टेढ़ी दुनिया पर रवि रतलामी की तिर्यक, तकनीकी रेखाएँ...

हिन्दी दिवस विशेष : गूगल में रीयल टाइम हिन्दी में सर्च कैसे करें?

हिन्दी में सर्च करने की बढ़िया सुविधा गूगल में है. परंतु आम प्रयोग के दौरान सर्च विकल्प में पिछले चौबीस घंटों या किसी मामले में पिछले बारह घंटों का सर्च विकल्प ही मौजूद रहता है. सवाल ये है कि ट्विटर की तरह गूगल में भी हिन्दी में रीयल टाइम सर्च कैसे करें.


रीयल टाइम सर्च माने कि पिछले पाँच मिनट के दौरान (या पिछले चालीस सेकण्ड के दौरान,) प्रकाशित हुए हिन्दी पन्नों में किसी खास शब्द से ढूंढना.

एक छोटा सा गूगल हैक है. आप भी आजमाएँ. कुछ मजेदार परिणामों (या शून्य परिणाम,) के लिए तैयार रहें.
नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट के अनुसार ब्राउजर के एड्रेस बार में गूगल सर्च स्ट्रिंग भरें. जिस हिन्दी शब्द को खोजना है, उसे ‘है’ के बदले प्रतिस्थापित करें. यहाँ पर qdr:n5 का प्रयोग पिछले पाँच मिनट के दौरान प्रकाशित हिन्दी के नए पन्नों में ‘है’ शब्द को ढूंढने के लिए किया गया है. यदि आप पिछले 25 या 47 मिनट के दौरान खोजबीन करना चाहते हैं तो उसे 5 के बदले 25 या 47 कर दें.


कुछ ब्राउज़रों में सर्च स्ट्रिंग भरने के बाद एंटर करने पर यह कमांड कुछ यूँ दिख सकता है:
http://www.google.com/search?q=%E0%A4%B9%E0%A5%88&hl=hi&output=search&tbs=qdr:n5&tbo=1
(ऊपर दिए गए लिंक को आप क्लिक कर यह गूगल सर्च खोल सकते हैं)
परिणाम कुछ यूं नमूदार होगा –

 (चित्र बड़े आकार में देखने के लिए उस पर क्लिक करें)
यदि आप सेकण्डों के भीतर रीयल टाइम ढूंढना चाहते हैं तो जरा सा परिवर्तन नीचे दिए स्क्रीनशॉट के अनुसार करें.

http://www.google.com/search?q=%E0%A4%B9%E0%A5%88&hl=hi&output=search&tbs=qdr:s59&tbo=1
(ऊपर दिए गए लिंक को क्लिक कर आप यह गूगल सर्च खोल सकते हैं)
यहाँ पर पिछले 59 सेकण्ड में वेब पर प्रकाशित हुए हिन्दी पन्नों में ‘है’ शब्द का खोज का परिणाम दिखाएगा. यहां पर आप देखेंगे कि qdr:n को qdr:s कर दिया गया है. n मिनट के लिए है, s सेकण्ड के लिए है.
ऊपर दिए गए सर्च का परिणाम कुछ यह रहा –

 (चित्र बड़े आकार में देखने के लिए उस पर क्लिक करें)
मजेदार बात ये है कि गूगल हर बार ये बताता है कि यह सुविधा अनुपलब्ध है. फिर भी वो सर्च परिणाम दिखाता है!
हैप्पी सर्चिंग!
 

एक टिप्पणी भेजें

रियल टाइम पोस्ट आई है जी.

जानकारी के लिए धन्‍यवाद .. लिंक को खोला है .. समझने की कोशिश कर रही हूं .. अपना देश है ही विचित्र, सबसे अजूबा, विरोधाभासों और विसंगतियों से परिपूर्ण

ये तो मस्त जानकारी रही !

इसे भी देखते हैं…

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

अन्य रचनाएँ

[random][simplepost]

व्यंग्य

[व्यंग्य][random][column1]

विविध

[विविध][random][column1]

हिन्दी

[हिन्दी][random][column1]
[blogger][facebook]

तकनीकी

[तकनीकी][random][column1]

आपकी रूचि की और रचनाएँ -

[random][column1]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget