गुरुवार, 7 जून 2012

ग़रीबी की रेखा बनाम अमीरी की रेखा

35 लाख का टॉयलेट - भारतीय योजना आयोग - अमीरी की रेखा

भारतीय योजना आयोग के मुताबिक अमीरी की न्यूनतम रेखा - 35 लाख का शौचालय!

अच्छा, बताइए, इतने महंगे शौचालय में यदि कभी आपको मजबूरन जाना पड़ा तो क्या आपकी निकलेगी या ऊपर की ऊपर ही अटक जाएगी?

6 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें:

  1. आपका व हमारा पैसा है इनको चिन्‍ता किस बात की हे गरीब आदमी ऐसे ही पिसता रहेगा मंहगाई की चक्‍की मे ।

    युनिक तकनीकी ब्‍लाग

    उत्तर देंहटाएं
  2. ...३५ लाख के शौचालय .............शायद हीरे लगे होंगे शौचालयों में..........

    उत्तर देंहटाएं
  3. दुर्भाग्य, कहीं पे छींटे और कहीं बौछारें……

    सुज्ञ: एक चिट्ठा-चर्चा ऐसी भी… :) में आपकी इस पोस्ट का उल्लेख है।

    उत्तर देंहटाएं
  4. करोड़ों का हज़म किया हुआ क्या सामान्य से शौचालय में हगा जाता? शर्म नहीं आती करते हुए.... ३५ लाख तो उस हिसाब से बहुत कम खर्चा है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. 'बर्बाद गुलिस्ता करने को
    बस एक ही उल्लू काफी था
    हर शाख पे उल्लू बैठा है
    अंजामे-गुलिस्ता क्या होगा.'

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---