गुरुवार, 20 अक्तूबर 2011

आज तो साला अपुन का दिमाग पूरा फ़ेसबुक हो गियेला है !@#$%^&*(

image

--

व्यंज़ल

--

अपुन का दिमाग तो जॉनी

पूरा फ़ेसबुक हो गया है

 

कल तक तो वो दोस्त था

आज फ़ेसबुक हो गया है

 

मैं ठहरा अज्ञानी न जानूं

कौन फ़ेसबुक हो गया है

 

कहने वाले तो कहते हैं

गूगल+ फ़ेसबुक हो गया है

 

सियाह रात की छोड़ो

दिन भी फ़ेसबुक हो गया है

 

रवि इतराता फिरता है

क्या फ़ेसबुक हो गया है

--

12 blogger-facebook:

  1. अच्छा नहीं लगा…संतुष्ट नहीं हुआ…

    उत्तर देंहटाएं
  2. अब तो सबका फेस बुक जैसा हो गया है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. पहले कहते थे आदमी न हुआ घनचक्कर हो गया और अब कहते हैं फ़ेसबुक हो गया :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. :) लाइक किधर मारने का है ?

    उत्तर देंहटाएं
  5. फ़ेसबुकयाये गये है सब.

    उत्तर देंहटाएं
  6. हालत जो देखी मेरी तो बोले वो,
    नार्मल नहीं रहा, पगला गया है।
    पोस्‍ट आपकी पढी तो बोले,
    नहीं, नहीं, यह तो
    फेसबुक हो गया है।

    उत्तर देंहटाएं
  7. जनाब facebook का खूब किया बखान..इससे भी ज्यादा खतरनाक बात है..जिनके Face पर look नहीं है..उनका face, Facebook पर सबसे अधिक Book हो रहा है|

    उत्तर देंहटाएं
  8. दिमाग तो दिमाग था ही कब? कल तक बिलाग था, आज भया फेसबुक! :-)

    उत्तर देंहटाएं
  9. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं |

    उत्तर देंहटाएं
  10. दीपावली के पावन पर्व पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएँ |

    way4host
    rajputs-parinay

    उत्तर देंहटाएं
  11. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं |

    नया हिन्दी ब्लोग

    http://hindiduniyablog.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------