आसपास की कहानियाँ ||  छींटें और बौछारें ||  तकनीकी ||  विविध ||  व्यंग्य ||  हिन्दी || 2000+ तकनीकी और हास्य-व्यंग्य रचनाएँ -

केडीई 4 के लिए कुछ उपयोगी नुस्ख़े


(ये उपयोगी नुस्ख़े केडीई 4 के 'केटिप' अनुप्रयोग से सीधे ही निकाले गए हैं. यदि आप केडीई इस्तेमाल करते हैं (केडीई 4 - लिनक्स, विंडोज व मॅक ओएसX पर उपलब्ध है, और, हिन्दी में भी) तो ये आपके लिए खासे उपयोगी होंगे. यदि लिनक्स और केडीई इस्तेमाल नहीं भी करते हैं तो भी कोई बात नहीं, इन नुस्ख़ों को पढ़कर आप ये जानकारियाँ तो प्राप्त कर ही सकते हैं कि लिनक्स तंत्र में केडीई के जरिए कम्प्यूटिंग के कौन कौन से काम किए जा सकते हैं.)

· केडीई के बारे में यहाँ बहुत सारी जानकारियाँ हैं-जो कि केडीई की आधिकारिक वेब साइट है. यहाँ पर और भी उपयोगी साइटें हैं जिनमें प्रमुख अनुप्रयोगों जैसे कि- कॉन्करर के लिए, के-ऑफिस के लिए तथा के-डेवलप के लिए जानकारियाँ हैं

· केडीई कई भाषाओं (80 से अधिक) में अनूदित हो चुका है. आप देश तथा भाषा को तंत्र विन्यास से क्षेत्रीय तथा भाषा चुनकर बदल सकते हैं.

· केडीई अनुवादों तथा अनुवादकों के बारे में और अधिक जानकारी के लिए देखें - http://l10n.kde.org .

· प्रोग्राम क्लिपर जो कि डिफ़ॉल्ट रूप में स्वचालित प्रारंभ होता है तथा तंत्र तश्तरी में बना रहता है, चयनित पाठों को रखे रहता है. इन्हें पुनर्प्राप्त किया जा सकता है और (उदाहरण के लिए यदि यूआरएल हो तो) चलाया भी जा सकता है. क्लिपर के प्रयोग के बारे में और अधिक जानकारी के लिए देखें: क्लिपर हैण्डबुक

· किसी विंडो के शीर्षक पट्टी में दोहरा क्लिक करने पर उसे छायादार बनाता है, जिसका अर्थ है कि सिर्फ शीर्षक पट्टी ही दिखाई देगी. शीर्षक पट्टी पर दूसरी बार दोहरा क्लिक करने पर विंडो फिर से दिखाई देने लगेगा.
परंतु, निश्चित रूप से, आप इस व्यवहार को तंत्र विन्यास (सिस्टम सेटिंग्स) में जाकर बदल सकते हैं.

· केडीई में विंडो के मेनिपुलेशन के बारे में और अधिक जानकारी के लिए यहाँ पर देखें : केडीई उपयोक्ता गाइड.

· आप आभासी डेस्कटॉप में विंडो को साइकल कर सकते हैं. इसके लिए ऑल्ट कुंजी को दबाए रख कर टैब या शिफ़्ट+टैब कुंजी दबाएँ. अधिक जानकारी के लिए देखें केडीई उपयोक्ता गाइड.

· केडीई परियोजना की नींव 1996 में रखी गई तथा इसका पहला संस्करण1.0, जुलाई 12, सन् 1998 में जारी हुआ.

· आप केडीई परियोजना को सहयोग कर सकते हैं अपने कार्यों से (प्रोग्रामिंग, डिजाइनिंग, डॉक्यूमेंटिंग, प्रूफ़ रीडिंग, अनुवादों, इत्यादि के जरिए.) तथा आर्थिक या हार्डवेयर अंशदानों से. यदि आप अनुदान देने में दिलचस्पी रखते हैं तो kde-ev@kde.orgपर संपर्क करें या फिर kde-quality@kde.org पर संपर्क करें यदि आप किसी भिन्न तरीके से अपनी सेवा देना चाहते हैं.

· विंडो के आकार को बदलने के लिए केडीई में कुछ शॉर्टकट ये हैं:

विंडो को अधिकतम करने के लिए...

अधिकतम बटन को क्लिक करें...

...पूरा स्क्रीन के लिए,

...माउस के बाएँ बटन से

...सिर्फ खड़े में,

...माउस के मध्य बटन से

...सिर्फ आड़े में,

...माउस के दाएँ बटन से

· इसके वेब http://www.kde.org साइट पर नियमित जाकर केडीई के नए डेवलपमेंट तथा संस्करणों के बारे में आप अपनी जानकारी ताज़ातरीन बनाए रख सकते हैं.

· केडीई, बढ़िया डिजाइन किए सी++ फ़ाउण्डेशन पर आधारित है. सी++ एक प्रोग्रामिंग भाषा है जो डेस्कटॉप डेवलपमेंट के लिए बढ़िया काम करता है. केडीई ऑब्जैक्ट मॉडल सी++ की शक्ति को और आगे बढ़ाता है. विवरण के लिए, देखें http://techbase.kde.org/ .

  • आप टार अभिलेख में ब्राउज़ करने के लिए, कॉन्करर का इस्तेमाल कर सकते हैं. कॉन्करर के जरिए आप संपीडित फ़ाइलों में भी ब्राउज़ कर सकते हैं. आप फ़ाइलों को नई जगह यानी किसी दूसरी कॉन्करर विंडो या डेस्कटॉप पर खींचकर भी उन्हें एक्सट्रेक्ट कर सकते हैं.

· केडीई का मदद तंत्र न सिर्फ केडीई के स्वयं के एचटीएमएल आधारित मदद को प्रदर्शित करता है, बल्कि मेन (मेनुअल) पृष्ठों की जानकारियों को भी बताता है.

· मदद प्राप्त करने के और भी अन्य तरीकों के लिए देखें - केडीई उपयोक्ता गाइड.

· अगर किसी औज़ार पट्टी पर सारे बटन दिखाई नहीं पड़ रहे हैं तो पट्टी के दाहिने छोर पर बने तीर के निशान पर क्लिक करें.

· अगर आप समय काटना चाहते हैं तो केडीई में एक से एक मज़ेदार खेल भी हैं.

· यदि आप किसी प्रोग्राम का नाम जानते हैं तो आप उस प्रोग्राम को इस तरह से भी चला सकते हैं - ऑल्ट+एफ़2 दबाएँ तथा जो कमांड लाइन विंडो प्रकट होगा उसमें प्रोग्राम का नाम भरें.

· आप कोई भी यूआरएल में कहीं से भी ब्राउज़ कर सकते हैं इसके लिए ऑल्ट+एफ़2 दबाएँ तथा यूआरएल को दिए गए कमांड-लाइन विंडो में भरें.

  • यदि आप कॉन्करर इस्तेमाल कर रहे हैं तथा स्थान फ़ील्ड में अन्य स्थान को टाइप करना चाह रहे हैं ताकि आप वहां पर जा सकें तो आप उस पूरे फ़ील्ड को बड़ी शीघ्रता से साफ कर सकते हैं. इसके लिए सफ़ेद क्रॉस युक्त काले बटन का प्रयोग करें जो कि स्थान लेबल के बाईं ओर स्थिति है और फिर टाइपिंग प्रारंभ करें.

· स्थान फ़ील्ड को साफ करने के लिए तथा पाठ संकेतक को वहाँ पर रखने के लिए आप कंट्रोल+एल कुंजी दबा सकते हैं.

· यदि आप शीर्षक पट्टी को एक्सेस नहीं कर पा रहे हैं तब भी आप स्क्रीन को माउस के जरिए विंडो को खिसका सकते हैं. इसके लिए ऑल्ट कुंजी को दबाए रख कर विंडो में कहीं पर भी क्लिक करें तथा इसे माउस के जरिए खींचें . और हाँ, आप इस व्यवहार को भी तंत्र विन्यास में बदल सकते हैं.

· स्क्रीन पर विंडो को छोटा बड़ा करने के लिए ऑल्ट कुंजी दबाकर, विंडो में कहीं भी दायाँ क्लिक करें और माउस को खिसकाएँ.

· आपके ईमेल संदेशों को एनक्रिप्ट करने व भेजने के लिए केडीई का ईमेल क्लाएंट (केमेल) परिशुद्धता के साथ पीजीपी/ग्नूपीजी एकीकरण की सुविधा प्रदान करता है. एनक्रिप्शन की सेटिंग के लिए केमेल हैण्ड बुक देखें.

· सारे विश्व में केडीई डेवलपर मौजूद हैं, उदाहरण के लिए, जर्मनी में, स्वीडन, फ्रांस, कनाडा, यूएसए, ऑस्ट्रेलिया, नामीबिया, अर्जेंटीना, तथा यहाँ तक कि नॉर्वे में भी! केडीई डेवलपर और कहाँ मिल सकते हैं ये देखने के लिए जाएँ http://worldwide.kde.org पर.

· केडीई का सीडी प्लेयर, केएससीडी, इंटरनेट सीडी डाटाबेस फ्रीडीबी को एक्सेस करता है और आपको शीर्षक/ट्रैक के बारे में जानकारी देता है.

· केएससीडी के फ़ंक्शन के बारे में पूरी जानकारी केएससीडी हैण्डबुक में उपलब्ध है.

· प्रकटन मॉड्यूल में तंत्र विन्यास के भीतर ही, उदाहरण विंडो के शीर्षक पट्टी में क्लिक करके आप विंडो शीर्षक पट्टी के रंग को बदल सकते हैं.

· आप उदाहरण ग्राफ़िक्स के अन्य पहलू का प्रयोग केडीई के रूप रंग को अपने कम्प्यूटर पर मनोनुकूल बनाने के लिए कर सकते हैं.

· विंडो प्रबंधन शैलियों और पुरानी थीम शैलियों में यह फ़र्क़ है कि विंडो प्रबंधन शैली नियंत्रण केंद्र में ही विंडो शीर्षक पट्टी की रंग सेटिंग दिखाती है, इसीलिए उसे वहीं से लागू किया जा सकता है.

· यदि आप केडीई के अगले संस्करण के जारी करने की प्लानिंग के बारे में जानना चाहते हैं तो, रिलीज कार्यक्रम-सूची के लिए यहाँ देखें: http://techbase.kde.org . यदि आप वहां पर सिर्फ पुरानी तिथियों को देख पा रहे हैं तो इसका अर्थ है कि संभवतः कुछ सप्ताह/माह का सघन डेवलपमेंट कार्य बकाया है - अगले संस्करण के जारी होने के लिए.

  • विंडो सजावट के अंदर, शीर्षक पट्टियाँ स्वयं ही स्वचालित खिसकती हैं ताकि वे हमेशा दिखाई देती रहें. आप अपने विंडो के शीर्षक पट्टी सजावट को अपने शीर्षक पट्टी में दायाँ क्लिक कर तथा विंडो बर्ताव कॉन्फ़िगर करें... चुनकर कर सकते हैं.

· यदि आप डिफ़ॉल्ट पूर्णता मोड को पसंद नहीं करते हैं (जैसे कि कॉन्करर में), आप विजेट संपादित करें में दायाँ क्लिक करके एक भिन्न मोड चुन सकते हैं जैसे कि स्वचालित या हस्तचालित पूर्णता. हस्तचालित पूर्णता ठीक उसी तरह काम करता है. जैसे कि यूनिक्स शैल में शब्द पूर्णता काम करता है. इसे चालू करने के लिए कंट्रोल+E का प्रयोग करें.

· यदि आप अपनी स्वयं की दिन की युक्ति , जमा करना चाहते हैं तो कृपया उन्हें यहाँ भेजें- kde-doc-english@kde.org

· अगर आप कॉन्करर या डेस्कटॉप से कोई फ़ाइल खींच कर कंसोल में ले जाएंगे तो आपको यूआरएल चिपकाने या उस फ़ोल्डर को दाखिल करने का विकल्प मिलेगा. जो आपको चाहिए वह चुनें ताकि आपको टर्मिनल विंडो में पूरा पथ न लिखना पड़े.

· आप अपने स्वयं के वेब शॉर्टकट कॉन्करर में जोड़ सकते हैं. इसके लिए सेटिंग्स->कॉन्करर कॉन्फ़िगर करें->वेब शॉर्टकट चुनें. फिर नया... पर क्लिक करें तथा फ़ील्ड को पूरा करें.

· आगे के निर्देशों तथा उन्नत विशेषताओं के विवरणों लिए जो वेब शॉर्टकट में उपलब्ध हैं, देखें कॉन्करर हैण्डबुक.

साभार :- माइकल लैचमेन तथा थॉमस डाइहल

· हर यूनिक्स उपयोक्ता के पास एक घर फ़ोल्डर होता है, जिसमें उसकी अपनी फ़ाइलें तो होती ही हैं, उपयोक्तानुसार कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइलें भी सुरक्षित रखी जाती हैं. यदि आप कंसोल विंडो में काम कर रहे हैं तो बिना किसी पैरामीटर के cd कमांड चलाने पर आप अपने घर फ़ोल्डर में जा सकते हैं.

· आपको आश्चर्य होगा कि यहाँ, यूनिक्स तंत्र पर बहुत ही कम ऐसी फ़ाइलें हैं जिनका अंत .exe या .bat से होता है ऐसा इसलिए है कि यूनिक्स तंत्र में किसी फ़ाइल का कोई निश्चित एक्सटेंशन होना आवश्यक कतई नहीं है. चलाने योग्य फ़ाइलों को केडीई में कॉन्करर में गरारी प्रतीक द्वारा प्रदर्शित किया जाता है तथा कंसोल में लाल रंग में दिखाए जाते हैं (यह आपके तय किए गए विन्यास पर भी निर्भर करता है, जिसे आप बदल सकते हैं).

· यदि आप चाहते हैं कि आपका डेस्कटॉप ज्यादा आकर्षक दिखाई दे, आप अतिरिक्त प्रसंग, विजेट शैलियाँ, विंडो सजावट तथा और भी बहुत कुछ यहां kde-look.org से प्राप्त कर सकते हैं.

· क्या आप जानते हैं कि आप अपने माउस के मध्य बटन का इस्तेमाल पाठ चिपकाने के लिए कर सकते हैं? अपने माउस के बाएँ बटन से कुछ पाठ चुनें व माउस के मध्य बटन से इसे अन्यत्र कहीं चिपकाने की कोशिश करें. चयनित पाठ क्लिक किए स्थान पर चिपक जाएगा. यह भिन्न-भिन्न प्रोग्रामों के बीच भी काम करता है.

· यदि आप स्क्रीन पर दूरी को नापना चाहते हैं तो इसके लिए प्रोग्रामके-रूलर बहुत उपयोगी है.

· इसके अलावा, यदि आप स्केल के सिंगल पिक्सेल को गिनना चाहते हैं तो इसके लिए, के-मैग बहुत उपयोगी होगा. (ये केडीई बेस स्थापना का भाग नहीं है अत: इन्हें अलग से स्थापित करना होगा और हो सकता है कि आपके वितरण में यह शामिल हो भी और नहीं भी) के-मैग ठीक एक्स-मैग की तरह काम करता है, अंतर बस यह है कि यह बढ़िया काम करता है.

सौजन्य: जेस्पर पेडरसन

  • आप केडीई इवेंट के साथ ध्वनियों, पॉपअप विंडो तथा और भी बहुत कुछ को सम्बद्ध कर सकते हैं. इसे तंत्र विन्यास में सूचनाएँ चुन कर कॉन्फ़िगर किया जा सकता है.

· केडीई पूर्णतः नेटवर्क पारदर्शी वातावरण प्रदान करता है : आप किसी भी केडीई अनुप्रयोग में नेटवर्क के यूआरएल का प्रयोग कर सकते हैं. उदाहरण के लिए, आप कोई यूआरएल जैसा कि ftp://www.server.com/myfile केराइट के फ़ाइल ओपन संवाद में भर सकते हैं तथा केराइट इसे आपके लिए खोल देगा तथा बाद में जब आप इसके 'सहेजें' बटन पर क्लिक करेंगे तो यह इसे वापस एफटीपी सर्वर पर सहेज देगा

· आप कॉन्करर का प्रयोग अपनी फ़ाइलों को एक्सेस करने के लिए कर सकते हैं जो किसी भी सर्वर पर एसएसएच एक्सेस प्रदान करता है. इसके लिए कॉन्करर के स्थान पट्टी पर यह भरें fish://उपयोक्ता नाम@होस्टनाम .

· वस्तुतः सभी केडीई अनुप्रयोग fish:// यूआरएल कमांड समर्थित करते हैं- ऐसा कोई एक आजमा कर देखें - केराइट के खोलें संवाद में.

· केमेल - केडीई के ईमेल क्लाएंट में बहुत से लोकप्रिय स्पैम फ़िल्टर करने वाले अनुप्रयोगों का अंतर्निर्मित समर्थन है. केमेल में स्वचालित स्पैम फ़िल्टर करने के लिए, अपने मनपसंद स्पैम फ़िल्टर को जैसा कि आप पसंद करते हैं कॉन्फ़िगर करें फिर केमेल में औजार->एंटी-स्पैम विजार्ड में जाएँ. अधिक जानकारी के लिए केमेल हैण्डबुक एंटी-स्पैम विजार्ड अध्याय देखें.

· आप किसी विंडो को उसके शीर्षक पट्टी पर मध्य माउस बटन से क्लिक कर अन्य विंडो के नीचे भेज सकते हैं.

· केडीई अनुप्रयोगों में आपको यह क्या है? मदद पाठ सुविधाएँ मिलती हैं. विंडो शीर्षक पट्टी में प्रश्न वाचक चिह्न को क्लिक करें तथा उस वस्तु पर क्लिक करें जिसके लिए आपको मदद चाहिये. (कुछ प्रसंगों में, यह बटन प्रश्नवाचक चिह्न के बजाए अंग्रेजी का लोअरकेस i होता है).

· केडीई में बहुत से विविध विंडो फ़ोकस मोड का समर्थन है: इसके लिए विंडो बर्ताव में तंत्र विन्यास में देखें. उदाहरण के लिए, यदि आप माउस का प्रयोग ज्यादा करते हैं तो आप फ़ोकस माउस को फ़ॉलो करता है विन्यास पसंद कर सकते हैं.

· जाल पृष्ठों को कॉन्करर लगातार ऊपर या नीचे स्क्रॉल करता रह सकता है: इसके लिए शिफ़्ट+ऊपर तीर या शिफ़्ट+नीचे तीर कुंजियों को दबाएँ. गति को बढ़ाने के लिए इन्हीं कुंजी संयोजन को फिर से दबाएँ या स्क्रॉलिंग रोकने के लिए कोई भी अन्य कुंजी दबाएँ.

· आप कॉन्करर के help:/ kioslave का प्रयोग आसान तथा त्वरित तरीके से अनुप्रयोगों के हैण्डबुक को देखने के लिए कर सकते हैं. इसके लिए आपको कॉन्करर के स्थान पट्टी में सिर्फ help:/, तथाउसके बाद अनुप्रयोग नाम लिखना होगा. उदाहरण के लिए, केराइट के हैण्डबुक को देखने के लिए टाइप करें: help:/kwrite.

· कॉन्करर की वेब शॉर्टकट विशेषता आपको किसी क्वैरी को सीधे सर्च इंजिनों में जमा करने देता है वेब साइटों में जाए बिना ही उदाहरण के लिए, स्थान पट्टी में gg:कॉन्करर प्रविष्ट करने व एंटर कुंजी दबाने से यह कॉन्करर से संबंधित वस्तुओं के लिए गूगल पर ढूंढेगा.

· यह देखने के लिए कि और भी कौन से वेब शॉर्टकट आपके लिए उपलब्ध हैं या अपने स्वयं के वेब शॉर्टकट कॉन्करर में बनाने के लिए,चुनें विन्यास->कॉन्करर कॉन्फ़िगर करें... जिससे विन्यास संवाद बक्सा खुलेगा फिर उसमें वेब शॉर्टकट प्रतीक को क्लिक करें.

· केडीई की एक्सेसिबिलिटी को उन्नत बनाने के लिए हमेशा प्रयास किए जाते हैं तथा केटीटीएस (केडीई पाठ से वार्ता) को जारी करने के साथ ही आपके पास पाठों को सुनने लायक वार्ता में बदलने की शक्ति आ चुकी है. फेस्टिवल के जरिए हिन्दी पाठ को भी सुना जा सकता है.

· केटीटीएस में लगातार सुधार हो रहा है तथा वर्तमान में यह पाठ फ़ाइलों के सभी या आंशिक भाग को पढ़कर सुना सकता है (जैसा कि केएटीई में दिखाई देता है), साथ ही कॉन्ककर केएचटीएमएल पृष्ठों, केडीई क्लिपबोर्ड के पाठ तथा केडीई सूचनाएँ (केनोटिफ़ाई) को भी बोलकर बताता है.

· केटीटीएस तंत्र को प्रारंभ करने के लिए आप या तो केडीई मेन्यू में केटीटीएस चुनें या कमांड चलाने के लिए आल्ट+F2 कुंजियाँ दबाएँ तथा kttsmgr टाइप करें. केटीटीएसके बारे में अधिक जानकारी के लिए देखें केटीटीएसडी हैण्डबुक.

· हालांकि केडीई बहुत ही सुव्यवस्थित डेस्कटॉप वातावरण है, कुछ प्रोग्राम यदा कदा फ्रीज हो सकते हैं या क्रैश हो सकते हैं खासकर तब जब आप किसी प्रोग्राम का डेवलपमेंट संस्करण चला रहे होते हैं या कोई तीसरी पार्टी का प्रोग्राम चला रहे होते हैं. ऐसी स्थिति में आप ऐसे प्रोग्रामों को जबरदस्ती बंद कर सकते हैं यदि आवश्यक हो तो.

· कंट्रोल+ऑल्ट+एस्केप को दबाने पर खोपड़ी व हड्डी का खतरा चिह्न युक्त माउस संकेतक प्रकट होगा और इसके द्वारा आप किसी फ़्रीज प्रोग्राम के विंडो पर क्लिक करेंगे तो वह प्रोग्राम स्वचालित, तुरंत बन्द हो जाएगा. परंतु टीप लें कि यह किसी प्रोग्राम को बन्द करने का बेहद गंदा तरीका है क्योंकि इस तरीके से प्रोग्रामों को बन्द करने पर आपका डाटा गुम हो सकता है तथा कुछ पार्टनर प्रक्रियाएँ अब भी चलती रह सकती हैं. इसका प्रयोग अंतिम हथियार के रूप में ही किया जाना चाहिए.

· केमेल केडीई का ईमेल क्लाएंट है परंतु क्या आपको पता है कि आप इसे अन्य प्रोग्रामों के साथ जोड़ सकते हैं? कॉन्टेक्ट को व्यक्तिगत सूचना प्रबंधन सूट के रूप में बनाया गया है तथा यह केमेल के सभी अवयवों के साथ पूरी तरह जुड़ सकता है.

· कॉन्टेक्ट के साथ अन्य प्रोग्राम जुड़ सकते हैं वे हैं केएड्रेसबुक (संपर्कों का प्रबंधन करने के लिए), केनोट्स (नोट लिख रखने के लिए), केनोड (ताजा समाचारों से अद्यतन रहने के लिए), तथा केऑर्गेनाइजर (एक संपूर्ण कैलेण्डर के लिए).

· कॉन्करर में F4 कुंजी दबाने पर आप अपने वर्तमान स्थान में टर्मिनल खोल सकते हैं.

· हालांकि केडीई आपके उन केडीई अनुप्रयोगों को स्वचालित रूप से बहाल कर सकता है जिन्हें आपने लागआउट करते समय चलते हुए छोड़ रखा था, मगर आप केडीई को विशेष रूप से विशिष्ट अनुप्रयोगों को लॉगिन के समय प्रारंभ में ही प्रारंभ करने के लिए सेट कर सकते हैं अधिक जानकारी के लिए बारंबार पूछे जाने वाले प्रश्न प्रविष्टि देखें.

· आप केडीई के व्यक्तिगत सूचना प्रबंधन सूट प्रोग्राम कॉन्टेक्ट को केडीई के इंस्टैंट मैसेंजर क्लाएंट केऑप्टी के साथ जोड़ सकते हैं. इससे आप सम्पर्कों के ऑनलाइन स्थिति को देख सकते हैं तथा उन्हें आसानी से केमेल के भीतर से ही प्रतिक्रिया दे सकते हैं. चरण दर चरण गाइड के लिए, देखें केडीई उपयोक्ता गाइड.

· कंसोल में kmail --composer प्रविष्ट कर आप सिर्फ केमेल के कंपोजर विंडो को ही खोल सकते हैं और आपको पूरा ईमेल क्लाएंट खोलने की आवश्यकता नहीं होती यदि आप किसी को सिर्फ ईमेल लिखकर भेजना चाह रहे हों.

· कॉन्करर में टैब्ड ब्राउजिंग बहुत ही उपयोगी है, आप इसे और भी उपयोगी बना सकते हैं यदि आप विभाजित दृश्य चुनते हैं ताकि आप दो स्थानों को एक ही समय में देख सकें. इस विशेषता के लिए अपनी पसंद के अनुसार कॉन्करर में चुनें विंडो->विभाजित दृश्य, या तो ऊपर/नीचे या फिर बायाँ/दायाँ. यह विन्यास किसी खास टैब पर लागू होगा, न कि सारे टैब्स पर जिन्हें आपने खोल रखे हैं ताकि आप किन्हीं खास टैब्स जिन्हें आप समझते हैं कि उपयोगी होंगे, में विभाजित दृश्य लागू कर सकें.

· न्यूम-लॉक को केडीई के प्रारंभ होने पर चालू या बन्द होने के लिए सेट किया जा सकता है. इसके लिए तंत्र विन्यास खोलें, फिर चुनें कुंजीपट व माउस फिर अपने पसंद का चुनाव करें.

· केडीई छपाई प्रबंधक पर तत्काल पहुँचने के लिए टाइप करें- print:/manager ... कहाँ टाइप करें?, आप पूछ सकते हैं. इनमें से कहीं भी......या तो कॉन्करर के पता फील्ड में, या टर्मिनल में.

· केडीई-प्रिंटिंग (I)

· के-प्रिंटर, केडीई का नया छपाई यूटिलिटी विभिन्न छपाई उप-तंत्र समर्थित करता है. ये उप-तंत्र अपनी क्षमताओं में खासी भिन्नताएँ रखते हैं. समर्थित तंत्रों में हैं:

  • CUPS, नया सामान्य यूनिक्स छपाई तंत्र;
  • LPR/LPD, पारंपरिक बीएसडी शैली छपाई;
  • RLPR (नेटवर्क प्रिंटर उपयोग के लिए printcap संपादन या रूट विशेषाधिकार आवश्यक नहीं.
  • जब बाहरी प्रोग्राम के द्वारा छपाई (ज़ेनेरिक) की जानी हो.

· केडीई डेस्कटॉप पर आप केडीई के अलावा दूसरे अनुप्रयोगों को आराम से चला सकते हैं. इन्हें मेन्यू में सम्मिलित भी किया जा सकता है. केडीई का प्रोग्राम KAppfinder ज्ञात अनुप्रयोगों के लिए ढूंढता है तथा उन्हें मेन्यू में सम्मिलित करता है.

· आप डेस्कटॉप की पृष्ठभूमि को फटाफट बदलने के लिए छवियों को कॉन्करर विंडो से खींच कर डेस्कटॉप पृष्ठभूमि में ला सकते हैं.

· डेस्कटॉप की पृष्ठभूमि का रंग बदलने के लिए किसी भी अनुप्रयोग के रंग चयनक से रंग खींच कर डेस्कटॉप पृष्ठभूमि में लाएँ

· अपने फलक पर अतिरिक्त ऐप्लेट डालने के लिए फलक मेन्यू->जोड़ें->ऐप्लेट चुनें जो के-मेन्यू पर मौजूद है.

· दुनिया के किसी भी कोने में बैठे अपने मित्रों या व्यावसायिक सहयोगियों का स्थानीय समय जानना चाहेंगे?इसके लिए फलक घड़ी पर माउस के मध्य बटन को दबाएँ.

· गैर-केडीई अनुप्रयोगों में केडीई जैसी मुद्रण शक्ति चाहिए? तो प्रिंट कमांड के तौर पर 'kprinter' इस्तेमाल कीजिए. आप देखेंगे कि यह नेटस्केप, मोज़िला, गैलियन, घोस्टव्यू, एक्रोबेट रीडर, स्टार-ऑफ़िस, ओपनऑफ़िस.ऑर्ग, या किसी भी गनोम अनुप्रयोग में बढ़िया काम करता है...अधिक विवरण के लिए देखें http://printing.kde.org जहाँ आपको अतिरिक्त संकेत मिलेंगे...

केडीई कमांड पंक्ति छपाई (II)

आप चाहें तो आदेश पंक्ति से किसी छपाई की फ़ाइल या मुद्रक को निर्देशित कर सकते हैं:

उदाहरण –


kprinter -d infotec


  "   /home/kurt/paragliding.jpg


  "   ../kdeprint-handbook.pdf 


  "   /opt/kde3/flyer.ps


इससे प्रिंटर infotec के जरिये (विविध फ़ोल्डरों से) तीन अलग अलग फ़ाइलें छापी जा सकती हैं .



सौजन्य: कर्त फ़ीफ़ल



· पेनल पर शिफ़्ट बटन को दबाकर किसी कंटेनर (जैसे कि बटन या ऐपलेट को) को आगे पीछे करने पर अन्य कंटेनर को आगे पीछे किया जा सकता है.

टिप्पणियाँ

विशाल लाइब्रेरी में से पढ़ें >

अधिक दिखाएं

---------------

छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें.

इंटरनेट पर हिंदी साहित्य का खजाना:

इंटरनेट की पहली यूनिकोडित हिंदी की सर्वाधिक प्रसारित व लोकप्रिय ईपत्रिका में पढ़ें 10,000 से भी अधिक साहित्यिक रचनाएँ

हिन्दी कम्प्यूटिंग के लिए काम की ढेरों कड़ियाँ - यहाँ क्लिक करें!

.  Subscribe in a reader

इस ब्लॉग की नई पोस्टें अपने ईमेल में प्राप्त करने हेतु अपना ईमेल पता नीचे भरें:

FeedBurner द्वारा प्रेषित

ऑनलाइन हिन्दी वर्ग पहेली खेलें

***

Google+ Followers

फ़ेसबुक में पसंद करें