सावधान! कहीं आपकी सरकार ने आपके कंप्यूटर को 'आधिकारिक तौर पर' वायरस से संक्रमित तो नहीं कर दिया है?

image

इट्ज़ ऑफ़ीशियल नाऊ! जर्मनी की सरकारी एजेंसियों ने आधिकारिक तौर पर पुष्टि की है कि उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलेंस के नाम पर व्यावसायिक रूप से बिक्रय के लिए उपलब्ध ट्रोजन (कीलॉगर) वायरस को खरीदा और उसे अपने तथाकथित सरकारी काम-काज के लिए अपनाया! मजेदार बात ये है कि यह जर्मनी के कानून के खिलाफ है!

भारत में क्या स्थिति है? यह तो सिर्फ समय का सवाल है. इट इज जस्ट ए मैटर ऑफ टाइम. (और अगर आपको यहाँ मेरी लेखनी में अंग्रेज़ी ज्यादा पढ़ने को मिले तो मुझे दोष न दें, बल्कि हिंदी लिखने की नई सरकारी नियमावली सॉरी.. रूल्ज़-एंड-रेगुलेशन एंड गाइडलाइन को देखें.) किसी दिन सुबह सुबह हमें भी यह पता चलेगा कि हमारी कुछ सरकारी एजेंसियों ने भी ऐसी ही करामातें दिखा दी हैं!

और, रहा सवाल एंटीवायरसों का, तो अब जब आपकी सरकार ही आपको वायरस परोस रही है तो कैसा भी एंटीवायरस हो वह भी क्या खाक कर लेगा!

इसलिए, अपनी दाँतों में उंगली दबाए रखिए!

एक टिप्पणी भेजें

जब भी हो आप ही खुलासा करियेगा।

अभी तो चिंता की कोई बात नहीं है। हमारी सरकारे चुनावी माहौल में ऐसे कदम नहीं उठायेगी। हां..खबर तो खतरनाक है।

भारत की सरकार के बारे में क्या सूचना है?

बढ़िया है। हिन्दी के ऊपर यह सब बाकी था, कम से कम सरकारी आदेशों में…

http://rajbhasha.nic.in/IIContent.aspx?t=enpolicyorders इस लिंक पर वह हिन्दी वाला आदेश मिल जाएगा।

पीडीएफ़ कड़ी- http://rajbhasha.nic.in/policy26sep11.pdf

हैक कर नजर रखने का सबसे आसान तरीका ।

कुछ भी हो सकता है... लूटतंत्र में सरकार कोई भी हथकंडा अपना सकती है

हिन्‍दी गालियों की परिभाषा

are kalyug hai shaitaani dimag se saavdhan

अपनी सरकार के कामकाज के तरीकों की मुझे पूरी जानकारी है। जब भी यह गोपनीय हरकत करेगी, उसकी सूचना सबको मिल जाएगी। आपको तो सबसे पहले मिलेगी ही।

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

[blogger][facebook]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget