व्यंग्य | विविध | तकनीकी | हिन्दी | छींटे और बौछारें | आसपास की कहानियाँ


इस ब्लॉग में खोजकर पढ़ें :

Custom Search

शुक्रवार, 30 मार्च 2012

क्या आप सट्टे का कोई श्योर शॉट नंबर लगाकर नावाँ कमाना चाहते हैं? शीघ्र संपर्क करें!

image

कल सुबह सुबह मेरे मोबाइल पर एक फ़ोन कॉल आया.

वैसे तो मैं अपने मोबाइल फ़ोन के नंबर के प्रति बेहद सचेत रहता हूँ, और इस कोशिश में रहता हूँ कि ऐन-केन-प्रकारेण मेरा नंबर किसी को मिले नहीं. क्योंकि आज के जमाने में मोबाइल तो उस जिन्न की तरह है जो जब तब, बिना आगा पीछा सोचे प्रकट हो जाता है और बजने लगता है और कहता है - मेरे आका! बात करो. और कभी कभी तो 500 - 1000 की गेदरिंग में जहाँ पिनड्रॉप सन्नाटा होता है, किसी न किसी का मोबाइल बज ही जाता है. भले ही इसके लिए पहले से ताकीद की हुई हो कि भइए, मोबाइल बंद कर लो या साइलेंट में कर लो. पर शायद लोगों को या तो मोबाइल बंद करना नहीं आता या साइलेंट मोड में डालना नहीं आता.

बहरहाल, मैं बता रहा था कि मेरे मोबाइल पर एक कॉल आया था.

उस बंदे ने पहले पुष्टि की कि मेरा नाम रवि है. इसका अर्थ यह हुआ कि वह कोई रेंडम नंबर डायल नहीं कर रहा था. उसे किसी विश्वस्त सूत्र से यह नंबर मिला होगा.

मेरे हाँ कहने पर  अपना नाम बताया और बोला - "यदि आप आज शाम खुलने वाले सट्टे पर नंबर लगाकर रुपया कमाना चाहते हैं तो मैं वह श्योर शॉट नंबर आपको बता सकता हूँ."

मेरा माथा ठनका. यह तो पूरा का पूरा मोबाइल फ़िशिंग का मामला था.

मैंने जवाब दिया - "भाई साहब, आप खुद क्यों नहीं कमा लेते?"

"हम भी कमाते हैं, पर हम रोज सिर्फ पांच लोगों को यह नंबर बताते हैं. आज आप पांच भाग्यशाली लोगों में से एक हैं."

"तो जनाब पहले अपने खानदान को भाग्यशाली क्यों नहीं बनाते? अपने बीवी बच्चों को यह नंबर पहले बताओ, उनको जिताओ."

"अरे साहब आप समझ नहीं रहे हैं. ऐसी अपार्चुनिटी आपको कभी कहीं नहीं मिलेगी."

"बकवास बंद करो और आइंदा इस नंबर पर फ़ोन मत करना. और पहले खुद का और अपने खानदान का सट्टा निकलवा लो फिर दूसरों की चिंता करना."

यह कह कर मैंने फ़ोन काट दिया.

मुझे नहीं पता कि वो बंदा सही था या नहीं. अगर वो सही रहा होगा तो मेरा तो अच्छा खासा नुकसान हो गया. मैं अमीर बनते बनते रह गया. मगर यदि आपको सट्टे का  श्योरशॉट खुलने वाला नंबर चाहिए तो आप उस बंदे को फ़ोन लगा सकते हैं. उसका फ़ोन नंबर मेरे मोबाइल में सुरक्षित है.

 

आपको चाहिए वह नंबर?

-

(चित्र - गूगल से साभार)

6 टिप्‍पणियां:

  1. ऐसे धोकेबाजो से बचकर रहना चाहिए.

    उत्तर देंहटाएं
  2. नंबर भी बता ही दीजिये बहुत से लोग रिस्क लेने तैयार मिलेंगे

    उत्तर देंहटाएं
  3. सट्टे का नम्बर सदा ही गोल रहा है हमारा।

    उत्तर देंहटाएं
  4. ऐसा प्रायः होता रहता है। आधुनिक एम.बी.ए. मस्तिष्क इसी अनुसंधान में लगे रहते हैं कि लोगों को कैसे उल्लू बनाया जाये।

    उत्तर देंहटाएं
  5. घर आई लक्ष्‍मी लौटा दी आपने। आप लक्ष्‍मी शंकर बनते-बनते रह गए।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण बेनामी टिप्पणियाँ बंद की गई हैं ( टिप्पणी दर्ज करने के लिए आपको पंजीकृत उपयोगकर्ता होना आवश्यक है) तथा टिप्पणियों का मॉडरेशन भी न चाहते हुए लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट व प्रदर्शित होने में कुछ समय लग सकता है.

कुछ अच्छे चुनिंदा हिंदी ब्लॉग पढ़ने के लिए यहाँ जाएँ

Recent Posts