संदेश

February, 2009 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

फ़ाइव सेकण्ड्स ऑफ़ फ़ेम रील्लोडेड...

चित्र
देबाशीष ने खबर दी कि द वाल स्ट्रीट जर्नल अखबार समूह के प्रकाशन - लाइव मिंट डॉट काम में मंदी के दौर में ब्लॉगिंग शीर्षक आलेख में दिए वीडियो में मेरे इस चिट्ठे का भी जिक्र है.

वर्ड प्रेस के संस्थापक - मैट मुलेनवेग और गीगा ओम के ओम मलिक के संक्षिप्त साक्षात्कारों के बीच 'रवि रतलामी का हिन्दी ब्लॉग' की एक झलकी - भले ही वो पांच पलों के लिए क्यों न हो, आह्लादित तो करती ही है.

आलेख व वीडियो की कड़ी है -

http://www.livemint.com/2009/02/22235621/Slowdown-and-blogging.html?h=B

---
संबंधित प्रविष्टियाँ -
(१)फ़िफ़्टीन सेकण्ड्स ऑफ़ फ़ेम...
(२)फ़िफ़्टीन सेकण्ड्स ऑफ़ फ़ेम रीवाइन्डेड
(३)फ़िफ़्टीन सेकण्ड्स ऑफ़ फ़ेम रिटर्न्स

इंडीब्लॉगीज़ २००८ ब्लॉग पुरस्कारों की घोषणा : क्या आप कमर कस कर तैयार हैं?

चित्र
इंडीब्लॉगीज़ 2008 पुरस्कारों के लिए नामांकन की घोषणा हो चुकी है. आप १६ फरवरी से २८ फरवरी के दौरान अपने पसंदीदा ब्लॉग का नामांकन वहां कर सकते हैं. मैंने अपने इस ब्लॉग का नामांकन सभी श्रेणियों में करने के लिए कमर कस ली है. सभी श्रेणियों में? जी हाँ, सभी श्रेणियों में. आपको एक एक कर कारण गिनाता हूं. थोड़ा धैर्य रखिए -

The Indibloggies 2008 award categories

The upcoming 2008 event of the Indibloggies would award outstanding blogs in the following award-categories:

1. IndiBlog of the year
वर्ष का इंडीब्लॉग - यह तो ये है ही.

2. Best Humanities IndiBlog (IndiBlogs covering Art/Craft/Painting, Hobby, Literature, Poetry/Fiction)
मेरे ब्लॉग में घूम फिर आइए - कला-पेंटिंग हाबी, साहित्य, कविता, फिक्शन सबकुछ तो मिलता है यहाँ!

3. Best Entertainment Indiblog (blogs on Music, TV, Movies, theater & fashion)
हम्म... पर, यार, मेरा खुद का ब्लॉग जब एतना एंटरटेनिंग है, तो फिर म्यूजिक, टीवी, मूवीज में कोई क्या करने जाएगा भला!

4. Best Sports IndiBlog
हम्म... ठीक है, हम भी अपने सारे पोस्ट और टिप्पणियाँ स्पोर्टिंग …

लिनक्स के बाद अब विंडोज अनुप्रयोग भी छत्तीसगढ़ी भाषा में

चित्र
लिनक्स में छत्तीसगढ़ी भाषाई वातावरण की उपलब्धता का कार्य जहाँ अपने अंतिम दौर में जारी है, वहीं इस कार्य को विंडोज (एक्सपी, विस्ता, 7 में)  वातावरण में भी प्रस्तुत करने के लिए जांच-परख का दौर तेजी से चल रहा है. विंडोज एक्सपी में छत्तीसगढ़ी भाषा में चलते कुछ अनुप्रयोगों के स्क्रीन शॉट -डॉल्फिन – फाइल मैनेजर:(बड़े आकार में देखने के लिए चित्र पर क्लिक करें)अनुवादक परिचय:(बड़े आकार में देखने के लिए चित्र पर क्लिक करें)छत्तीसगढ़ी केडीई अनुप्रयोग – विंडोज पर(बड़े आकार में देखने के लिए चित्र पर क्लिक करें)---केडीई 4.2 क्या है? छत्तीगढ़ी में संक्षिप्त जानकारी:ए डेस्कटाप माहौल ल पूरा दुनिया के साफ्टवेयर इंजीनियर के केडीई टोली ह लिखे अउ मेंटेन करे हे. ये टोली ह फ्री साफ्टवेयर डेवलपमेंट बर पूरा प्रतिबद्ध हे.
केडीई के स्रोत कोड ल कोई एक समूह, कंपनी या आदमी कंट्रोल नइ करे. केडीई मं अपन सहयोग करे बर सब्बो झन ल निमंत्रन हे.
केडीई प्रोजेक्ट के बारे मं अउ अधिक जानकारी पाय के खातिर इहाँ -
http://www.kde.org जाव.साफ्टवेयर ल हमेसा अउ बढ़िया बनाय जा सकथे. केडीई टोली ह एखर बर तइयार हे. फेर, आप कम…

एक व्यक्ति, छ: महीने और साठ हजार रुपल्ली में क्या-क्या मिल सकता है?

चित्र
वैसे तो बहुत कुछ मिल सकता है, और काफी कुछ नहीं भी. मगर, इतने संसाधन में एक पूरा का पूरा ऑपरेटिंग सिस्टम, सैकड़ों अनुप्रयोगों के साथ एक छोटी सी भाषा-बोली में तैयार करने के ख्वाब को पूरा कर लिया जाए तो? अविश्वसनीय? असंभव?मगर यह संभव है. ओपनसोर्स की महिमा है यह. मैथिली (उबुन्टु मैथिली केडीई 4.2 पैकेज डाउनलोड) से शुरूआत हो चुकी है. छत्तीसगढ़ी का नंबर भी आ ही गया है – छत्तीसगढ़ी केडीई 4.2 एसेंशियल फ़ाइलों को चेक-इन किया जा चुका है, और यह भी शीघ्र ही सबके मुक्त व मुफ्त डाउनलोड व उपयोग हेतु जारी हो जाएगा. यह संभव हुआ है सराय द्वारा प्रायोजित मुक्त स्रोत परियोजनाओं के पोषण से. मैथिली और छत्तीसगढ़ी जैसे हिन्दी के डेरिवेटिव भाषाओं के कम्प्यूटर अनुप्रयोगों का अनुवाद हिन्दी अनुवाद के डाटाबेस को लेकर किया जा रहा है जिससे अनुवाद कार्य बहुत कुछ सरल हो गया है. छत्तीसगढ़ी केडीई 4.2 का कार्य लगभग 80प्रतिशत तक पूर्ण हो चुका है और महीने-दो-महीने के भीतर छत्तीसगढ़ी भाषाई वातावरण में लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का आनंद आप ले सकेंगे. और, खुशी की बात ये है कि छत्तीसगढ़ी भाषा में तमाम अनुप्रयोग विंडोज ऑपरेटिंग सिस…

जित देखूं तित चड्डियाँ...

चित्र
चड्डियों को इतनी महत्ता पहले कभी नहीं मिली होगी. आपके पैंट सूट साड़ी सलवार के नीचे यह अदना सा, मगर महत्वपूर्ण वस्त्र पहले कभी भी इतनी चर्चा में नहीं रहा था. अचानक हर तरफ चड्डियाँ ही चड्डियाँ दिखाई देने लगी हैं. लोग-बाग एक दूसरे की चड्डियों के रंग, रूप, आकार प्रकार और कीमत को लेकर वार-प्रहार और आरोप प्रत्यारोप कर रहे हैं. लोग एक दूसरे को देख कर कयास लगा रहे हैं कि सामने वाले ने कौन सी, किस रंग की, किस किस्म की चड्डी पहन रखी है. उसने गुलाबी चड्डी पहनी है कि काली या फिर खाकी. किसी ने थोड़ा सा मुंह खोला नहीं कि लोग उसकी सोच की चड्डी के चीथड़े करने भिड़ जा रहे हैं. लोग खुले में अपनी चड्डियाँ धो रहे हैं, और न सिर्फ धो रहे हैं, सामने वाले की चड्डियों के पैबंदों, उसमें लगे दागों की चर्चा भी पोंगा लेकर कर रहे हैं. बे-रौनक खाकी चड्डी वालों को चटकीले गुलाबी चड्डियाँ भेंट की जा रही हैं.

वैसे, एक आम भारतीय को आज के समय में उसकी चड्डी की औकात दिखाना जरूरी सा हो गया है. कभी कभी तो लगता है कि सूटेड-बूटेड वो आम भारतीय हो या भगवा-करिया रंग वस्त्र धारी वो इंडियन, जब धर्म और संस्कृति पर बोलता है तो लगता…

दिल उदास और मन उचाट है? इंटरनेट है ना!

चित्र
और, इस बार सचमुच, कोई छींटें और बौछारें नहीं, कोई व्यंज़ल की मार नहीं.

यदि आपका दिमाग सचमुच में शंट हो गया है और इंटरनेट के यू-ट्यूब, ओरकुट, ट्विटर और फेसबुस और न जाने क्या-क्या में भी आपका मन नहीं रम रहा है, तो ये चंद साइटें आपके लिए ही हैं.

शाउटकास्ट पर वैदिक चैनल के रूप में दर्ज इन साइटों पर जाकर कुछ हिन्दी और संस्कृत में (कहीं अंग्रेज़ी भी है) सुनने-सुनाने से आपको आत्मिक आनंद की प्राप्ति हो सकती है. इसमें कुछ चैनल हैं जिन्हें मैंने भी सुना (हाँ, हाँ!!, पर, परीक्षण के बतौर :)) -

वेद रेडियो :
http://yp.shoutcast.com/sbin/tunein-station.pls?id=789038

मंत्र पुष्पम :
http://yp.shoutcast.com/sbin/tunein-station.pls?id=596718

मंत्र पुष्पम का जाल स्थल:
http://www.wisdomspeak.org/mantra/

वेद वाणी :
http://yp.shoutcast.com/sbin/tunein-station.pls?id=438201

भगवद् गीता:
http://yp.shoutcast.com/sbin/tunein-station.pls?id=878112

प्रसन्न मार्ग :
http://yp.shoutcast.com/sbin/tunein-station.pls?id=802646

रेडियो मीरा बाई ऑनलाइन:
http://www.gita.ddns.com.br:8000/listen.pls

देर किस बात की? इससे पहले कि मंद…

हिन्दी ब्लॉगिंग की दशा और दिशा पर अमित गुप्ता के बिंदास खयाल

हिन्दी ब्लॉगिंग की दशा और दिशा पर अमित गुप्ता के बिंदास खयालपिछले दिनों अमित गुप्ता - दुनिया मेरी नजर से - से आश्चर्यजनक, अप्रत्याशित, सुखद मुलाकात हुई. अमित अपने बेबाक-बिंदास खयालों के लिए जाने जाते रहे हैं. अमित का मानना है कि मैंगलोर में राम-सेना के तांडव-नृत्य जैसे विषयों पर ब्लॉगरों ने कुंजियाँ कम खटखटाईँ, जबकि चेतन कुंटे – बरखा दत्त जैसे नॉन ईशू पर माउस ज्यादा चलाए गए. हिन्दी ब्लॉगिंग से संबंधित तमाम विषयों पर अमित के बेबाक बयान देखें नीचे दिए गए वीडियो पर. हिन्दी ब्लॉगिंग पर अमित गुप्ता का बेबाक बयान (भाग 1)हिन्दी ब्लॉगिंग पर अमित गुप्ता का बेबाक बयान (भाग 2)

गर्ल्स कांट पब साला

चित्र
भारत की स्त्रियाँ बहुत कुछ कर सकती हैं. पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर वो हवाई जहाज चला सकती हैं, देश की सुरक्षा के लिए सेना में भरती हो सकती हैं, वे माउन्ट एवरेस्ट पर फतह कर सकती हैं, मुख्य मंत्री और प्रधान मंत्री बन सकती हैं, पेप्सी जैसे अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड की मुख्य कार्यकारी अधिकारी बन सकती हैं. वे और भी ढेरों काम कर सकती हैं - यहाँ तक कि भारत की राष्ट्रपति भी बन सकती हैं.मगर, गर्ल्स कांट पब साला*. वे शर्तिया पब नहीं जा सकतीं. अगर वो पब गईं तो उनकी धोबी-पाट धुलाई तय है. हिन्दू तालिबानी भाई उन पर अपना अगाध प्रेम न्यौछावर कर देंगे. मुसलिम तालिबान की तर्ज पर हिन्दू तालिबान का आगाज हो गया है. आइए, गर्म-जोशी से इनका स्वागत करें. येदुरप्पा, गहलोत के सुर में सुर मिलाएँ और स्त्रियों पर सिर्फ पब क्या, चहुँओर प्रतिबंध लगाएँ. उनके घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगाएँ. उनकी शिक्षा-दीक्षा पर प्रतिबंध लगाएँ – आखिर, नामुराद लड़कियाँ पढ़ लिख कर ही तो आधुनिकता ओढ़तीं और पब-वब की ओर उन्मुख होती हैं!¡!---व्यंज़ल---गर्ल्स कांट पब सालादुनिया है अजब सालावोटों की राजनीति नेकिया बड़ा गजब सालाधुलाई के बाद…

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें