने के प्रयास जारी हैं ताकि आपको एक परिपूर्ण हिंदी वर्तनी जांच की सुविधा मिले. शब्द संग्रह का परिपूर्ण, अधिक शुद्ध, संशोधित नया संस्करण शीघ्र ही जारी किया जाएगा. इसके लिए इन पृष्ठों को देखते रहें.

एक टिप्पणी भेजें

बहुत शानदार जुगाड़ है जी...। लेकिन हमें कुछ टेक्निकल ज्यादा लग रहा है।

बिलकुल भी टेक्निकल नहीं है जी.
बस पोर्टेबल एडीशन डाउनलोड कर इंस्टाल करें और चला कर देखें फिर बताएं. कोई समस्या हो तो निसंकोच पूछें

.dic फाइल तो मैक में खुलती है।

मै विंडोज ऑफिस में वर्ड फाईल खोलकर गूगल ट्रांस्लिरेट्र की मदद से हिन्दी (रोमन) टाईप करता हूँ. क्या लिबरे आफिस में भी रोमन हिन्दी टाइपिंग हो सकती है?

देर से देखने के लिए माफ करें...शानदार काम।

बहुत उपयोगी जानकारी एवं कार्य। धन्यवाद रवि जी।

हमेशा की तरह आपको सैल्यूट्स...... एमएस ऑफिस में हिन्दी जांच कैसे सुधारी जा सकती है,,,य़

एमएस ऑफिस में हिंदी जांच की सुविधा उपलब्ध है. 2003 व 2007 में इसका हिंदी संस्करण उपलब्ध है तथा 2010 में अलग से हिंदी स्पेल चेक एड ऑन के रुप में उपलब्ध है. इसी ब्लॉग के अन्य पन्नों में इस बारे में जानकारी उपलब्ध है. कुछ खोजबीन करें तो पूरी जानकारी मिलेगी.

इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है. -

प्रणाम
मैंने आप द्वारा दिए गए निर्देशनुसार लिब्रे का संस्थापन कर लिया है व वर्तणी फ़ाइल भी बदली है।
मैं Azhagi के माध्यम से हिंदी में लिखता हूँ किन्तु जानबूझ कर गलत लिखे शब्द भी इंगित नहीं होते हैं क्या कारण हो सकता है।
धन्यवाद
आशीष

प्रणाम
मैंने आप द्वारा दिए गए निर्देशनुसार लिब्रे का संस्थापन कर लिया है व वर्तणी फ़ाइल भी बदली है।
मैं Azhagi के माध्यम से हिंदी में लिखता हूँ किन्तु जानबूझ कर गलत लिखे शब्द भी इंगित नहीं होते हैं क्या कारण हो सकता है।
धन्यवाद
आशीष

मुझे समाधान मिल गया।
धन्यवाद
आशीष

मुझे समाधान मिल गया।
धन्यवाद
आशीष

लिब्रे ऑफिस और ईपंडितआईएमई की मदद से मैंने इंस्क्रिप्ट कुंजीपट अपना लिया है। कृतिदेव कुंजीपट छोड़ दिया है। गति भी लगभग 25 शब्द प्रतिमिनट हो गया है। इसके लिए आपको और श्रीश जी को बहुत-बहुत धन्यवाद। पर एमएस ऑफिस में भी हिन्दी वर्तनी जाँच हो सकती है, पर कैसे? यदि यह कृपा कर दें तो आपका बड़ा आभार होगा।

यह स्पेल चेकर डिक्शनरी केवल शब्द-संग्रह पर आधारित लगती है। अंग्रेजी स्पेल चेकर की तरह उपसर्ग~मूलशब्द~प्रत्यय Tree के तर्क अनुसार compact नहीं है। इस तर्क के आधार पर अंग्रेजी के स्पेलचेकर और hyphenation dictionary दोनों एक ही डैटा का उपयोग कर पाती हैं और बहुत तीव्र चलती हैं। मूल शब्द यदि 2000 हैं तो prefix और Suffix लगकर लाखों शब्द बन जाते हैं। फिलहाल चूँकि देवनागरी प्रोसेसिंग syllablic आधार पर होती है, अतः इस तर्क के साथ प्रोग्रामिंग करना कठिन है। यदि संस्कृत के आधार पर इन सूत्रों का उपयोग किया जाए तो संधि नियमों के कारण यह नियम कार्य नहीं कर पाएँगे। अतः केवल उन्हीं शब्दों में उक्त तर्क लगाया जा सकता है, जहाँ संधि से कोई वर्ण बदले नहीं।

हम भी आ गये लिब्रे ऑफिस के कारवां में। बेहतरीन। अदभुत। काफी तेज़ रफ्तार। मजे मजे के लिए स्‍पेल-चेकर भी लगा लिया। धन्‍यवाद।

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget